Submit your post

Follow Us

गुजरातः कांग्रेस राज्यसभा की दो सीटें जीतने की उम्मीद में थी, पांच विधायकों ने पानी फेर दिया

मध्य प्रदेश कांग्रेस में ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस्तीफे के बाद से उथल-पुथल मची है. 22 कांग्रेसी विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. राज्यपाल ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से फ्लोर टेस्ट कराने को कहा था, लेकिन विधानसभा स्पीकर ने कोरोना वायरस इंफेक्शन का हवाला देकर विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च के तक के लिए स्थगित कर दी है. बीजेपी फ्लोर टेस्ट की मांग लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है. उधर गुजरात में भी इसी तरह की उथल-पुथल मचने लगी है. गुजरात के पांच कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. 26 मार्च को राज्यसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में विधायकों का इस्तीफा कांग्रेस के लिए बड़ी मुसीबत पैदा कर सकता है. अब कांग्रेस अपने विधायकों को जयपुर भेज रही है.

पहले चार विधायकों ने इस्तीफा दिया था

पहले खबर आई थी कि गुजरात विधानसभा स्पीकर राजेंद्र त्रिवेदी को चार कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा भेजा है. जिसे स्पीकर ने स्वीकार भी कर लिया है. 16 मार्च की सुबह एक और विधायक ने इस्तीफा दे दिया. इंडिया टुडे की रिपोर्टर गोपी मनियार ने बताया कि सोमवार की सुबह दांग विधायक मंगल गामित ने भी इस्तीफा दिया है.

Gujarat Assembly Speaker
गुजरात विधानसभा के स्पीकर राजेंद्र त्रिवेदी. फोटो क्रेडिट- ANI.

एक दिन पहले चार विधायक गायब हो गए थे

कांग्रेस ने 14 मार्च को 14 विधायकों का पहला बैच जयपुर भेजा था, उनमें से चार विधायक गायब थे. इन्हीं चारों ने कुछ देर बाद इस्तीफा दे दिया. स्पीकर ने इनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया, लेकिन चारों के नाम उजागर नहीं किए. PTI के मुताबिक, उन्होंने कहा,

‘शनिवार को चार कांग्रेसी विधायकों ने मुझे इस्तीफा भेजा. मैं उनके नाम सोमवार को विधानसभा में बताऊंगा.’

खबरों के मुताबिक, धारी के विधायक जेवी काकड़िया, सुरेंद्रनगर के विधायक सोमाभाई पटेल, अबडासा के विधायक प्रद्युमन सिंह जाडेजा और गढाडा विधायक प्रवीण मारू ने इस्तीफा दिया है.

कांग्रेस ने कहा था ‘सब अफवाह है’

चार विधायकों के इस्तीफे की खबर को शुरुआत में कांग्रेस ने गलत बताया था. गुजरात कांग्रेस विधायक विरजीभाई थुम्मार ने 15 मार्च को कहा था,

‘अफवाहें फैलाई जा रही हैं, लेकिन पार्टी को अभी तक कोई इस्तीफा नहीं मिला है. कल तक सोमाभाई हमारे संपर्क में थे.’

Congress Mla Virjibhai Thummar
कांग्रेसी विधायक विरजीभाई थुम्मार. फोटो क्रेडिट- ANI.

कांग्रेस क्यों जयपुर भेज रही है विधायक?

राज्य सभा चुनाव के पहले पार्टी को हॉर्स-ट्रेडिंग का डर है. अपने विधायकों को पार्टी में ही रखने के मकसद से जयपुर भेज रही है. गुजरात विधानसभा में 180 सीटें हैं. BJP के पास 103, कांग्रेस के पास 73, दो सीटें भारतीय ट्राइबल पार्टी और एक सीट नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के पास है. एक निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी हैं. चार विधायकों के इस्तीफे मंजूर हो जाने के बाद कांग्रेस के विधायकों की संख्या 69 रह गई है. पांचवें विधायक के इस्तीफे की मंजूरी के बाद संख्या 68 हो जाएगी.

राज्य सभा की चार सीटें हैं जिन पर चुनाव होगा. BJP ने तीन उम्मीदवार- अभय भारद्वाज, रमीला बारा और नरहरी आमीन को चुनाव में उतार दिया है, लेकिन संख्या के आधार पर दो ही सीटों पर कब्जा हो सकता था. तीन सीटें जीतने के लिए 111 वोटों की जरूरत होगी. कांग्रेस विधायकों की क्रॉस वोटिंग से ये संख्या BJP को मिल सकती है. वहीं कांग्रेस को उम्मीद थी कि जिग्नेश मेवानी के समर्थन के बाद उसके पक्ष में 74 विधायक हो जाएंगे और दो सीटों पर उन्हें जीत मिलेगी, लेकिन पांच विधायकों के छिटक जाने के बाद जीत की उम्मीद एक ही पर सिमट जाएगी. कांग्रेस ने शक्तिसिंह गोहिल और भरतसिंह सोलंकी को टिकट दिया है. लेकिन संख्या कम होने की वजह से इनमें से एक ही राज्यसभा जा पाएंगे.

गुजरात से राज्यसभा के चार सांसद चुनी भाई गोहिल, लाल सिंह बड़ोदिया, शंभू प्रसाद टुंडिया और मधुसूदन मिस्त्री का कार्यकाल 9 अप्रैल को खत्म हो रहा है. इन चारों में से मिस्त्री कांग्रेसी सांसद हैं और बाकी तीन BJP से हैं.


वीडियो देखें: बीजेपी जॉइन करते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश से मिला राज्य सभा का टिकट

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.

लद्दाख में तकरार बढ़ी, तीन जगह चीनी सेना ने मोर्चा लगाया, तंबू गाड़े

दोनों ओर के सैनिकों ने मोर्चा संभाला.

पाताल लोक वेब सीरीज में फोटो से छेड़छाड़ पर BJP विधायक ने की अनुष्का से माफी की मांग

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की.