Submit your post

Follow Us

सिर्फ एक पैसेंजर के लिए चलती है जापान में ये ट्रेन

5
शेयर्स

उत्तरी जापान में एक होकैदो नाम का एक आइलैंड है. वहां पर है कमी-शिराताकी नाम का एक ट्रेन स्टेशन. अकेला, सुनसान. सालों बीत गए, इस स्टेशन पर कोई पैसेंजर नहीं चढ़ता. सिवा एक लड़की के. रोज एक ही समय आ कर प्लैटफॉर्म पर खड़ी हो जाती है. ट्रेन उसे ले जाती है. फिर छोड़ जाती है. दिन भर में सिर्फ दो ही बार ट्रेन रूकती है. सालों से एक ही पैसेंजर के लिए.

कमी-शिराताकी स्टेशन
कमी-शिराताकी स्टेशन

जी नहीं, किसी फिल्म का सीन नहीं है ये. न ही कहानी है. बल्कि जापान रेलवे का लिया हुआ फैसला है. स्टेशन की लोकेशन ऐसी जगह है जहां बहुत कम पॉपुलेशन रहती है. स्टेशन से बिलकुल भी रेवेन्यू नहीं आता था. तो सरकार ने फैसला लिया कि स्टेशन को बंद कर दिया जाएगा. फिर पता पड़ा कि एक बच्ची है जो रोज उस स्टेशन से स्कूल जाया करती है. बस रेलवे ने ये फैसला लिया कि जबतक बच्ची का स्कूल खत्म नहीं हो जाता, स्टेशन बंद नहीं किया जाएगा. ट्रेन का टाइम टेबल भी बच्ची के स्कूल के टाइम के हिसाब से बना दिया गया है.

Kamishirataki timetable JAPAN
स्टेशन के टाइम टेबल. दिन भर में बस दो ही बार यहां ट्रेन रूकती है. सोर्स: विकिपीडिया

जापान में जबसे नई तकनीक वाली ट्रेनें आयी हैं, पुरानी ट्रेनों से घाटे के अलावा कुछ नहीं मिलता. फिर भी सिर्फ एक बच्ची की पढ़ाई के लिए ट्रेन चलाकर जापान रेलवे ने ‘पब्लिक सर्विस’ की एक मिसाल कायम की है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

CAA पर हो रहे विरोध प्रदर्शन से निपटने के लिए भाजपा ने बड़ा प्लान बनाया है

22 दिसंबर को राजघाट पर कांग्रेस धरना देगी.

देखिए लल्लनटॉप क्विज़ शो का तीसरा सेमीफ़ाइनल सौरभ द्विवेदी के साथ

21 दिसंबर को रात 9 बजे लल्लनटॉप ऐप पर लाइव.

तोड़फोड़ करने वालों की संपत्ति जब्त करने की बात कर रहे हैं योगी, कानून क्या कहता है?

CAA के खिलाफ यूपी में प्रदर्शन के दौरान सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचा है.

हैदराबाद एनकाउंटर में मारे गए चारों आरोपियों का दोबारा पोस्टमार्टम होगा, जानिए क्यों?

पुलिस एनकाउंटर में मारे गए आरोपियों की बॉडी आधी सड़ चुकी है.

जो रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ नहीं बना पाए वो उनके बेटे समित ने बना दिया!

द्रविड़ के बेटे ने इस मैच में कमाल कर दिया.

तेज गेंदबाज बुमराह को फिटनेस सर्टिफिकेट क्यों नहीं देना चाहते राहुल द्रविड़, पता चल गया

द्रविड़-बुमराह विवाद के बीच में आए गांगुली ने इस मामले में क्या कहा है

कश्मीरी पत्रकार का आरोप, लखनऊ पुलिस ने मारपीट की, दाढ़ी नोचने की धमकी दी

CAA को लेकर विरोध प्रदर्शन कवर करने गए थे.

यूपी के इन शहरों में CAA के खिलाफ प्रोटेस्ट हिंसक हुआ, 11 लोगों की मौत

पुलिस पर पत्थर फेंके गए, गाड़ियों में आग लगाई गई.

CAA के खिलाफ प्रदर्शन में जामा मस्जिद के बाहर आंबेडकर की फोटो लहराने वाला ये शख्स कौन है?

मॉब लिंचिंग के खिलाफ मुस्लिमों से बंदूकें रखने की अपील कर चुका है.

CAA पर जारी बवाल के बीच क्या बैकफुट पर आ गई है मोदी सरकार?

गृहमंत्रालय ने बयान जारी किया है कि दो डॉक्यूमेंट्स से नागरिकता साबित हो जाएगी.