Submit your post

Follow Us

फिल्म बैन करने के बाद इलेक्शन कमीशन का नरेंद्र मोदी को एक और जोरदार झटका

इलेक्शन कमीशन जब से फॉर्म में आई है, सबसे ज़्यादा नुकसान नरेंद्र मोदी को हो रहा है. ईसी ने पहले विवेक ओबेरॉय स्टारर मोदी बायोपिक को चुनावों के दौरान रिलीज़ करने से बैन कर दिया. और अब उन पर बनी वेब सीरीज़ को भी सभी ऑनलाइन प्लैटफॉर्म से हटाने का आदेश दिया है.

नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी वेब सीरीज़ ‘मोदी: जर्नी ऑफ अ कॉमन मैन’ को अप्रैल की शुरुआत में इरोज़ नाऊ के ऑफिशियल ऐप और वेबसाइट पर स्ट्रीम करना शुरू किया गया था. लेकिन 10 अप्रैल को जब से चुनाव आयोग ने फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज़ पर रोक लगाई है, तब से इस वेब सीरीज़ को लेकर भी उनके पास कई कंप्लेंट आ रहे थे. अब उन शिकायतों पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने सभी ऑनलाइन प्लैटफॉर्म पर इस सीरीज़ की स्ट्रीमिंग बंद कर उसे फौरन वहां हटाने का निर्देश  दिया है. ईसी अपने आदेश पत्र में लिखती है-

”जितने भी फैक्ट और मटीरियल हमारे रिकॉर्ड में उपलब्ध हैं, उससे पता चलता है कि ये नरेंद्र मोदी पर बनी ओरिजिनल वेब सीरीज़ है. नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री होने के साथ एक नेता और चल रहे आम चुनाओं में प्रत्याशी भी हैं. इसलिए उन पर बनी इस वेब सीरीज़ का प्रदर्शन रोकना होगा.”

इसके पहले नरेंद्र मोदी पर बनी ओमंग कुमार डायरेक्टेड फिल्म को बैन करते समय ईसी ने कहा था कि ऐसी कोई भी फिल्म, जो चुनाव में किसी पॉलिटिकल व्यक्ति या पार्टी के लिए सहायक साबित हो सकती है, उसे इलेक्ट्रोनिक मीडिया में नहीं दिखाया जा सकता है. उसी ऑर्डर को ध्यान में रखते हुए उन्होंने इस वेब सीरीज़ पर भी रोक लगाई है. इलेक्शन कमीशन का वो ऑर्डर आप नीचे देख सकते हैं:

D4lv-UyUwAE9CRe

‘मोदी- जर्नी ऑफ अ कॉमन मैन’ में उम्र के अलग-अलग पड़ावों पर तीन लोग नरेंद्र मोदी का रोल कर रहे थे. चाय बेचने वाले बालक मोदी का रोल मशहूर डांसर फैज़ल खान (डांस इंडिया डांस) कर रहे थे. मोदी की जवानी के दिनों में उनका किरदार निभा रहे थे आशीष शर्मा (लव सेक्स और धोखा). और आज के समय के मोदी का किरदार महेश ठाकुर (हम साथ साथ हैं) निभा रहे थे. इस सीरीज़ को डायरेक्ट किया था उमेश शुक्ला ने. उमेश इससे पहले ‘ओ माय गॉड’, ‘ऑल इज़ वेल’ और ‘102 नॉट आउट’ जैसी फिल्में बना चुके हैं. इस सीरीज़ में कुल 10 एपिसोड थे, जो नरेंद्र मोदी के जीवन की शुरुआत से लेकर उनका अब तक सफर दिखा रहे थे.


वीडियो देखें: फिल्मों के बाद अब पीएम मोदी की लाइफ पर वेब सीरीज बन रही है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?