Submit your post

Follow Us

धोनी को गुस्सा आता है या नहीं, गौतम गंभीर और इरफान पठान ने सारे किस्से सुना दिए

इंटरनेशनल क्रिकेट में 16 साल लंबे करियर में हमने गिने-चुने मौकों पर ही एमएस धोनी को गुस्सा करते देखा है. धोनी की कभी गुस्सा न करने वाली आदत के चलते ही उन्हें ‘कैप्टन कूल’ का नाम मिला. लेकिन अब इरफान पठान और गौतम गंभीर ने उन मौकों के बारे में बताया है, जब कैप्टन कूल का पारा खूब चढ़ा था.

हाल में कुलदीप यादव ने एक चैट के दौरान ये बताया था कि एक बार वो ग्राउंड पर धोनी के गुस्से से घबरा गए थे. तब धोनी ने कुलदीप से कहा था कि 20 साल में पहली बार उन्होंने गुस्सा किया है.

गंभीर ने बताया धोनी को गुस्सा कब आया

लेकिन अब टीम इंडिया के पूर्व ओपनर और धोनी के साथ लंबे वक्त तक खेले गौतम गंभीर ने कहा है कि एक नहीं, दो-दो मौकों पर उन्होंने माही को भड़कते देखा है. गंभीर ने कहा,

”लोग कहते हैं कि धोनी कभी गुस्सा नहीं होते. लेकिन मैंने दो बार उन्हें गुस्सा करते देखा है. ये 2007 के टी20 और 2011 के क्रिकेट विश्वकप में हुआ, जब हम अच्छा परफॉर्म नहीं कर पा रहे थे.”

उन्होंने साथ ही कहा कि धोनी भी एक इंसान हैं और वो भी किसी चीज़ पर रिएक्ट कर सकते हैं. गंभीर ने कहा,

”वो एक इंसान हैं और वो भी किसी चीज़ पर रिएक्ट कर सकते हैं. ऐसा करना स्वभाविक है. बिल्कुल ऐसा ही सीएसके के साथ भी है. अगर कोई खिलाड़ी मिसफील्ड करता है या फिर कैच छोड़ता है, तो भी.”

हालांकि उन्होंने कहा कि धोनी फिर भी उनसे ज़्यादा शांत इंसान हैं. उन्होंने कहा,

”हां वो कूल हैं, शायद वो बाकी सभी कप्तानों से ज़्यादा कूल हैं. मुझसे भी बहुत ज़्यादा.”

Dhoni Run Out 2
Dhoni Run Out 2

जब धोनी ने गुस्से में बल्ला तक पटक दिया

गंभीर के अलावा इरफान पठान ने भी धोनी का एक किस्सा शेयर किया, जब उन्होंने गुस्से में अपना बैट तक फेंक दिया था. इरफान पठान ने 2006-07 की एक सीरीज़ का ज़िक्र किया और बताया.

”ये 2006-07 की बात है. एक वार्म-अप गेम के दौरान दाएं हाथ का बल्लेबाज़ बाएं हाथ के बल्लेबाज़ के साथ बैटिंग कर रहा था. वार्म-अप के बाद हमें प्रैक्टिस के लिए जाना था.”

पठान ने बताया कि मैच में धोनी को अंपायर का फैसला पसंद नहीं आया. पठान ने कहा,

”मैच के दौरान अंपायर ने धोनी को आउट दे दिया. धोनी को लगा कि वो आउट नहीं हैं. धोनी गुस्से में अपना बैट फेंककर ड्रेसिंग रूप में चले गए. उसके बाद वो प्रैक्टिस के लिए भी काफी देर से आए. इसलिए गुस्सा तो उन्हें भी आता है.”


टीम इंडिया के किस खिलाड़ी ने कहा, ‘धोनी खेले तो फायदा होगा’? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

किसी को सही-सही पता ही नहीं कि दिल्ली में कोरोना से कितनी मौतें हुईं!

सरकार और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग.

चीन से ठगे जाने के बाद इंडिया ने अपनी टेस्टिंग किट बनाई, कैसे काम करेगी?

किसने बनाई ये टेस्टिंग किट?

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर यूपी और राजस्थान की पुलिस में पटका-पटकी हो गई है!

डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे तब मामला शांत हुआ.

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.

क्या सोशल डिस्टेंसिंग से चूकने की इतनी बुरी सज़ा देगी पुलिस?

किसी एक पुलिसवाले का ऐसा करना बाकियों की मेहनत पर पानी फेर देता है.