Submit your post

Follow Us

एंटी सबमरीन पोत 'INS कवरत्ती' की खासियत क्या है, जिसे नौसेना में शामिल किया गया

‘मेड इन इंडिया’ के तौर पर बना एंटी सबमरीन युद्धपोत ‘INS कवरत्ती’ 22 अक्टूबर को नौसेना में शामिल हो गया. इसका कमीशन सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने विशाखापट्टनम में किया. DND यानी डायरेक्टरेट ऑफ नेवल डिजाइन ने कवरत्ती पोत का डिजाइन तैयार किया है. और इसे बनाने का काम कोलकाता के गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स ने किया है. चीन जिस तरह से हिंद महासागर के रास्ते भारत को चारों तरफ से घेरने की कोशिश कर रहा है, इसको ध्यान में रखते हुए कहा जा सकता है कि ‘INS कवरत्ती’ के नौसेना में शामिल होने से भारत की ताकत बढ़ेगी.

नाम के पीछे की वजह

‘INS कवरत्ती’ नाम का यह दूसरा जहाज है. इससे पहले साल 1971 में एक युद्धपोत ने तब के पूर्वी पाकिस्तान (बांग्लादेश) को आजादी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. उसका नाम भी ‘INS कवरत्ती’ था. न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, उसी के नाम पर इस पोत का नाम ‘INS कवरत्ती’ रखा गया है.

इस पोत को 2003 में लाए गए ‘प्रोजेक्ट 28’ के तहत बनाया गया है. प्रोजेक्ट के तहत कुल चार एंटी सबमरीन युद्ध पोत बनाए जाने थे. ‘INS कवरत्ती’ इस प्रोजेक्ट का चौथा यानी अंतिम युद्धपोत है. इससे पहले साल 2014 में ‘INS कमरोता’, 2016 में ‘INS कदमत’ और 2017 में ‘INS किल्टन’ नौसेना में शामिल हो चुके हैं.

इसकी खासियत क्या है 

# इस एंटी सबमरीन युद्धपोत की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसके निर्माण में 90 प्रतिशत भारतीय उपकरण का इस्तेमाल किया गया है.

# INS कवरत्ती की लंबाई 109 मीटर और चौड़ाई 12.8 मीटर है. इसका वजन 3250 टन है. इसमें 4B डीजल इंजन लगे हैं.

# यह युद्धपोत परमाणु, केमिकल और बायोलॉजिकल लड़ाई की स्थिति में भी काम करेगा.

# यह एंटी-सबमरीन वॉरफेयर और दुश्मन के रडार की पकड़ में नहीं आने वाली स्टील्थ तकनीक से लैस है.

# पनडुब्बी-रोधी होने के साथ-साथ यह पोत सेल्फ डिफेंस क्षमता से भी लैस किया गया है. यह लंबी दूरी वाले ऑपरेशन में मददगार होगा.

# इसके सुपरस्ट्रक्चर के लिए कार्बन कंपोजिट का उपयोग किया गया है, जो भारतीय पोत निर्माण के इतिहास में बड़ी सफलता मानी जा रही है.

इसकी तकनीक के बारे में नौसेना अधिकारियों ने कहा-

“INS कवरत्ती में अत्याधुनिक हथियार प्रणाली है. इसमें ऐसे सेंसर लगे हैं, जो पनडुब्बियों का पता लगाने और उनका पीछा करने में सक्षम हैं.”

(यह स्टोरी ‘लल्लनटॉप’ में इंटर्नशिप कर रहे बृज द्विवेदी ने लिखी है)


वीडियो: रखवाले: DRDO ने जिन छह मिसाइल का सफल परीक्षण किया, वो आर्म फोर्स को क्या ताकत देंगी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.