Submit your post

Follow Us

इरफान पठान ने अमिताभ बच्चन को 'असुरक्षित व्यक्ति' क्यों कहा?

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान. मैदान पर अपनी स्विंग बोलिंग के लिए मशहूर पठान आजकल अपने कमेंट्स के लिए खूब चर्चा में रहते हैं. पठान ने हाल ही में रेसिज्म पर कमेंट किया था. पठान इन कमेंट्स के बाद लोगों ने उनका काफी विरोध किया था. लोगों की ट्रोलिंग का ज़वाब देते हुए पठान ने साफ किया था कि वह अपने मन की बात कहने से कभी पीछे नहीं हटेंगे.

अब पठान ने एक बार फिर से ऐसा कुछ कह दिया है जिस पर विवाद होने की पूरी आशंका है. पठान ने एक बातचीत के दौरान हर्षा भोगले से जुड़े अमिताभ बच्चन के पुराने ट्वीट्स की आलोचना की. पठान ने बच्चन को असुरक्षित व्यक्ति कहते हुए कहा कि उनके जैसे तमाम लोगों के चलते लोग अपनी बातें सबके सामने नहीं रख पाते. ESPN क्रिकइंफो के होस्ट रौनक कपूर ने पठान का एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में पठान तमाम चीजों पर चर्चा करते दिख रहे हैं.

# बड़ी है जिम्मेदारी

पठान ने इस दौरान सोशल मीडिया से इस्तेमाल से जुड़ी जिम्मेदारियों का ज़िक्र भी किया. उन्होंने कहा,

‘आपको रियल होना है. सोशल मीडिया में अगर आपकी इमेज बनती है, वो तभी बनेगी जब आप रियल हो. एक सोशल मीडिया पर प्रभाव रखने वाले व्यक्ति के रूप में, जो बंदा इंडिया के लिए खेला है, इंटरनेशनल लेवल पर जाकर झंडे गाड़े हैं, वो बंदा जब बात करता है, तो सोच समझकर बात करता है.

इंडिया खेला हुआ बंदा हमेशा यूनिटी की बात करेगा. मैं हमेशा एकता की बात करता हूं. जिस दिन मुझे लगा कि यार मैं झगड़ा कराने वाली बात करता हूं, मुझे सोशल मीडिया का कोई काम नहीं रह जाएगा. ‘

पठान ने अपनी सोशल मीडिया एक्टिविटी की बात करते हुए बताया कि वह सोशल मीडिया पर किन चीजों पर डिस्कशन करना पसंद करते हैं. उन्होंने कहा,

‘मैं कोशिश करता हूं कि मेरी जो फैमिली लाइफ है, वो ज्यादा से ज्यादा प्राइवेट रहे. बहुत कम चीजें पब्लिक आएं लेकिन मेरी सोच बाहर जरूर जानी चाहिए, जिससे मुल्क को फायदा हो. ये मीडिया में अभी जो भी लोगों को लड़ाने वाला कार्यक्रम चल रहा है, मैं अगर मिलाने वाला काम नहीं करूंगा तो मेरा इंडिया खेलने का कोई मतलब नहीं.’

इस बातचीत के दौरान पठान ने लोगों को अपनी राय व्यक्त करने की आज़ादी मिलने की वकालत की. पठान ने कहा,

‘जामिया के मुद्दे पर जब मैंने ट्वीट किया था. मैंने उसके बारे में काफी सोचा था, सिर्फ सोचा ही नहीं खूब ख़बरें भी पढ़ीं. कई लोगों को ये ग़ुमान है कि वहां सिर्फ एक धर्म के लोग पढ़ते हैं. ये सच नहीं है. हर धर्म के लड़कों से मैंने बात की. बार-बार सोचा, बार-बार बात की. उसके बाद जाकर मैंने ट्वीट किया. वो भी फिक्र वाला ट्वीट था, कोई लड़ाने वाला नहीं. ये ट्वीट भी मैंने इसलिए किया था कि इससे लोगों की नज़र वहां जाए, अगर कुछ ग़लत हो रहा है तो उसे सही किया जाए. मेरे ट्वीट से लोगों का ध्यान उधर गया.’

इरफान ने इस इंटरव्यू के दौरान अमिताभ बच्चन और हर्षा भोगले के विवाद का भी ज़िक्र किया. गौरतलब है कि बच्चन ने मार्च 2016 में ट्वीट कर भोगले का नाम लिए बिना, उनकी कॉमेंट्री को साउथ अफ्रीका की ओर झुका हुआ बताया था. स्टार विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने भी उनके बयान का समर्थन किया था. इन ट्वीट्स के बाद हर्षा भोगले को कॉमेंट्री टीम से निकाल दिया गया था.

