Submit your post

Follow Us

पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज खेलने से पीछे क्यों हटा अफ़ग़ानिस्तान?

अफ़ग़ानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से ही अफ़ग़ानिस्तान में डर का माहौल है. पूरे देश में उथल-पुथल मची हुई है. हालांकि इन सबके बीच कहा जा रहा था कि तालिबान के आने से अफ़ग़ानिस्तानी क्रिकेट पर कोई असर नहीं पड़ेगा. लेकिन अब तालिबान के कब्जे का असर अफ़ग़ान क्रिकेट पर दिखने लगा है.

पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के बीच होने वाली तीन वनडे मैच की सीरीज अनिश्चितकाल के लिए टल चुकी है. पहले से तय प्लान के मुताबिक ये सीरीज 3 सितम्बर से श्रीलंका के हम्बनटोटा में खेली जानी थी. लेकिन फिर श्रीलंका में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान ने ये तय किया कि सीरीज को पाकिस्तान में शिफ्ट किया जाएगा. लेकिन अब ख़बर है कि ये सीरीज अभी नहीं हो पाएगी.

# Pakistan vs Afghanistan

ट्विटर पर पाकिस्तान-अफगानिस्तान के बीच खेली जाने वाली तीन मैचों की वनडे सीरीज पर अपडेट देते हुए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने लिखा,

‘पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने वनडे सीरीज पर फिलहाल के लिए रोक लगाने की अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट बोर्ड की अपील को स्वीकार कर लिया है. अफ़ग़ानिस्तान ने ये रिक्वेस्ट खिलाड़ियों के मानसिक स्वास्थ्य, काबुल से फ्लाइट चलने में परेशानी, प्रसारण सुविधाओं में कमी और श्रीलंका में कोविड -19 के मामले बढ़ने की वजह से की थी. दोनों बोर्ड 2022 में सीरीज को फिर से शेड्यूल करने की कोशिश करेंगे.’

आउटलुक के अनुसार सीरीज के टल जाने पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर जाकिर खान ने कहा,

‘हमने इस सीरीज के ऊपर अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (ACB) के साथ मिलकर काम किया है और उद्घाटन द्विपक्षीय सीरीज में उनके साथ खेलने के इच्छुक थे, लेकिन हम उनकी चुनौतियों को समझते हैं. इसलिए, 2022 के लिए सीरीज को फिर से शेड्यूल करने के लिए सहमत हुए हैं.’

अपनी बात आगे बढ़ाते हुए जाकिर खान ने कहा,

‘PCB और ACB के बीच अच्छे रिश्ते है. और सीरीज को 2022 में करवाने के लिए हम सब कुछ करेंगे क्योंकि यह ICC पुरुष क्रिकेट विश्व कप 2023 के लिए डायरेक्ट क्वॉलिफाई करने के मामले में दोनों पक्षों के लिए महत्वपूर्ण है.’

इस मामले में अफ़ग़ानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के CEO हामिद शिनवारी ने भी अपडेट दी है. उन्होंने न्यूज एजेंसी PTI से कहा,

‘खिलाड़ियों के मानसिक स्वास्थ्य और मौज़ूदा परिस्थितियों को देखते हुए हमें सीरीज रोकनी पड़ी है.’

बताते चलें कि शिनवारी ने ही पहले कहा था कि तालिबान के शासन में अफ़ग़ान क्रिकेट को कोई समस्या नहीं होगी. क्योंकि तालिबान ने हमेशा इस खेल का समर्थन किया है.


लीडस टेस्ट 2002 में ऐसा क्या हुआ था जो इंग्लैंड आज तक नहीं भुला पाया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.