Submit your post

Follow Us

रूसी पहलवान ने फाइनल में कैसे छीना रवि से गोल्ड मेडल?

कुश्ती के 57kg वर्ग में भारत के लिए एक और खुशखबरी आई है. टोक्यो ओलंपिक्स 2020 में भारतीय पहलवान रवि कुमार दहिया ने फाइनल मुकाबले में सिल्वर मेडल जीत इतिहास रचा है. फाइनल मुकाबले में रवि ने रूस के पहलवान को कड़ी टक्कर दी लेकिन वो इस मुकाबले को जीत नहीं पाए. इस मेडल के साथ भारतीय टीम ने टोक्यो ओलंपिक्स में पांच मेडल अपनी झोली में डाल लिए हैं.

रवि कुमार का फाइनल्स में मुकाबला रूस के पहलवान जावूर उगेव से था. इस मुकाबले में जावूर ने 4-7 से भारतीय हीरो को हराया. रवि ने इस मैच में तगड़ी फाइट दिखाई लेकिन वे दो बार के वर्ल्ड चैंपियन जावूर को मात नहीं दे पाए. रवि मैच के अंतिम मिनट तक लड़े लेकिन फाइनल्स में उनकी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया.

फाइनल मुकाबले में रूस के पहलवान का डिफेंस इतना मजबूत था कि दो बार के एशियाई खेलों के चैंपियन रवि कई प्रयासों के बाद भी उनसे पॉइंट नहीं ले पाए.

मुकाबला किस तरह से घटा:

मैच की बात करें तो मैच बिलकुल वैसा ही हुआ जैसा एक तगड़ा फाइनल फैंस देखना चाहते हैं. मैच के शुरुआती मिनटों से लेकर आखिर तक दोनों ही पहलवान आक्रामक कुश्ती खेलते नज़र आए. रवि कुमार के लिए शुरुआत अच्छी नहीं रही. रूस के रेसलर ने मैच के पहले 15 सेकेंड्स में ही रवि कुमार को स्टैंडिंग पोजीशन से मैट के बाहर धकेल अपना पहला पॉइंट ले लिया. उसके कुछ सेकेंड्स बाद ही जावूर ने फिर वही किया और मैच में 2-0 से आगे हो गए. इसके बाद रवि कुमार ने वापसी की और रूसी पहलवान को टेकडाउन करते हुए पॉइंट लेकर मैच में बराबरी कर ली.

लेकिन रवि की वापसी के बाद भी रूसी पहलवान नहीं रुके. जावूर ने रवि का दांव रवि पर ही लगा दिया और फिर से मैच में आगे हो गए. तीन मिनट के पहले राउंड के बाद जावूर 4-2 से मैच में आगे थे.

दूसरे राउंड में जावूर ने एक बार फिर रवि को बाहर धकेल एक और पॉइंट अपने नाम किया. उसके बाद उन्होंने रवि को एक और पीछे से पकड़ कर मैट पर गिरा दिया और 2 पॉइंट ले लिए. वे मैच में 7-2 से आगे हो गए. रवि लगातार दांव लगाने की कोशिश कर रहे थे लेकिन रूसी पहलवान का डिफेंस बेहद अच्छा था. जैसे-जैसे टाइम घट रहा था रवि की परेशानी बढ़ती जा रही थी. मैच के अंतिम समय में आकर रवि ने एक बार फिर टेकडाउन के जरिये दो पॉइंट लिए. लेकिन उसके बाद रूस के जावूर उगेव ने उन्हें और कोई पॉइंट हासल नहीं करने दिया और मैच को 7-4 से जीत लिया.

दीपक पूनिया ने गंवाया मेडल:

रवि के अलावा दीपक पूनिया के ब्रॉन्ज़ मेडल मैच की बात करें तो दीपक मेडल जीतने से चूक गए. दीपक पूनिया को 86kg वर्ग में सेन मरीनो के पहलवान नाज़िम मेलेस ने 3-1 से हराया. दीपक मैच के अंतिम सेकेंड्स तक मैच में आगे चल रहे थे और ब्रॉन्ज़ मेडल जीतने के बेहद करीब थे. लेकिन सेन मरीनो के पहलवान ने आखिरी 10 सेकेंड्स में मैच को पूरी तरह से पलट दिया.

दीपक ने मैच की शुरुआत बेहद तगड़े अंदाज में की. उन्होंने पहले ही राउंड में सेन मरीनो के पहलवान को मैट पर टेकडाउन करते हुए दो पॉइंट हासिल किये. और मैच में 2-0 से लीड में आ गए. पहले राउंड के खत्म होने से पहले मेलेस ने भी एक पॉइंट अर्जित किया और हाफ टाइम तक मैच को 2-1 पर ले आए.

दूसरे राउंड में दीपक ने अपनी लीड को बनाए रखा लेकिन अंत में आकर सैन मरीनो के रेसलर ने एक दांव से पूरा का पूरा मैच पलट दिया. उन्होंने दीपक को टेकडाउन कर 2 पॉइंट ले लिए और मैच को अंतिम लम्हों में 4-2 से जीत लिया.


 

इस स्टोर को लिखा है हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहे प्रवीण नेहरा ने.


टोक्यो ओलंपिक: बॉक्सर लवलीना बोर्गोहेन का सेमीफ़ाइनल में रिजल्ट क्या रहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

BharatPe के लीगल नोटिस और अशनीर ग्रोवर के 'गाली' वाले ऑडियो पर क्या बोला Kotak?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"