इरफान ने कहा,

‘बहुत सारे लोगों को असुरक्षा भी है. देखिए, आज एक कॉमेंट्रेटर, दूसरी टीम जो आती है उसके बारे में बात करता है, तारीफ करता है. एक फिल्मस्टार, एक बहुत बड़ा फिल्मस्टार उसके बारे में ट्वीट करता है. और फिर एकाएक उस कॉमेंट्रेटर की नौकरी चली जाती है. ये असुरक्षा है. ऐसी बहुत सारी असुरक्षा लोगों को है, इस वजह से लोग बात नहीं करते. तो अगर हम सिक्यॉरिटी दे देंगे तो लोग बात करेंगे. और बात करना चाहिए तमीज से. अगर आप तमीज से बात नहीं करेंगे, गाली-गलौज करेंगे तो ये सही नहीं है.’

अमिताभ बच्चन और हर्षा भोगले का यह विवाद इसके बाद भी खत्म नहीं हुआ था. साल 2018 के फरवरी महीने में फिर बच्चन ने बिना नाम लिए कॉमेंट्रेटर्स की आलोचना की थी.


जब बेयरस्टो, एलेक्स हेल्स और मोर्गन ने ऑस्ट्रेलिया को कुछ नहीं समझा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सरकार और किसानों के बीच साढ़े सात घंटे तक चली बैठक में क्या नतीजा निकला, जान लीजिए

सरकार और किसानों के बीच साढ़े सात घंटे तक चली बैठक में क्या नतीजा निकला, जान लीजिए

कृषि मंत्री ने बताया, सरकार किन-किन बातों पर राजी हो गई है

दुनिया को मिली पहली 'भरोसेमंद' कोरोना वैक्सीन, अगले हफ्ते से लगेंगे टीके

दुनिया को मिली पहली 'भरोसेमंद' कोरोना वैक्सीन, अगले हफ्ते से लगेंगे टीके

ब्रिटेन पहला पश्चिमी देश है, जहां कोविड-19 वैक्सीन को हरी झंडी दी गई है

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज लोकुर ने कहा, जबरन धर्मांतरण पर यूपी का क़ानून लोगों की आजादी के खिलाफ़ है

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज लोकुर ने कहा, जबरन धर्मांतरण पर यूपी का क़ानून लोगों की आजादी के खिलाफ़ है

UAPA और दिल्ली दंगों पर जस्टिस लोकुर ने क्या कहा?

वो गेंद स्टंप पर नहीं मारता था, खुद लपक कर स्टंप बिखेर देता था

वो गेंद स्टंप पर नहीं मारता था, खुद लपक कर स्टंप बिखेर देता था

मोहम्मद कैफ़ का आज जन्मदिन है. इस बहाने आज उनकी फील्डिंग के चंद किस्से.

पिता ने चिट्ठी लिखकर गंभीर इल्ज़ाम लगाए तो शेहला राशिद ने क्या कहा?

पिता ने चिट्ठी लिखकर गंभीर इल्ज़ाम लगाए तो शेहला राशिद ने क्या कहा?

चिट्ठी में कहा कि शेहला घर में एंटी-नेशनल काम कर रही हैं.

दिल्ली दंगा : वीडियो सबूत होने के बाद भी पुलिस ने जांच नहीं की, कोर्ट ने दिया FIR का ऑर्डर

दिल्ली दंगा : वीडियो सबूत होने के बाद भी पुलिस ने जांच नहीं की, कोर्ट ने दिया FIR का ऑर्डर

सलीम की शिकायत, 'सुभाष और अशोक ने मेरे घर पर हमला किया'

कृषि बिलों पर वोटिंग के दौरान किसके कहने पर सांसदों के माइक बंद किए गए थे?

कृषि बिलों पर वोटिंग के दौरान किसके कहने पर सांसदों के माइक बंद किए गए थे?

बहुत हंगामा हुआ था, अब कहानी सामने आयी.

देश की आर्थिक सेहत बताने वाले GDP के आंकड़े आ गए हैं. ये डराने वाले हैं और उम्मीद जगाने वाले भी

देश की आर्थिक सेहत बताने वाले GDP के आंकड़े आ गए हैं. ये डराने वाले हैं और उम्मीद जगाने वाले भी

इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के जीडीपी आंकड़े क्या बताते हैं, जान लीजिए

जानिए कितनी ज़बरदस्त तैयारी के साथ दिल्ली आए किसान, 17 पॉइंट का नोट वायरल

जानिए कितनी ज़बरदस्त तैयारी के साथ दिल्ली आए किसान, 17 पॉइंट का नोट वायरल

किसान बोले, जहां रोकेंगे वहीं गांव बसा लेंगे, छह महीने की तैयारी करके आए हैं...

किसान आंदोलन में क्या-क्या हो रहा, सबसे दमदार तस्वीरों में यहां देखिए

किसान आंदोलन में क्या-क्या हो रहा, सबसे दमदार तस्वीरों में यहां देखिए

दिल्ली कूच के लिए कुछ भी करने को तैयार दिख रहे किसान