Submit your post

Follow Us

गलवान घाटी में 15 जून को क्या हुआ था? चीन ने अपनी अलग कहानी बताई है

15 जून को गलवान घाटी में क्या हुआ था? भारत पहले दिन से ही अपना पक्ष स्पष्ट कर चुका है. अब 5 दिन बाद चीन ने अपना पक्ष रखा है और एक अलग ही कहानी बता दी है. चीन ने उल्टा भारतीय सेना पर ही लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) का उल्लंघन करने और चीनी सेना को उकसाने का आरोप लगा दिया है.

ये ऊपर के दो ट्वीट चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लिजियन झाओ और भारत में चीनी एंबेसी के प्रवक्त जी रोंग के हैं. इन्होंने मामले पर स्टेप-दर-स्टेप चीन का पक्ष रखा है. जानते हैं कि चीन ने 15 जून की क्या कहानी बताई है –

# चीन का कहना है कि गलवान घाटी भारत-चीन सीमा के पश्चिमी क्षेत्र में है. ये एलएसी पर चीन की ओर के हिस्से पर पड़ती है. कई साल से चीनी सेना ही यहां पेट्रोलिंग करती आ रही है.

# चीन ने कहा कि अप्रैल से ही भारत इस क्षेत्र में रोड बना रहा है, ब्रिज बना रहा है. चीन ने इसका विरोध भी जताया था. लेकिन भारत ने अब एलएली क्रॉस करने और हमारे सैनिकों को भड़काने का भी काम किया.

# 6 मई को भारतीय सेना ने एलएसी क्रॉस की और चीनी क्षेत्र में बैरिकेड्स लगाए. चीन ने इसका विरोध किया. सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी.

# इसके बाद दोनों देशों के बीच सैन्य और डिप्लोमेट लेवल पर बातचीत हुई और भारत ने सेना पीछे हटाई.

# चीन का कहना है कि 15 जून को फिर भारतीय सेना ने एलएसी लांघी और जब चीनी अधिकारी और जवान बात करने पहुंचे तो उन पर हमला किया. इसी के बाद हिंसक झड़प हुई, जिसमें दोनों देशों के जवान मारे गए.

इससे पहले 19 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के मसले पर बात करने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई थी. बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि न कोई हमारी सीमा में घुसा, न ही हमारी कोई पोस्ट किसी के कब्जे में है.


नेता नगरी: भारत-चीन के बीच हुई हिंसक झड़प पर राहुल गांधी ने PM मोदी से क्या पूछा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

एक और पार्टी है जिसने कांग्रेस जितनी सीटें जीती हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.