Submit your post

Follow Us

CA फाइनल एग्जाम: बहन ऑल इंडिया टॉपर तो भाई ने 18वीं रैंक लाकर किया कमाल

भाई-बहन की जोड़ी ने सीए का फाइनल एग्जाम (CA Final Exam) एकसाथ क्लियर किया. रैंकिंग में बहन ने भाई को पीछे छोड़ दिया. मुरैना की नंदिनी अग्रवाल (Nandini Agrawal) की ऑल इंडिया रैंक 1 रही. वहीं भाई सचिन अग्रवाल (Sachin Agrawal) की 18वीं रैंक आई. भाई-बहन बचपन से मुरैना के विक्टर कान्वेंट स्कूल में पढ़े हैं. दोनों ने एकसाथ ही इस एग्जाम की तैयारी शुरू की थी.

नंदिनी ने हासिल किए 614 अंक

नंदिनी को 800 में से 614 अंक मिले हैं. नंदिनी और सचिन ने आजतक को बताया कि दोनों ने साथ में तैयारी करते हुए इस बात का हमेशा ध्यान रखा कि पढ़ाई में गंभीरता रहे. बाकी भाई-बहनों की तरह उनके बीच भी जमकर झगड़ा होता था. हालांकि दोनों एक दूसरे की पढ़ाई में मदद भी करते थे. एक दूसरे के मॉक क्वेशचन पेपर की कॉपी चेक करते थे.

नंदिनी ने बताया कि उन्हें और उनके भाई को पहले ही प्रयास में सफलता मिल गई. आमतौर पर इस एग्जाम में दो-तीन प्रयास के बाद भी सफलता नहीं मिलती है. इसके बाद परिवार और दोस्तों का दबाव आने लगता है. लेकिन उनके माता-पिता ने तैयारी के समय उनकी काफी मदद की. हमेशा हौसला बढ़ाते रहे.

नंदिनी और सचिन की उम्र में दो साल का फासला है लेकिन बोर्ड की परीक्षा दोनों ने साथ में दी. टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए नंदिनी अग्रवाल ने कहा कि मैंने बचपन में दो क्लास छोड़ दी थीं. दूसरी कक्षा से ही हम भाई-बहन क्लासमेट रहे हैं.

सचिन ने आजतक से कहा कि सीए फाइनल में उन्हें 70% मार्क्स मिले हैं और वे इससे संतुष्ट हैं. उनका कहना था उन्हें पता था कि उनकी बहन अच्छा करेगी. नंदिनी को पहली रैंक मेहनत के वजह से ही मिली है.

सीएम शिवराज ने भी दी बधाई

भाई-बहन की इस सफलता पर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी दोनों को बधाई दी. सीएम ने ट्वीट कर लिखा है कि

“नंदिनी अग्रवाल को परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक वन आने पर दिल से बधाई. उनके भाई सचिन को ऑल इंडिया रैंक 18 आने पर शुभकामनाएं. हमें आप पर गर्व है.”

सचिन और नंदिनी दोनों भाई-बहन सामान्य परिवार से आते हैं. इनके पिता इनकम टैक्स कंसल्टेंट हैं, तो मां गृहिणी हैं.


वीडियो – CA कराने वाली संस्था ICAI ने अब नियमों में क्या बड़ा बदलाव किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

इससे फेसबुक पर क्या कुछ फर्क पड़ने वाला है?