Submit your post

Follow Us

बुलंदशहर: खेत में जिस गाय के अवशेष मिले, वो कब काटी गई?

3.81 K
शेयर्स

3 दिसंबर को बुलंदशहर के स्याना में जो हुआ, वो क्यों हुआ? इसका ठीक-ठीक जवाब अभी किसी के पास नहीं है. हमें बस घटनाक्रम मालूम है. कि सारा मामला खेत में कटी हुई गाय मिलने से शुरू हुआ और इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मॉब लिंचिंग पर खत्म हुआ. इस कटी गाय पर UP पुलिस के IG क्राइम एस के भगत ने एक बड़ी जानकारी दी है. उन्होंने इंडिया टुडे को बताया कि गाय के ये कटे हिस्से ताज़े नहीं थे. तकरीबन दो दिन पुराने थे. उनके मुताबिक, महाव गांव के खेत में जो कटी हुई गाय मिली, वो लगभग 48 घंटे पहले काटी गई थी. उन्होंने कहा-

शुरुआती जांच के मुताबिक, ग्राउंड ज़ीरो (यानी महाव गांव का वो खेत) से बरामद गाय के अवशेष कम से कम 48 घंटे पुराने थे. जांच अभी जारी है. जांच पूरी हो जाने के बाद सारी चीजें साफ हो जाएंगी.

ये गोकशी वाली उस FIR की कॉपी है, जो योगेश ने लिखवाई थी. ये वाली FIR दर्ज हुई दोपहर 12.43 बजे. इसके करीब 45 मिनट बाद, दिन के डेढ़ बजे SHO सुबोध कुमार सिंह की लिंचिंग हुई.
ये गोकशी वाली उस FIR की कॉपी है, जो योगेश ने लिखवाई थी. ये वाली FIR दर्ज हुई दोपहर 12.43 बजे. इसके करीब 45 मिनट बाद, दिन के डेढ़ बजे SHO सुबोध कुमार सिंह की लिंचिंग हुई.

बजरंग दल वाले योगेश राज ने FIR में क्या लिखवाया था?
खुद को इस कथित गोकशी का चश्मदीद बताने वाले बजरंग दल के नेता योगेश राज ने अलग ही कहानी सुनाई थी. उसने गोकशी वाली FIR में लिखवाया था-

आज दिनांक 03-12-2018 को समय करीब प्रात: नौ बजे सुबह हम लोग योगेश राज, शिखर कुमार, सौरभ आदि लोग घूमने के लिए ग्राम महाव के जंगलों में आए थे. तभी हमने देखा सुदेफ चौधरी, इल्यास, शराफत, अनस, शाजिद, परवेज, सरफुद्दीन (निवासी नया बांस) आदि लोग थाना स्याना निवासी गायों को काट रहे थे. हमें देखकर, हमारे शोर मचाने पर उपरोक्त लोग मौके से भाग गए. सूचना पर थाना स्याना की पुलिस व उपजिलाधिकारी स्याना आ गए हैं. उपरोक्त लोगों ने गायों को बुरी तरह से काटा है. जिससे हमारी हिंदू धर्म की भावनाएं आहत हुई हैं.

ये वाली FIR दर्ज हुई दोपहर 12.43 बजे. इसके करीब 45 मिनट बाद, दिन के डेढ़ बजे SHO सुबोध कुमार सिंह की लिंचिंग हुई.
योगेश ने कहा था कि जो सात लोग गाय काट रहे थे, वो सबको जानता था. उसने सातों का नाम बताया पुलिस को. सातों मुस्लिम थे. जिस गांव का योगेश है, उसी गांव के हैं सातों. इंडियन एक्सप्रेस ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि जिन लोगों का नाम लिखवाया गया है, उनमें से कुछ तो NCR में रहकर नौकरी करते हैं.

यानी योगेश ने गोकशी वाली FIR में झूठी तहरीर दी थी?
पुलिस की जांच और योगेश का बयान, एकदम उलट हैं. इससे तो यही लगता है कि योगेश ने उस दिन FIR में जो लिखवाया, सब झूठ था. इस FIR के लिखे जाने के तकरीबन 40-45 मिनट बाद ही इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह भीड़ के हाथों मार दिए गए थे. योगेश ने गोकशी वाली इस FIR में सात लोगों का नाम लिखवाया था. इनमें एक 10 साल का बच्चा भी है. पुलिस ने नाबालिग होने की वजह से उसका नाम इस FIR से हटा दिया है.

