Submit your post

Follow Us

सैफ अली खान ने सुशांत सिंह राजपूत के लिए बॉलीवुड में उमड़े 'प्यार' पर बड़ी बात बोल दी है

सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड कर लिया. लोग-बाग शॉक्ड हैं. उनके मानसिक तनाव को लेकर भी तमाम बातें की जा रही हैं. लेकिन फिल्म इंडस्ट्री में सुशांत के लिए अचानक उमड़े प्यार को लेकर सैफ अली खान का नजरिया अलग है. उन्हें लगता है कि इस तरह के ‘पाखंड’ से उचित होता कि लोग एक दिन का मौन रख लेते.

‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ को दिये एक इंटरव्यू में सैफ ने इस मुद्दे पर खुलकर बात की है. सैफ ने इस खबर को ‘भयानक’ कहा. लेकिन इसके बाद लोगों की ‘बकवास’ बातों पर निशाना साधा. सैफ ने कहा,

ऐसे बहुत से लोग हैं, जिन्होंने जल्दबाजी में कमेंट कर दिया है. मुझे लगता है कि लोग कहीं न कहीं इस त्रासदी से माइलेज ले रहे हैं. मुझे लगता है, चाहे यह करुणा दिखाने के लिए हो या इंट्रेस्ट दिखाने के लिए या पॉलिटिकल स्टैंड दिखाने के लिए, सोशल मीडिया पर नॉनस्टॉप बहुत से लोग बकवास कर रहे हैं. यह शर्मनाक है. सुशांत के प्रति सम्मान दिखाने के लिए एक दिन का मौन या एक बार अपने अंदर झांकना बेहतर होता. मेरा मतलब है, हम किसी की परवाह नहीं करते हैं. यह कहना कि आप परवाह करते हैं, एक पाखंड है और मुझे लगता है कि ये मृतक का अपमान है. उस आत्मा का अपमान, जो अब जा चुकी है.

सैफ ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री काफी प्रतिस्पर्धी. उन्होंने कहा कि लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर लंबी पोस्ट लिखी गई, लेकिन रियल लाइफ में लोग उतना प्यार और करुणा नहीं दिखा पाते. उन्होंने कहा,

हम एक ऐसे युग में रहते हैं, जहां लोग ट्विटर पर आपके लिए 10 लाइन लिखते हैं और सड़क पर आपके बगल से गुजरते हैं, लेकिन आपसे हाथ भी नहीं मिलाते. आप जानते हैं, आपको जन्मदिन की बधाइयां मिलेंगी, लेकिन लोग आपको फोन नहीं करेंगे.

फिल्म इंडस्ट्री के ‘बड़े लोगों’ ने सुशांत को फेल कर दिया, इस तरह की बात भी चल रही है. कंगना रनौत ने अपना वीडियो पोस्ट किया है और इस पर खुलकर बोला है. फिल्म निर्माता शेखर कपूर सहित कई अन्य लोगों ने भी सुशांत की मौत के बाद ऐसा ही ट्वीट किया था. लेकिन सैफ इन बातों से पूरी तरह सहमत नहीं हैं. सैफ ने कहा,

लोग लगातार एक-दूसरे को नाकाम कर रहे हैं. हर कोई उसके (सुशांत) के बारे में बात कर रहा है. मुझे लगता है कि उनके नाम का इस्तेमाल हो रहा है. इस समय कोई स्टैंड लेने की बजाय मैं यही कहूंगा कि उसके पास इसके अलावा कोई रास्ता नहीं था.

फिल्मी कुनबे के होने से एक्टिंग करियर पर पड़ने वाले असर के सवाल पर सैफ ने कहा,

अभी इस पर कुछ कहना गलत हो सकता है. मेरा मतलब है कि आप कह सकते हैं, सुन सकते हैं. जो हुआ, वह बहुत बुरा है. उसे सिर्फ एक ही रास्ता दिखा, यह काफी दुखी करता है. शायद वह अपने लाइफ में बाकी चीजों को लेकर परेशान था. शायद इसका फिल्मों से कोई लेना-देना नहीं है. यदि आप फिल्मों से आगे नहीं देख पा रहे हैं, तो आप अपनी फिल्मों पर ही सब कुछ छोड़ देगें.

सैफ की बेटी सारा अली खान भी इस खबर से काफी दुखी थीं. सारा ने ‘केदारनाथ’ में सुशांत के साथ अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत की थी. सारा और सुशांत को लेकर पूछे गए सवाल पर सैफ ने बताया,

वह उसे बहुत पसंद करती थी. वह उनके पर्सनालिटी से काफी प्रभावित थी. उसने मुझे बताया कि वह (सुशांत) बहुत बुद्धिमान था. वह ज्यां-पॉल सार्त्र और उनके दर्शन पर चर्चा कर सकता था. वह काफी फिट था, मेहनती था और एक अच्छा अभिनेता भी था.


वीडियो देखें: सुशांत सिंह राजपूत के ट्विटर और इंस्टाग्राम के बायो के पीछे की साइंस समझिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?