Submit your post

Follow Us

पीटरसन ने क्यों कहा- आसिफ पर बैन लगने से बहुत खुश हुए थे कई सारे बैट्समेन?

केविन पीटरसन उर्फ KP. इंग्लैंड के लिए खेल चुके महानतम बल्लेबाजों में से एक. एशेज से लेकर तमाम बड़े मैचों में इंग्लैंड को कई बार मैच जिताने वाले. पीटरसन ने अपनी बैटिंग से पूरी दुनिया को अपना दीवाना बनाया. लगभग सभी का मानना है कि पीटरसन का दिन होने पर कोई भी बोलर उनके आगे नहीं टिक पाता था.

लेकिन पीटरसन की मानें तो एक ऐसा बोलर था जिसने उन्हें काफी परेशान किया. पीटरसन ने इस बोलर के रूप में पाकिस्तान के मोहम्मद आसिफ का नाम लिया. उन्होंने हाल ही में स्वीकार किया कि आसिफ वह बोलर थे जिन्होंने पीटरसन को काफी परेशान किया. पीटरसन की मानें तो आसिफ के खिलाफ उन्हें कुछ पता ही नहीं होता था कि करना क्या है.

# नो आइडिया!

एक फैन ने आसिफ की बॉल पर आउट होते पीटरसन की एक पुरानी क्लिप शेयर की. उस क्लिप को कोट करते हुए पीटरसन ने लिखा,

‘मुझे लगता है कि दुनिया में कई ऐसे बल्लेबाज थे जो इसके बैन होने पर खुश हुए थे. मैंने जिनका सामना किया उनमें वह बेस्ट थे. उनके खिलाफ मुझे कुछ समझ ही नहीं आता था.’

आसिफ ने पीटरसन को टेस्ट और वनडे में दो-दो बार जबकि T20में एक बार आउट किया था. न सिर्फ पीटरसन बल्कि साउथ अफ्रीका के पूर्व कप्तान हाशिम अमला भी आसिफ की तारीफ कर चुके हैं. पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) टीम पेशावर ज़ाल्मी के साथ बात करते हुए अमला ने कहा था,

‘मैंने जिन बोलर्स का सामना किया है उनमें मोहम्मद आसिफ बेस्ट हैं. उनकी एक्यूरेसी कमाल की थी. नई गेंद के साथ वह दोनों तरफ स्विंग कराते थे और हर बॉल एक सवाल जैसी होती थी जो आपको आउट कर सकती थी. मेरे लिए वह कमाल के बोलर थे.’

आसिफ ने पाकिस्तान के लिए 23 टेस्ट, 38 वनडे और 11 T20 खेले थे. इन मैचों में उनके नाम 106, 46 और 13 विकेट्स थे. साल 2010 में हुए स्पॉट-फिक्सिंग स्कैंडल का दोषी पाए जाने के बाद आसिफ पर सात साल का बैन लगा था. इस बैन से उनका क्रिकेट करियर खत्म हो गया.


रिकी पॉन्टिंग ने बताया एंड्रयू फ्लिटॉफ के किस ओवर ने उन्हें सबसे ज्यादा परेशान किया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.

सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि किन लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट फ्री में होगा

प्राइवेट लैब भी नहीं ले सकेंगे इनसे पैसा.

PM CARES Fund पर लगातार उठ रहे सवाल, अब हिसाब-किताब की होगी जांच

वकील ने PM Cares फंड को रद्द करने की मांग की है.