Submit your post

Follow Us

दिल्ली की हवा इतनी ज़हरीली हो गई है कि पब्लिक इमरजेंसी घोषित करनी पड़ी

5
शेयर्स

सुप्रीम कोर्ट द्वारा अधिकृत एक पैनल ने दिल्ली में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी है. ये 1 नवंबर की बात है. दिल्ली से जुड़ी एक रेगुलर हेडलाइन है- प्रदूषण. दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में है दिल्ली. पिछले कुछ दिनों से यहां सूरज साफ नहीं दिख रहा है. पूरे वातावरण में एक गहरी धुंध सी है. ये धुंध असल में है स्मॉग. इसमें सांस लेना जीवन के लिए बेहद ख़तरनाक है. इसी संदर्भ में आया है पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी का ये ऐलान.

ये डिवेलपमेंट क्या है?

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार, Environment Pollution (Prevention and Control) Authority (EPCA) नाम की संस्था ने 5 नवंबर तक दिल्ली NCR में किसी भी तरह के कंस्ट्रक्शन और पटाखाबाजी पर रोक लगा दी है. इसमें दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाज़ियाबाद, गुरुग्राम शामिल हैं. इसके पीछे वजह है कि दिल्ली की हवा बेहद ज़हरीली हो गई है. यहां सांस लेना मुश्किल है.

(सांकेतिक तस्वीर : पीटीआई)
(सांकेतिक तस्वीर : पीटीआई)

कैसे पता चलता है कि हवा ज़हरीली है?

एक टर्म होता है- AQI. यानी, Air Quality Index. ये हवा की गुणवत्ता बताता है. इसमें एक स्केल होता है- शून्य से लेकर 500 तक का.  जितनी ज्यादा वैल्यू, उतना ज्यादा खतरनाक हवा. हर 24 घंटे में AQI मापने के लिए हवा में मौजूद गैसों का स्तर और प्रदूषण फैलाने वाले पार्टिकल्स का स्तर मापा जाता है. इससे पता चलता है कि हवा कितनी खतरनाक है. आम तौर पर 100 तक का AQI सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए ठीक माना जाता है. जैसे-जैसे उसकी वैल्यू बढ़ती जाती है, वैसे-वैसे ख़तरा भी बढ़ता जाता है.

(सांकेतिक तस्वीर: airnow.gov)
(सांकेतिक तस्वीर: airnow.gov)

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने क्या कहा?
पिछले तीन दिन से दिल्ली और आस-पास के इलाकों का AQI 400 से 500 के बीच था. पिछले कुछ सालों से अक्टूबर-नवंबर में इस तरह की दिक्कत काफी बढ़ती हुई देखी गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा और पंजाब में जलाई जाने वाली पराली को जिम्मेदार ठहराया है. दीवाली पर छुड़ाए जाने वाले पटाखों का भी इसमें हाथ है, ऐसा एक्सपर्ट्स का मानना है. अरविंद केजरीवाल ने प्रदूषण के मुद्दे पर ट्वीट करते हुए लिखा-

पड़ोस के राज्यों में जलाई जा रही पराली की वजह से दिल्ली एक गैस चेंबर में बदल चुकी है. ये बहुत आवश्यक है कि हम इस ज़हरीली हवा से खुद को बचाएं. सरकारी और निजी स्कूल्स में हमने आज से 50 लाख मास्क्स बांटने शुरू कर दिए हैं. मेरी सभी दिल्लीवासियों से गुजारिश है कि जब भी ज़रूरत हो उनका इस्तेमाल करें.

पिछले कुछ सालों से ये पैटर्न लगभग तय हो चुका है. दिवाली आते-आते दिल्ली और NCR के इलाके स्मॉग से ढक जाते हैं. पराली का धुआं, दिवाली के पटाखे और बाकी रोज़मर्रा का प्रदूषण, सब मिलकर दिल्ली को नेगेटिव सुर्खियों में घसीट लाते हैं. सरकार के आदेश पर कुछ दिनों के लिए स्कूल भी बंद हो जाते हैं. प्रदूषण और स्मॉग के नुकसान, इनकी गंभीरता, इसके ख़तरे, इन सब पर हेडलाइन्स बनती हैं. उपायों पर बात होती है. क्या किया जाए, कैसे चीजें सुधारी जाएं, इनपर भी कुछ-कुछ बोला जाता है. मगर ढाक के तीन पात. कुछ भी नहीं सुधरता.

दिल्ली में लगातार बने रहने वाले इस ख़तरनाक स्तर के प्रदूषण की वजह से ऐसे सवाल भी पूछे जाने लगे हैं कि क्या ये शहर भारत की राजधानी बने रहने के लिए फिट हैं? हालांकि एक्सपर्ट्स तो कह रहे हैं कि इतनी प्रदूषण वाली जगह तो जीने लायक भी नहीं. जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल भारत दौरे पर आई हैं. दौरे के पहले दिन, यानी 1 नवंबर को वो राजघाट गईं. महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने. सोचिए, अगर मर्केल ने मास्क लगाया होता तो भारत को लेकर अभी इंटरनैशनल मीडिया में टॉप ख़बर यही होती.


वीडियो: डॉनल्ड ट्रंप ने अल-बगदादी के गिड़गिड़ाने की जो कहानी सुनाई, पेंटागन को पता ही नहीं 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

US ने जारी किया विडियो, देखिए कैसे लादेन स्टाइल में किया गया बगदादी वाला ऑपरेशन

अमेरिका ने इस ऑपरेशन से जुड़े तीन विडियो जारी किए हैं.

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.

अमेठी: पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत, 15 पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज

मौत कैसे हुई? मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं.

PMC खाताधारकों ने बीजेपी नेता को घेरा, तो पुलिस ने उन्हें बचाकर निकाला

RBI के साथ मीटिंग करने पहुंचे थे.

इस विदेशी सांसद को कश्मीर आने का न्योता दिया फिर कैंसल कर दिया, वजह हैरान करने वाली है

सांसद ने ऐसी शर्त रख दी थी कि विदेशी डेलिगेशन का हिस्सा नहीं बन पाए.

आज ही के दिन यूरोपियन यूनियन के सांसद कश्मीर क्यों पहुंचे? महबूबा मुफ्ती की बेटी ने बताया

आर्टिकल 370 में बदलाव के बाद कश्मीर के हालात का जायजा लेने पहुंचा है 27 सांसदों का दल

BJP नेता से स्कूल ड्रेस ना लेने पर स्कूल टीचर की नौकरी चली गयी!

और बच्चे टीचर को वापिस बुलाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं.

पाकिस्तान ने सीज़फायर तोड़ा, भारत ने जवाब में मार गिराए पांच पाकिस्तानी सैनिक और कई आतंकवादी

पाकिस्तान ने भी मान लिया कि भारत ने हमला किया है.

अयोध्या : मुस्लिम पक्ष ने कहा, 'केवल हमसे ही सारे सवाल क्यों पूछे जा रहे?'

इस पर हिन्दू पक्ष ने कोर्ट में क्या कह दिया?

राफेल बनाने वालों ने राजनाथ सिंह से ऐसी बात कह दी कि निर्मला सीतारमण का दिल बैठ जाए

टैक्स को लेकर क्या कह दिया?