Submit your post

Follow Us

DRS पर बवाल काट रहे लोग हर्षा भोगले की ये कायदे की बात सुन लें!

12 मई 2022. चेन्नई और मुंबई की टीमों के बीच IPL मुकाबला हुआ. आठ मैच हारकर मुंबई प्लेऑफ की रेस से पहले ही बाहर हो चुकी थी. चेन्नई की हल्की-फुल्की उम्मीद बची हुई थी. लेकिन मुंबई ने उस पर पानी फेर दिया. हार के बाद चेन्नई के फ़ैन्स ने जमकर बवाल काट दिया. बोले कि टीम की इस हार का जिम्मेदार BCCI है जिसके पास स्टेडियम में सही व्यवस्थाएं नहीं हैं.

क्या था मामला?

मुंबई ने इस मुकाबले को 5 विकेट से जीता. रिजल्ट के बाद ट्विटर की सारी चर्चा मुंबई और वानखेडे की बिजली पर मुड़ गई. मामला चेन्नई की पारी की दूसरी बॉल का है. डेनियल सैम्स की ये फुल लेंथ गेंद मिडल स्टंप पर गिरकर लेग स्टंप को मिस करती हुई नजर आई. लेकिन अंपायर ने उंगली उठा दी थी. और कॉन्वे चाहकर भी DRS नहीं ले सकते थे. स्टेडियम में बिजली नहीं होने की वजह से DRS अवेलेबल नहीं था.

उन्हें गलत आउट देना चेन्नई पर बहुत भारी पड़ा. पिछले तीन मैच में कॉन्वे ने चेन्नई के लिए 87, 56 और 85 रन की पारियां खेली थीं. इस इन-फॉर्म ओपनर की बदौलत चेन्नई की परफॉर्मेंस में चेंज देखने को मिला है. इसीलिए उनके इस तरह आउट होने पर खूब बवाल कटा. फैन्स ने ‘No DRS’ ट्रेंड करवा दिया.

ट्विटर पर आई प्रतिक्रिया

इस विवाद को लेकर लेजेंडरी स्पिनर और कमेंटेटर लक्ष्मण शिवरामकृष्णन ने लिखा,

‘इस मैच में दोनों टीम्स को DRS की सुविधा नहीं मिलनी चाहिए थी. #CSKvsMI’

एक अन्य यूजर प्रसेनजीत ने लिखा,

‘इतनी बड़ी लीग, जिसमें इतना पैसा लगा है, वहां पावरकट के कारण DRS नहीं है? डेवोन कॉन्वे के साथ वहां सरासर गलत हुआ. वैसे ये एक और अंपायरिंग की गलती थी! बॉल लेग स्टंप से बाहर जा रही थी और अंपायर ने आसानी से गलत फैसला दे दिया.’

 

हर्षा भोगले ने बताया कारण

ट्विटर पर लोग जमकर इस बात को लेकर बवाल काट रहे थे. इसी बीच दिग्गज कमेंटेटर हर्षा भोगले ने बताया कि स्टेडियम के अंदर जनरेटर होने के बावजूद डीआरएस अनुपलब्ध क्यों था. भोगले ने ट्वीट करते हुए लिखा,

जब बिजली जाती है, तो जनरेटर अपने आप चालू हो जाते हैं और इस तरह कवरेज जारी रहता है. लेकिन कुछ मशीनों को रीबूट करने की आवश्यकता होती है और इसमें समय लगता है. इस वजह से तब डीआरएस उपलब्ध नहीं होता है. पूरी दुनिया में यही स्थिति है. इसका पैसे से कोई लेना-देना नहीं है.

भोगले ने आगे लिखा,

मैं कई टूर्नामेंट और बाइलेट्रल सीरीज़ का हिस्सा रहा हूं, जो कुछ समय के लिए बिना डीआरएस के जारी रहे. यही वैश्विक प्रोटोकॉल है. जैसे ही मशीनें शुरू होती हैं, डीआरएस फिर से शुरू हो जाता है.

 

वहीं अंपायर के फैसले को लेकर हर्षा ने लिखा,

अंपायर का फैसला शायद गलत था, हालांकि सबसे गलतियां होती हैं. लेकिन मैं ये कहना चाहूंगा कि दिल्ली और राजस्थान के मुकाबले में नो बॉल विवाद पर बहुत लोगों ने नियमों की जानकारी के अभाव में अपशब्दों का इस्तेमाल किया. उस दिन अंपायर अपनी जगह सही थे लेकिन फिर भी उन्हें गालियां दी गईं.

 

मुंबई ने जीता मैच

मैच की बात करें तो टॉस जीतकर रोहित शर्मा ने बोलिंग करने का फैसला लिया. पहले ही ओवर में डेवोन कॉन्वे और मोईन अली वापस चले गए. और इसके बाद चेन्नई की पारी कभी संभली ही नही. चेन्नई के लिए कप्तान एमएस धोनी ने सर्वाधिक 36 रन बनाए. चेन्नई ने कुल 97 रन बनाए.

चेज आसान था, पर मुकेश चौधरी ने मुंबई की परेशानियां बढ़ा दीं. अपने चार ओवर में चौधरी ने तीन विकेट निकाले. मुंबई ने भी 33 रन पर चार विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद ऋतिक शौकीन और तिलक वर्मा ने एक पार्टनरशिप बनाई और मुंबई को पांच विकेट से मैच जिताया.


पृथ्वी शॉ और रविंद्र जडेजा IPL 2022 से बाहर क्यों हो गए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.