Submit your post

Follow Us

45 साल से अधिक उम्र वाले वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर करा सकेंगे रजिस्ट्रेशन

कोरोना वायरस एक बार फिर देश में पैर फैलाता दिखाई दे रहा है. इससे निपटने के लिए सरकार अब वैक्सीनेशन प्रक्रिया में और तेजी लाने की तैयारी में है. अब 1 अप्रैल से 45 साल से अधिक उम्र के लोग भी वैक्सीन लगवा सकेंगे. इसके लिए उन्हें अब को-मॉर्बिडिटी यानी पहले से किसी बीमारी से ग्रस्त होने का सर्टिफ़िकेट नहीं देना पड़ेगा.

इस फैसले से पहले भी 45 साल से ज़्यादा उम्र के व्यक्ति वैक्सीन लगवा सकते थे. लेकिन इसमें उन्हीं लोगों को प्राथमिकता दी जा रही थी, जो पहले से किसी को-मॉर्बिडिटी से प्रभावित थे. यानी सरकार ने कुछ बीमारियों की एक लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में से अगर कोई बीमारी 45 साल से अधिक उम्र वाले शख्स को है तो वह वैक्सीन ले सकता था. लेकिन अब ये सिस्टम खत्म कर दिया गया है.

अब 1 अप्रैल से 45 साल से अधिक उम्र का कोई भी शख्स कोरोना वायरस की वैक्सीन लगवा सकेगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार 30 मार्च को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये जानकारी दी. उन्होंने बताया कि अभी तक कोरोना वॉरियर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स, सीनियर सिटीजन और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45 से अधिक उम्र वालों को टीका लगाया जा रहा था. लेकिन अब 45 से अधिक उम्र वाले सभी लोग वैक्सीन लगवा पाएंगे.

वैक्सीनेशन सेंटर पर रजिस्ट्रेशन

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने ये भी बताया कि कैसे इसके लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा. उन्होंने कहा कि को-विन वेबसाइट और आरोग्य सेतु ऐप पर खुद को रजिस्टर कराया जा सकेगा. इसके अलावा वैक्सीन सेंटर पर जाकर भी रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है. वैक्सीन सेंटर पर दोपहर तीन बजे के बाद जाकर रजिस्ट्रेशन कराया जा सकेगा. इसके लिए आपको अपना कोई एक पहचान पत्र अपने साथ रखना होगा. आप राशन कार्ड और बैंक की पासबुक को भी पहचान के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे. इसके अलावा आधार कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट आदि के जरिए भी आप अपना रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे.

कैसे कराएं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

आपको बता दें कि अगर आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना चाहते हैं तो करा सकते हैं. इसके लिए आपको डेस्कटॉप या लैपटॉप पर को-विन वेबसाइट का रजिस्ट्रेशन पोर्टल खोलना होगा. इसके बाद आपको यहां अपना मोबाइल नंबर डालना होगा. आपके फोन पर एक ओटीपी आएगा जो आपको पोर्टल पर डालना होगा. इसके बाद आपको अपनी डिटेल यहां भरनी होगी. नाम, पता, और जो आईडी आप लेकर वैक्सीनेशन के लिए जाएंगे उसकी कॉपी आपको यहां अपलोड करनी होगी. सेव करने के बाद आपको आपका वैक्सीनेशन सेंटर बता दिया जाएगा.

आरोग्य सेतु ऐप से भी करा सकते है रजिस्ट्रेशन

इसके अलावा आप आरोग्य सेतु ऐप के जरिए भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. आरोग्य सेतु ऐप को खोलते ही आपको यहां पर कुछ ऑप्शन मिलते हैं. आपको वैक्सीनेशन वाला ऑप्शन चुनना है. इसके बाद आपको अपना मोबाइल नंबर यहां डालना है. जो ओटीपी आपके फोन पर आएगा, उसको ऐप में डाल देना है. इसके बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. जो जानकारी आपसे मांगी जाए वह सबमिट करें, जैसे नाम और पता. इसके बाद आपसे आईडी सबमिट करने को कहा जाएगा. आईडी की कॉपी अपलोड करके सेव कर दें. आपको आपका वैक्सीनेशन सेंटर बता दिया जाएगा. तय वक्त पर आप वहां पहुंचकर वैकेसीन लगवा सकते हैं.


वीडियो- कोरोना की दूसरी लहर और कोविड वैकसीन को लेकर SBI रिपोर्ट क्या कहती है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मनसुख हिरेन मर्डर केस: NIA को मीठी नदी में कौन से अहम सुराग मिले हैं?

मनसुख हिरेन मर्डर केस: NIA को मीठी नदी में कौन से अहम सुराग मिले हैं?

आरोपी सचिन वाझे को लेकर नदी पहुंची थी जांच एजेंसी.

फिल्मी अंदाज में अस्पताल से भागने वाला गैंगस्टर कुलदीप फज्जा एनकाउंटर में मारा गया!

फिल्मी अंदाज में अस्पताल से भागने वाला गैंगस्टर कुलदीप फज्जा एनकाउंटर में मारा गया!

पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर फेंक कुलदीप को भगा ले गए थे उसके साथी.

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत को गैरकानूनी दवाइयां देने के मामले में रिया चक्रवर्ती ने केस दर्ज करवाया था.

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

यूपी सरकार के बार-बार कहने पर भी मुख्तार को क्यों नहीं भेज रही थी पंजाब सरकार?

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

EMI टालने की छूट बढ़ाने और पूरा ब्याज माफ करने पर भी कोर्ट ने रुख साफ कर दिया है.

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

पिछले 24 घंटे में नवंबर 2020 के बाद अब सबसे ज़्यादा मामले आए हैं.

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

मनसुख हीरेन की मौत के बाद क्या सब चल रहा है?

क्या अनिल देशमुख कोरोना पीड़ित होते हुए भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे?

क्या अनिल देशमुख कोरोना पीड़ित होते हुए भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे?

इस पर अब विवाद क्यों हो रहा है?

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

इस चिट्ठी में परमबीर सिंह पर अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन के आरोप लगाए गए हैं.

प्रताप भानु मेहता और अरविंद सुब्रमण्यन के इस्तीफे के बाद अशोका यूनिवर्सिटी ने क्या बयान दिया है?

प्रताप भानु मेहता और अरविंद सुब्रमण्यन के इस्तीफे के बाद अशोका यूनिवर्सिटी ने क्या बयान दिया है?

बयान में यूनिवर्सिटी ने माना है कि कुछ संस्थागत चूक हुई है जिसे सुधार लिया जाएगा.