Submit your post

Follow Us

बांग्लादेशी क्रिकेटर्स ने विराट और टीम इंडिया से बहुत बड़ा दिल दिखा दिया!

कोरोना वायरस संकट के बीच बांग्लादेशी क्रिकेटर्स ने मिसाल पेश की है. बांग्लादेश के कुल 27 क्रिकेटर्स ने अपनी आधे महीने की सैलरी कोरोना वायरस पीड़ितों के लिए दान दी हैं. ये सभी क्रिकेटर्स कोरोना से निपटने के लिए बने सरकारी फंड में ये राशि देंगे. ये खबर बांग्लादेशी अखबर ढाका ट्रिब्यून के हवाले से आई है.

बड़ी बात तो ये है कि इन 27 में से 10 खिलाड़ी ऐसे हैं जिनका बांग्लादेश की कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में नाम भी नहीं है. जबकि 17 खिलाड़ी बांग्लादेश की कॉन्ट्रेक्ट लिस्ट का हिस्सा हैं. जो 10 खिलाड़ी कॉन्ट्रेक्ट लिस्ट में नहीं हैं वो हाल ही में बांग्लादेश के लिए खेले हैं.

कोरोना के खतरे के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने एक ज्वॉइंट स्टेटमेंट भी जारी किया. जिसमें उन्होंने बाकी लोगों से भी कोरोना के खिलाफ जंग में शामिल होने की अपील की. बांग्लादेशी खिलाड़ियों की तरफ से जारी इस स्टेटमेंट में उन्होंने कहा,

”पूरी दुनिया कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रही है. ये खतरा बांग्लादेश में भी बढ़ रहा है. हम सभी क्रिकेटर्स, लोगों को सोशल मीडिया के जरिए इस महामारी से बचाव के तरीके बता रहे हैं. लेकिन हमें लगता है कि इस मुश्किल वक्त में लोगों में जागरूकता बढ़ाने के साथ ही हम और भी कई चीज़ें कर सकते हैं. 17 खिलाड़ी जो कि बांग्लादेश की कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में हैं, साथ ही 10 खिलाड़ी जो हाल में सीरीज़ में खेले हैं. हम सभी 27 खिलाड़ी मिलकर कोरोना वायरस से लड़ने के लिए अपनी आधी सैलरी दान देते हैं.”

इस स्टेटमेंट में बांग्लादेशी टीम ने बड़ी अच्छी बात की है. उन्होंने बाकी लोगों से भी आगे आने की अपील की है और कहा,

”टैक्स के बाद हमारी दान की हुई रकम लगभग 23 लाख रुपये बनती है. ये रकम कोरोना के खिलाफ जंग के लिए काफी नहीं है. लेकिन अगर हम सभी मिलकर इस तरह का सहयोग करें तो ये कोरोना के खिलाफ जंग के लिए एक बड़ा कदम होगा. अगर हम सभी ज़िम्मेदारी लें और दिल से किसी की आलोचना किए बिना अपना सहयोग दें तो हम कोरोना के खिलाफ इस जंग को जीत जाएंगे. हर कोई घर पर रहे और सुरक्षित रहे. स्वस्थ रहें और अपने मुल्क को भी सुरक्षित रखें.”

बांग्लादेश में कोरोना वायरस की वजह से अब तक 39 केस सामने आए हैं. बांग्लादेश सरकार ने सोमवार को 10 दिन का शटडाउन घोषित किया था. जो कि 26 मार्च से 4 अप्रैल के बीच है. कोरोना के पूरी दुनिया में अब तक चार लाख से ज्यादा केस सामने आए हैं. जिनमें से 19 हज़ार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि एक लाख से ज्यादा लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं. 


कोलकाता की तस्वीरें शेयर कर इमोशनल हो गए सौरव गांगुली 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पूरा देश लॉकडाउन है और हरियाणा के इस कॉलेज में लेक्चर पर लेक्चर हो रहे हैं

कॉलेज वाले कह रहे सरकार ने कोई ऑर्डर नहीं दिया!

सरकार ने दिया कोरोना पर राहत पैकेज, 80 करोड़ को मुफ्त अनाज और बहुत कुछ

वित्त मंत्री ने कहा, हर व्यक्ति के हाथ में अन्न और धन हमारी पहली प्राथमिकता.

कोरोना के बीच सरकार ने गठिया वाली दवा के एक्सपोर्ट पर रोक क्यों लगा दी?

इस दवा का कोरोना के इलाज में क्या रोल है?

रात को लॉकडाउन के कायदे बताने के बाद सुबह हुजूम के बीच कहां निकल गए सीएम योगी?

सीएम ने लोगों से कहा था, 'घर पर ही रहें, बाहर न निकलें.'

21 दिन के लॉकडाउन में आपको कौन-कौन सी छूट मिलेगी, यहां जान लीजिए

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरा देश 15 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा.

आज आधी रात से पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन, पीएम बोले- एक तरह से ये कर्फ्यू ही है

कोरोना वायरस के खिलाफ सबसे बड़ा फैसला.

कोरोना वायरस: उत्तर प्रदेश के 17 नहीं, अब पूरे 75 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया है

देश में कोरोना वायरस इंफेक्शन के मामले 500 से ऊपर जा चुके हैं.

3 महीने तक ATM से पैसे निकलना फ्री, अब मिनिमम बैलेंस का भी झंझट नहीं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान किया.

कोरोना वायरस की वजह से अब जो काम रुका है, उसका असर 17 राज्यों पर पड़ेगा

क्या मतलब निकला इतनी उठा-पटक का?

चौथी बार MP के सीएम बने शिवराज, बोले- कोरोना से मुकाबला मेरी पहली प्राथमिकता

शिवराज सिंह चौहान ने शपथ लेते ही ये रिकॉर्ड भी बना दिया है.