Submit your post

Follow Us

हाथरस केस: आरोपियों के परिवार वाले अपने लड़कों के लिए क्या कह रहे हैं?

उत्तर प्रदेश का हाथरस केस.  इस मामले की जांच के लिए सीबीआई जांच की सिफारिश हो चुकी है.एसआईटी भी मामले की जांच कर रही है. इस बीच जिन चार लड़कों पर आरोप हैं, उनके परिवार वालों का बयान आया है.

इस मामले में चार आरोपी हैं. संदीप (20 ), रवि (35), रामू (27) और लव कुश (19). संदीप, रवि और रामू तो एक ही परिवार से हैं. चारों  यहां के ठाकुर परिवारों से हैं, जिनका खेती-बाड़ी का काम है और मुख्य तौर पर ज्वार, बाजरा उगाते हैं.

संदीप के भाई हरिओम ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया –

“अभी छह महीने पहले ही नौकरी लगी थी उसकी. दिल्ली में. छह हजार कमा रहा था. उसमें से कुछ पैसा घर भी भेजता था. कुछ दिन पहले पैर में गांठ पड़ गई थी. इसी वजह से गांव आ गया था. वो दिन (14 सितंबर, घटना वाला दिन) भी बाकी दिनों की तरह ही सामान्य था. सुबह संदीप बरामदे में लेटा था. उसके माता-पिता जानवरों को चारा देकर आए थे. उस दिन के बाद से सब बदल गया.”

आरोपी रामू. 10वीं तक पढ़ा है. थोड़ा ऊंचा सुनता है. उसकी मां का कहना है,

“अभी कुछ दिन पहले ही उसे (रामू को) एक दूध के प्लांट में काम मिला था. यहीं से करीब 10 किमी दूर है. दिहाड़ी पर काम मिला था. साइकिल से आता-जाता था. सुबह साढ़े सात से डेढ़ बजे तक तो वो प्लांट में ही रहता है. जब घटना हुई, तब भी वो वहीं था.”

आरोपी संदीप भी दिहाड़ी मजदूर है. रोज सुबह पास के ही चौराहे पर लगने वाली मंडी में जाकर लाइन लगाता है, ताकि कुछ काम मिल जाए. उसके चार बच्चे हैं. परिवार वाले बताते हैं कि बच्चों को यही कहकर समझा रहे हैं कि पापा शहर गए हैं, कुछ दिन में आएंगे. लवकुश के परिवार वाले भी कह रहे हैं कि उसका कसूर नहीं है.

नार्को टेस्ट के बारे में संदीप के परिवार  का कहना है,

अगर कोई ऐसा टेस्ट है, जिससे सच और झूठ साफ-साफ पता चल जात है तो हम चाहेंगे कि ये टेस्ट हो. अगर वे दोषी हैं, तो फांसी पर लटका दीजिए. लेकिन अगर नहीं हैं तो हमें चैन से जीने दीजिए.”


हाथरस केस: अगड़ी जात की पंचायत बैठी, आरोपियों का साथ देने का फैसला हुआ

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

जानिए न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत के हालात पर क्या लिखा है.

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

यूपी जैसे बड़े राज्य में केवल 1 प्लांट ही लगा.