क्या खेत में कटी गाय फेंककर कोई दंगा करवाना चाहता था?
48 घंटे पहले कटी गाय को खेतों में किसने फेंका, अभी पता नहीं. मगर क्या ये किसी साज़िश के तहत किया गया? क्या इस साज़िश का लिंक घटना वाले दिन खत्म हो रहे मुस्लिमों के इज्तमा कार्यक्रम से था? या 6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद को गिराए जाने की बरसी के दिन को सोचकर कोई प्लानिंग की गई थी? क्या इसके पीछे दंगा भड़काने की कोई चाल थी? उत्तर प्रदेश पुलिस के प्रमुख ओ पी सिंह कह चुके हैं कि शायद ये पूरी घटना किसी साज़िश का नतीजा है. इस केस की जांच कर रही SIT भी सारे मुमकिन ऐंगल्स की तफ़्तीश कर रही है. सारी चीजों को साथ मिलाकर देखने पर साज़िश वाली बात मुमकिन तो लगती है. गांव के कई लोग भी इसकी शंका जता चुके हैं. जिस राजकुमार नाम का शख्स के खेत में गाय के कटे हिस्से मिले, उस खेत के बगल में रहने वाले प्रेम जीत सिंह ने मीडिया से बात की है. कहा है कि 2 दिसंबर की रात तक खेत में ऐसा कुछ नहीं था. न ही उन्होंने किसी को गाय काटते हुए देखा.


बार-बार बयान बदल रहा है बुलंदशहर का मुख्य आरोपी योगेश राज

बुलंदशहर के खेत में गाय का सिर, चमड़ी, बीफ टांगकर क्या बड़ा दंगा करने की साजिश थी?

बुलंदशहर में हुई इंस्पेक्टर सुबोध सिंह और सुमित की हत्या के बाद की ग्राउंड रिपोर्ट

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Bulandshahr: Cow carcasses found in the field was at least 48 hours old, says UP Police IG Crime

क्या चल रहा है?

NZ vs SA: वर्ल्डकप का अब तक का सबसे इंट्रेस्टिंग मैच

विलियमसन को आउट करने के दो मौके गंवाए अफ्रीका ने वरना जीत जाते.

NZ v SA : मार्टिन गुप्टिल जैसे हिट विकेट हुए, वैसे कौन होता है भाई

साउथ अफ्रीका की लॉटरी लग गई. सबका रिएक्शन देखने वाला था.

रामदास आठवले ने राहुल गांधी के मज़े लिए और मोदी, सोनिया सहित पूरा सदन हंसने लगा

एक बार फिर कविता भी सुनाई आठवले ने.

पूर्व राष्ट्रपति की मौत की खबर पर एंकर ऐसा कुछ बोल गई कि बवाल हो गया

एंकर ने गलती भी उस देश में की है, जिसे पत्रकारों के लिए जेल कहा जाता है.

केंद्रीय मंत्री का बेटा हत्या की कोशिश के आरोप में अरेस्ट हो गया

आरोप है कि दो लड़कों को जान से मारने की कोशिश की है.

ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़े नियम में बड़ा बदलाव

तमाम लोग नया नियम जानकर खुशी से उछल पड़ेंगे.

6 रन पर पूरी टीम ऑल आउट हो गई, उसमें से पांच रन तो एक्स्ट्रा के थे

अगली टीम ने चार गेंदों में मैच जीत लिया.

मॉर्गन रन लेने को भागे, अफ़ग़ानिस्तान के कप्तान क्रिकेट छोड़ बीच मैदान कबड्डी खेलने लगे

बात तो मज़ाक में आई-गई हो गई, लेकिन मॉर्गन रन आउट हो जाते तो बवाल हो जाता.

6 लड़कों ने मुझे कार से खींचकर निकाला, मिस इंडिया यूनिवर्स रह चुकीं उशोषी ने बताया

यह सब कोलकाता में हुआ. इस पर पुलिस ने जो किया, वो भी शर्मनाक है.

क्या ये क्रिकेट का सबसे महंगा कैच छूटा है?

राशिद के 9 ओवर में 110 रन कुटाने के बाद भी उनके कप्तान ने दिल जीतने वाली बात कही है.