Submit your post

Follow Us

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

दिल्ली दंगे. 46 लोगों की मौत हो चुकी है. 200 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं. चोट खाने वाले, अपनों को खोने वाले, अपना घर-दुकान खोने वाले लोगों में हिन्दू भी शामिल हैं, मुसलमान भी शामिल हैं. मदद की ज़रूरत सभी को है. बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने भी सोचा कि पीड़ितों की मदद के लिए कुछ किया जाए. कैम्पेन चलाकर 71 लाख जुटा लिये. लेकिन सिर्फ हिंदू परिवारों के लिए.

क्राउडकैश नाम की वेबसाइट. यहां पर कपिल मिश्रा ने कैम्पेन शुरू किया पैसे जुटाने का. लक्ष्य रखा 71 लाख रुपये का. कैम्पेन के अबाउट सेक्शन में लिखा :

“हम इस दंगे में प्रभावित लोगों की मदद करना चाहते हैं. इस कदम से हम इस दंगे से प्रभावित आर्थिक रूप से कमज़ोर हिन्दू परिवारों की मदद करना चाहते हैं.”

साथ में यह भी लिखा है कि अगर दंगों में ऐसे और परिवार मिलेंगे, तो हम 71 लाख की इस सीमा को बढ़ा सकते हैं. दावा है कि जुटाया गया पैसा दंगा प्रभावित हिन्दू परिवारों के खाते में सीधा ट्रांसफर कर दिया जाएगा.

Kapil Mishra Crowdfunding About
क्राउडफंडिंग का पेज, जहां साफ़ लिखा है कि किस लिए पैसा लिया जा रहा है

साफ़ लिखा है,

“ये कैम्पेन पूर्व विधायक कपिल मिश्रा जी के नेतृत्त्व में धार्मिक लोगों के एक समूह द्वारा मैनेज किया जा रहा है.”

फिर लिखा है,

“धर्मो रक्षति रक्षितः – आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा.”

71 लाख का लक्ष्य था. 71 लाख 496 रुपए जुट गए. कुल 3969 लोगों ने हिन्दू परिवारों को बचाने के लिए पैसे दिए, ऐसा भी लिखा हुआ है. 23 फरवरी रविवार को कपिल मिश्रा की धमकी के बाद दंगे भड़के थे. ठीक एक हफ्ते बाद 1 मार्च रविवार को कपिल मिश्रा ने दंगा पीड़ित हिन्दू परिवारों को बचाने के लिए ट्वीट भी किया.

हरिनगर सीट पर चुनाव हार गए तेजिंदर पाल बग्गा ने भी इस कैम्पेन का लिंक आगे बढ़ा दिया.

खुद कितना पैसा दिया कपिल मिश्रा ने?

जब कपिल मिश्रा ने लाखों रुपए का कैम्पेन चलाया तो खुद उन्होंने कितना डोनेट किया? ये भी तो सवाल उठता है. जवाब है ज़ीरो रुपया. खुद देखिये.

Kapil Mishra Crowdfunding Zero Contribution
क्राउडफंडिंग की वेबसाइट पर दिखा रहा है कि कपिल मिश्र ने खुद एक रुपया भी नहीं दिया.

कपिल मिश्रा पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं

कपिल मिश्रा पर दंगा भड़काने के आरोप हैं. साथ में केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर का नाम है. भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा का भी. दिल्ली हाईकोर्ट में इन तीनों नेताओं का नाम आया. कार्रवाई करने की सिफारिश हुई. जज का तबादला हुआ. मामला अभी कुछ हफ़्तों तक स्थगित है. अब तक भाजपा की ओर से कपिल मिश्रा पर कार्रवाई करने सरीखे कोई आसार नहीं दिख रहे हैं.


लल्लनटॉप वीडियो : दिल्ली हिंसा में मारे गए राहुल सोलंकी के पिता ने रोते हुए कहा- दंगे की आग कपिल मिश्रा ने भड़काई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

ईशांत शर्मा की चोट से राहुल द्रविड़ पर तलवार क्यों लटकी?

इस पूरे किस्से में बुमराह का भी रोल है.

राजस्थान के ये किसान कंधे तक ज़मीन के अंदर घुसकर धरना क्यों दे रहे हैं?

इसे किसानों ने ज़मीन समाधि सत्याग्रह नाम दिया है.

'बागी 3' के जिस डायलॉग पर टाइगर श्रॉफ सबसे ज्यादा ट्रोल हुए, उसपर उन्होंने क्या कहा?

'अगर मेरे भाई को कुछ हुआ, तो तुम्हारे देश को दुनिया के नक्शे से मिटा दूंगा'

स्टार किड ने बताया- फिल्म के बदले कास्टिंग काउच के ऑफर मिलते थे

मना करने पर बैन तक कर दिया गया.

पत्रकार ने ऐसा क्या पूछ लिया कि विराट कोहली गुस्से से लाल हो गए?

विराट की गाली पर रेफरी को कोई दिक्कत नहीं है.

न्यूज़ीलैंड में कौन रहा बेहतर बल्लेबाज़, शमी या विराट?

आंकड़े चौंकाने वाले है, जिन्हें विराट कभी देखना नहीं चाहेंगे.

इंडिया टूर के लिए साउथ अफ्रीका की टीम में वापसी करेंगे ये दो दिग्गज

तीन वनडे मैचों की सीरीज के लिए आ रही है साउथ अफ्रीकी टीम.

गुजरात: बेटे-बेटी की शादी से पहले साथ-साथ 'गायब' होने वाले समधी-समधन अब चर्चा में क्यों हैं?

पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है.

निर्भया गैंगरेप केस: चार दोषियों की फांसी पर एक बार फिर रोक लग गई है

3 मार्च को सुबह छह बजे होने वाली थी फांसी.

यामी गौतम ने बताया कि उन्होंने फैन को धकेल क्यों दिया था

गुवाहाटी एयरपोर्ट पर हुई घटना को लेकर यामी की खूब आलोचना हो रही है.