Submit your post

Follow Us

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या और उसे बैरिकेड्स से लटकाने के मामले में संयुक्त किसान मोर्चा के नेता बलबीर सिंह ने इंडिया टुडे से बातचीत में  कहा था कि इस घटना के पीछे निहंग समूह का हाथ है. अब संगठन ने आधिकारिक बयान जारी किया है. बयान में कहा गया है कि जान गंवाने वाले युवक और निहंग समूह से उनका कोई संबंध नहीं है. वे इस पूरे मामले की जांच और क़ानून के मुताबिक़ दोषियों को सज़ा की मांग करते हैं.

क्या है बयान में?

संयुक्त किसान मोर्चा ने का कहना है कि सिंघु बॉर्डर पर लखबीर सिंह नाम के व्यक्ति की हत्या के लिए घटनास्थल के एक निहंग समूह ने जिम्मेवारी ली है. कहा है कि ऐसा उस व्यक्ति द्वारा सरबलोह ग्रंथ की बेअदबी करने के कारण किया गया. बयान में यह भी बताया गया है कि मृतक उसी समूह के साथ पिछले कुछ समय से रह रहा था.

“संयुक्त किसान मोर्चा इस नृशंस हत्या की निंदा करते हुए यह स्पष्ट कर देना चाहता है कि इस घटना के दोनों पक्षों, इस निहंग समूह या मृतक व्यक्ति, का संयुक्त किसान मोर्चा से कोई संबंध नहीं है. हम किसी भी धार्मिक ग्रंथ या प्रतीक की बेअदबी के ख़िलाफ़ हैं, लेकिन इस आधार पर किसी भी व्यक्ति या समूह को कानून अपने हाथ में लेने की इजाज़त नहीं है. हम यह मांग करते हैं कि इस हत्या और बेअदबी के षड़यंत्र के आरोप की जांच कर दोषियों को क़ानून के मुताबिक़ सजा दी जाए.”

बयान में संगठन ने आगे कहा कि किसी भी क़ानून सम्मत कार्रवाई में पुलिस और प्रशासन को का सहयोग करेंगे. आधिकारिक बयान के आखिरी में एसकेएम ने कहा,

“लोकतांत्रिक और शांतिमय तरीक़े से चला यह आंदोलन किसी भी हिंसा का विरोध करता है.”

हत्या पर टिकैत क्या बोले?

इस मामले में किसान नेता राकेश टिकैत ने भी एक बयान दिया है. आजतक से बात करते हुए टिकैत ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा ने पहले ही बयान जारी करके यह स्पष्ट कर दिया है कि दोनों पक्षों से हमारा कोई संबंध नहीं था. अब इसके आगे पुलिस और प्रशासन अपनी जांच कर रही है.

निहंग समूह द्वारा बनाए वायरल वीडियो के संबंध में उन्होंने कहा,

“हत्या हुई, नहीं होनी चाहिए थी. ग़लत हुआ. जिसको भी पता है की हत्या किसने की है, वो सरकारी गवाह बने और पुलिस को बता दे. ना हम थे वहां, ना आप थे! क़ानून इसकी जांच करेगा. प्रशासन लगा हुआ है.”

लखबीर सिंह, पंजाब के ज़िला तरनतारन के चीमा कला गांव के रहने वाले थे. पुलिस ने पुष्टि की है कि लखबीर, अनुसूचित जाति से थे और किसी भी तरीक़े की अपराधिक या राजनीतिक पृष्ठभूमि से ताल्लुक़ नहीं रखते थे. गांव में उनकी पत्नी और 3 बच्चे हैं.

हरियाणा पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.


ललितपुर में नाबालिग ने लगाया परिवारवालों और सपा-बसपा के नेताओं पर गैंगरेप का आरोप-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

मुंबई इंडियंस को दोबारा ऐसे हराएंगे केएल राहुल?

मुंबई इंडियंस को दोबारा ऐसे हराएंगे केएल राहुल?

क़िस्सा राहुल के कमाल का.

फॉर्म वापसी के लिए अब किसकी शरण में पहुंचे विराट कोहली?

फॉर्म वापसी के लिए अब किसकी शरण में पहुंचे विराट कोहली?

ऐसे दिखेगा पुराना वाला कोहली.

विराट कोहली को पांच बार बीच मैदान हताश करने वाले बोलर!

विराट कोहली को पांच बार बीच मैदान हताश करने वाले बोलर!

लगातार 'गोल्डन डक' का शिकार हुए किंग कोहली.

AAP नेता आतिशी ने कहा, केंद्र सरकार ने दिया दिल्ली में मंदिर गिराने का आदेश

AAP नेता आतिशी ने कहा, केंद्र सरकार ने दिया दिल्ली में मंदिर गिराने का आदेश

आतिशी ने सोशल मीडिया पर केंद्र सरकार का कथित नोटिस शेयर किया है.

क्लासिक फिल्मों को रीस्टोर कर सबको दिखाएंगे लेजेंडरी फिल्म मेकर मार्टिन स्कॉर्सेसी

क्लासिक फिल्मों को रीस्टोर कर सबको दिखाएंगे लेजेंडरी फिल्म मेकर मार्टिन स्कॉर्सेसी

मार्टिन को अच्छी फिल्में संजोना पसंद है.

I&B मिनिस्ट्री ने चैनलों से कहा- भड़काऊ कवरेज से बचें, सांप्रदायिक हिंसा भड़क सकती है

I&B मिनिस्ट्री ने चैनलों से कहा- भड़काऊ कवरेज से बचें, सांप्रदायिक हिंसा भड़क सकती है

मंत्रालय ने रूस-यूक्रेन युद्ध पर सनसनीखेज कवरेज से बचने के लिए भी कहा है.

शताब्दी में दिया गया 'इस्लामिक राज में हिंदुओ के नरसंहार' की बात वाला अखबार, IRCTC ने दी सफाई

शताब्दी में दिया गया 'इस्लामिक राज में हिंदुओ के नरसंहार' की बात वाला अखबार, IRCTC ने दी सफाई

इस अखबार को लेकर कई यात्रियों ने आपत्ति जताई.

महाराष्ट्र: CM के घर के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने पर अड़ी थीं सांसद नवनीत राणा, पुलिस ले गई!

महाराष्ट्र: CM के घर के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने पर अड़ी थीं सांसद नवनीत राणा, पुलिस ले गई!

नवनीत राणा ने कहा, महाराष्ट्र के हालात पश्चिम बंगाल जैसे हो रहे हैं.

CBSE ने दसवीं की किताब से हटाईं फैज की नज्में, 11वीं से 'इस्लाम के उदय' चैप्टर को हटाया!

CBSE ने दसवीं की किताब से हटाईं फैज की नज्में, 11वीं से 'इस्लाम के उदय' चैप्टर को हटाया!

धर्म की राजनीति से जुड़ी थीं फैज की नज्में.

राजस्थान: अलवर प्रशासन ने क्या वजह बता तोड़े गए मंदिरों को फिर बनाने की बात कही?

राजस्थान: अलवर प्रशासन ने क्या वजह बता तोड़े गए मंदिरों को फिर बनाने की बात कही?

मंदिरों पर चले बुलडोजर को लेकर खूब राजनीति हो रही है.