Submit your post

Follow Us

अगर एम्स में इलाज कराना है तो 3 साल बाद आओ

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) देश का सबसे प्रतिष्ठित, भरोसेमंद और सस्ता हॉस्पिटल. जहां लोग उम्मीदें लेकर आते हैं.  बेहतर इलाज की, सही-सलामत होकर वापस जाने की. लेकिन जब वहीं से निराशा हाथ लगे तो सोचिये मरीज के दिल पर क्या गुजरती है.

65 साल की रामरति देवी को ब्रेन ट्यूमर है. बिहार में इलाज नहीं हो पाया तो रिश्तेदारों से कर्ज लेकर बेटे के साथ दिल्ली आ गईं. लेकिन यहां पर कोई उनकी अगवानी के लिए तो था नहीं. एक महीने का समय एम्स का चक्कर काटने में निकल गया. डॉक्टर से भेंट ही नहीं होती थी. जो भी एम्स में नंबर लगाने गया होगा, उसे पता होगा कि वहां क्या होता है. जैसे-तैसे न्यूरो सर्जरी विभाग में नंबर मिला. जांच के बाद बीमारी की पहचान हुई. उसके बाद अस्पताल वालों ने चार यूनिट ब्लड और 32 हजार रुपये जमा करने को कहा. रामरति के बेटे गुलाब इसके लिए तैयार हो गये. मां को बचाना था. इलाज तो कराना ही था.

पर ये पर्याप्त नहीं था. मां-बेटे को असली शॉक लगना बाकी था. ऑपरेशन की डेट 2020 की थी. 3 साल बाद की.

गुलाब कहते हैं,’ निजी अस्पताल में इलाज कराने में सक्षम नहीं हूं. मां दर्द से परेशान रहती है. यहां तक कि उठने-बैठने में दिक्कत होती है. अस्पताल की तरफ से जो तारीख मिली है, उसके बाद मां को लेकर बिहार वापस लौटने को मजबूर हूं. अगर मां यदि जिंदा रही तो तीन साल बाद सर्जरी के लिए लेकर आऊंगा.

एम्स का ये कोई पहला किस्सा नहीं है. मई 2013 में 13 साल की अंजलि न्यूरो सर्जरी विभाग की पेशेंट के तौर पर रजिस्टर हुई थी. अंजलि को ब्रेन ट्यूमर के साथ मिरगी की प्रॉब्लम थी. तो तुरंत उपचार की जरूरत थी. लेकिन एम्स की तरफ से जो डेट मिली वो 7 साल बाद 2020 की थी.

Source- Aiims Twitter
Source- AIIMS Twitter

उसी साल बबिता नाम की पेशेंट को 2019 की डेट मिली थी. अगस्त 2016 में एम्स के इस रवैये को देखते हुए पेशेंट मीरा देवी के पति ने दिल्ली हाईकोर्ट में अस्पताल के खिलाफ पेटिशन डाला था. मीरा देवी को ब्रेन ट्यूमर की जांच करना था. जिसके लिए उन्हें 2 महीने का समय दिया गया. जिसके बाद मीरा की फैमिली ने MRI प्राइवेट हॉस्पटिल से कराया. जांच के बाद मीरा के पति रामजी सिंह इलाज के लिए फिर से एम्स आ गये. जहां उन्हें सर्जरी की तारीख 2018 का मिला. ओपीडी के डॉक्टरों ने कहा,  अगर वो चाहे तो मीरा की सर्जरी प्राइवेट वॉर्ड में करा लें. 1.25 लाख खर्च आयेगा. इतनी बड़ी रकम रामजी ऑफोर्ड नहीं करत सकते थे. तो मजबूरी में रामजी सिंह ने दिल्ली हाईकोर्ट का रुख किया. जिसके बाद कोर्ट ने अस्पताल को नोटिस भेजा.

इलाज करने वाले न्यूरोसर्जन डॉ. दीपक अग्रवाल ने कहा कि मरीजों की संख्या बहुत ज्यादा होती है. हम मरीजों को लंबी तारीख नहीं देना चाहते हैं लेकिन हमारी भी मजबूरी होती है. एम्स प्रवक्ता डॉ. अमित गुप्ता भी कहते हैं कि भीड़ इतनी होती है कि हम सबको एक साथ, एक ही समय इलाज मुहैया नहीं करा सकते हैं. फिर भी हमारी कोशिश होती है कि कोई भी मरीज बिना इलाज वापस न जाये.


 

ये स्टोरी भारती ने की है.

 

ये भी पढ़े.

इन नींबुओं के जरिए पहचानिए ब्रेस्ट कैंसर को

दिन-रात बड़े ब्रेस्ट के बारे में सोचने वाले समाज पर कौन अफ़सोस करेगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 साल की लड़की के साथ पहले गैंगरेप फिर महिलाओं ने गंजा कर बाजार में घुमाया

20 साल की लड़की के साथ पहले गैंगरेप फिर महिलाओं ने गंजा कर बाजार में घुमाया

दूरदराज के इलाके में नहीं, यह राजधानी दिल्ली में हुआ है

RRB NTPC के रिजल्ट में किन गड़बड़ियों पर छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं, खुद उनसे सुनिए

RRB NTPC के रिजल्ट में किन गड़बड़ियों पर छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं, खुद उनसे सुनिए

क्या एक ग्रेजुएट और एक 12वीं पास को एक एक जैसा पेपर देना जायज है?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

गोरखपुर कचहरी में युवक की हत्या करने वाले के बारे में पुलिस ने क्या बताया?

मृतक व्यक्ति पर नाबालिग से बलात्कार का आरोप था.

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5जी नेटवर्क कैसे बन गया हवाई जहाज़ के लिए खतरा?

5G के रोल आउट को लेकर दिक्कतें चालू.

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

गाड़ी का इंश्योरेंस कराने वालों को दिल्ली हाई कोर्ट का ये आदेश जान लेना चाहिए

बीमा कंपनी गाड़ी चोरी या दुर्घटनाग्रस्त होने का बहाना बनाए तो ये आदेश दिखा देना.

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

राजस्थान पुलिस अलवर गैंगरेप की जांच सड़क हादसे के ऐंगल से क्यों कर रही है?

दबी जुबान में क्या कह रही है पुलिस?

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

बजट में FD को लेकर बैंकों की ये बात मानी गई तो आप और सरकार दोनों की मौज आ जाएगी!

जानेंगे बैंक FD में क्यों घट रही है लोगों की दिलचस्पी.

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

कांग्रेस को मौलाना तौकीर रजा का समर्थन, BJP ने हिंदुओं को धमकाने वाला वीडियो शेयर कर दिया

तौकीर रजा कांग्रेस पर आरोप लगा चुके हैं कि उसने मुसलमानों पर आतंकी का टैग लगाया.

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

देवास-एंट्रिक्स डील क्या थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने 'जहरीला फ्रॉड' कहा और मोदी सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़?

जानिए UPA के समय हुई इस डील ने कैसे देश को शर्मसार किया.

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.