Submit your post

Follow Us

मुंडका अग्निकांड: दिल्ली की फैक्ट्री में इतनी भयंकर आग कैसे लगी, मैनेजर ने सुनाई पूरी कहानी

दिल्ली के मुंडका इलाके में शुक्रवार, 13 मई की शाम एक बिल्डिंग में लगी आग (Mundka Fire) में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 12 लोगों के घायल होने की खबर है. घायलों का इलाज संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में जारी है. वहीं कई लोग अब भी लापता हैं. NDRF का कहना है कि अभी भी राहत-बचाव कार्य जारी है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने फैक्ट्री के मालिकों को गिरफ्तार कर लिया है. इंडिया टुडे से मिली जानकारी के मुताबिक फायर ब्रिगेड ने शनिवार, 14 मई की सुबह तक आग पर काबू पा लिया.

फैक्ट्री मालिक गिरफ्तार

इंडिया टुडे को मिली जानकारी के मुताबिक ये बिल्डिंग करीब 15 साल पुरानी है. मुंडका की जिस जमीन पर बनी बिल्डिंग में ये फैक्ट्री चल रही थी, दरअसल वो लाल डोरा की जमीन है. इस जमीन पर सिर्फ रेसिडेंशियल एक्टिविटी यानी घर बनाने की इजाजत है, लेकिन यहां लंबे समय से कॉमर्शियल काम हो रहा है. दिल्ली पुलिस ने दोनों फैक्ट्री मालिकों हरीश गोयल और वरुण गोयल को गैर इरादतन हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. इन दोनों पर आईपीसी की धाराओं 34, 120, 304 और 308 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

पुलिस ने क्या कहा?

डीसीपी आउटर डिस्ट्रिक्ट समीर शर्मा के मुताबिक अब तक करीब 70 लोगों को बचा लिया गया है. अब भी 27-28 लोग लापता हैं. पुलिस के मुताबिक अभी और भी शवों के मिलने की संभावना है. बचाव अभियान के दौरान अभी तक 27 शव मिले हैं जिनमें से सिर्फ 2 की पहचान हो पाई है. फॉरेंसिक टीम को डीएनए जांच के लिए भेजा गया है. डीसीपी समीर शर्मा ने बताया कि इस बिल्डिंग का मालिक मनीष लकड़ा नाम का व्यक्ति है, जो फिलहाल फरार है. पुलिस उसकी तलाश में जुटी है.

पीएम ने किया मुआवजे का एलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है. प्रधानमंत्री राहत कोष से घायलों को भी 50-50 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी. इस हादसे की जानकारी मिलते ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने शोक जताया.

केजरीवाल ने दिए जांच के आदेश

इधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शनिवार, 14 मई की सुबह घटनास्थल का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने सभी मृतकों के परिवार को 10 लाख रुपये और घायलों को 50 हज़ार रुपये मुआवजा दिए जाने की घोषणा की. उन्होंने पूरी घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश भी दिए हैं.

कैसे लगी थी आग?

इंडिया टुडे के मुताबिक शुक्रवार शाम करीब साढे़ चार बजे आग बिल्डिंग की पहली मंजिल से लगनी शुरू हुई. उस समय वहां एक कार्यक्रम का आयोजन चल रहा था. फैक्ट्री के स्टाफ मैनेजर साहिल ने बताया कि जिस वक्त आग लगी, फैक्ट्री मलिक वहीं मौजूद थे. आग भड़कने के काफी देर बाद फायर ब्रिगेड वहां पहुंची, जिस वजह से आग तेजी से फैल गई. ये पूरी बिल्डिंग चार मंजिला थी. इसमें कई ऑफिस और फैक्ट्रियां हैं. जब आग लगी उस वक्त इमारत में करीब 200 लोग मौजूद थे जिनमें ज्यादातर महिलाएं थी. इमारत में आने-जाने के लिए सिर्फ एक ही रास्ता था.

आजतक की खबर के मुताबिक आग ग्राउंड फ्लोर पर लगे जेनरेटर से शुरू हुई. ये जेनरेटर सीढ़ियों के पास लगा हुआ है, जिस वजह से लोग वहां से भाग नहीं पाए. एक महिला ने जान बचाने के लिए इमारत से छलांग लगा दी, लेकिन उसकी मौत हो गई. यही नहीं कई और लोगों ने भी कूदकर जान बचाई, जिन्हें चोटें भी आईं हैं.

दिल्ली फायर सर्विसेस के डायरेक्टर अतुल गर्ग ने आजतक से बातचीत में बताया कि बिल्डिंग में काफी सामान भरा हुआ था. साथ ही काफी ज्यादा प्लास्टिक भी था. इस वजह से आग पहली मंजिल से बढ़कर दूसरी और तीसरी मंजिल तक भी पहुंच गई. रात करीब 11 बजे तक फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पा लिया था, लेकिन करीब साढ़े 11 बजे फिर से पहली मंजिल पर आग लग गई जिसे बुझा दिया गया. रात 2 बजे तक कूलिंग प्रक्रिया चालू रही. हालांकि अब बिल्डिंग में काम करने वाले लोगों के परिजन उनकी तलाश कर रहे हैं.


वीडियो: मुंडका अग्निकांड: अब तक 27 शवों को निकाला गया, कई लापता

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.