Submit your post

Follow Us

राजस्थान वाले ऑडियो टेप की ये सच्चाई सामने आ गई है!

राजस्थान का राजनीतिक बवाल जारी है. रिजॉर्ट-रिजॉर्ट चल रहा है. पिछले दिनों कथित तौर पर विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में कुछ ऑडियो टेप सामने आए थे. अब राजस्थान पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) का कहना है कि ये कथित ऑडियो टेप सही पाए गए हैं और इनमें किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की गई है.

‘आज तक’ की ख़बर के मुताबिक, SOG ने मजिस्ट्रेट कोर्ट में अर्जी लगाई है कि अब आगे की जांच के लिए बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा के आवाज़ के नमूनों की जांच ज़रूरी है. SOG के अनुसार, वायरल ऑडियो एफएसल जांच के लिए 28 जुलाई को भेजा गया था, जिसकी रिपोर्ट शुक्रवार, 31 जुलाई को आ गई है. SOG ने कोर्ट से कहा है कि नोटिस देने के बावजूद राजेंद्र सिंह और भंवर लाल शर्मा वॉयस सैंपलिंग के लिए नहीं आ रहे हैं इसलिए कोर्ट आदेश दे कि आगे की जांच के लिए वे अपना वॉयस सैंपल SOG को दें.

उधर कोर्ट में आरोपी संजय जैन ने आवाज़ के नमूने देने से यह कहते हुए मना कर दिया कि ये राजनीतिक मामला है और मुझे जांच एजेंसियों पर भरोसा नहीं है. आवाज़ के नमूने का गलत प्रयोग कर मुझे फंसाया जा सकता है. इस मामले में पहले ही दो आरोपी अशोक सिंह और भरत मलानी ने आवाज़ के नमूने देने से मना कर दिया था. कोर्ट ने इस पूरे मामले की तथ्यात्मक रिपोर्ट 4 अगस्त को मांगी है.

क्या है मामला

16 जुलाई की रात को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गुट की तरफ से तीन ऑडियो क्लिप जारी की गई थीं. इन ऑडियो में कुछ लोग हिंदी, अंग्रेजी और मारवाड़ी में बात करते सुनाई दिए थे. गहलोत गुट ने दावा किया कि इन क्लिप में सचिन पायलट गुट के कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा, विश्वेंद्र सिंह, केंद्रीय मंत्री-बीजेपी नेता गजेंद्र सिंह शेखावत और संजय जैन नाम के एक शख्स की आवाज़ें हैं. गहलोत गुट ने आरोप लगाया कि ये लोग राजस्थान सरकार को गिराने के लिए विधायकों से डील कर रहे हैं. इन ऑडियो क्लिप में कथित तौर पर पैसों की लेन-देन के बात हो रही है. राजस्थान पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप यानी एसओजी ने इस पर कार्रवाई शुरू की थी.


क्या राज्यपाल एक झटके में CM के फैसले पर पानी फेर सकता है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ईरान ने समुद्री डाकुओं को रिहा किया और 11 भारतीय नाविकों को तस्कर बताकर जेल में डाल दिया!

ढाई महीने हो गए, कहीं कोई खोज ख़बर नहीं.

सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ FIR दर्ज़ करवाई

सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर लिया था.

अयोध्या में 5 अगस्त के भूमि पूजन को लेकर क्या-क्या तैयारियां चल रही हैं

रामलला की पोशाक से लेकर अयोध्या में रंग-रोगन तक की सारी बातें.

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को हड़काया, दिल्ली दंगे में पिंजरा तोड़ पर ऐसी बयानबाज़ी क्यों?

पुलिस ने क्या जवाब दिया, वो भी देखिए.

जिस मेट्रो स्टेशन के नीचे दंगे हुए, 5 महीने बाद भी दिल्ली पुलिस ने वहां से CCTV फ़ुटेज नहीं निकाली!

कोर्ट ने कहा, 'पुलिस में अजीब-सी सुस्ती है वीडियो फ़ुटेज को लेकर'

मास्क बांटने के बहाने बच्चे को किडनैप किया, चार करोड़ मांगे, पुलिस ने 24 घंटे में पकड़ लिया

यूपी के गोंडा का मामला, पांच आरोपी भी गिरफ्तार.

चुनाव आयोग ने बीजेपी IT सेल से जुड़ी कंपनी से चुनावी कामधाम करवाया!

ये कम्पनी पूर्व महाराष्ट्र सरकार और दूसरे सरकारी विभागों का भी काम देख रही थी.

इंडिया में कोरोना की वैक्सीन का दाम पता चल गया है, लेकिन पैसे आपको नहीं देने होंगे!

क्या कहा बनाने वाले आदर पूनावाला ने?

बाइक चला रहे CJI बोबड़े पर ट्वीट करने पर twitter और वकील प्रशांत भूषण पर अवमानना का केस हो गया!

सुनवाई में ट्वीट डिलीट करने की बात पर कोर्ट ने क्या कहा?

जाटों-पंजाबियों को बिना बुद्धि का बोलकर माफ़ी मांगने लगे बीजेपी के सीएम

और कौन? वही त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब.