Submit your post

Follow Us

भारत-चीन के बीच बॉर्डर वाली तनातनी में पिछले एक महीने में क्या-क्या हुआ?

भारत-चीन सरहद पर तनाव है. और फिलहाल कोई चुनाव भी नहीं है. (संदर्भ: राहत इंदौरी का शे’र) लद्दाख से लेकर सिक्किम तक पिछले कुछ दिनों में चीन के सैनिकों की घुसपैठ की कोशिशें बढ़ी हैं.

लद्दाख में गल्वान नदी इलाके औरपैंगोंग झील  के पास भारत-चीन में सीमा विवाद है. करीब एक महीने पहले पैंगोंगे झील पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प हुई. अब यहां सेनाएं आमने-सामने कैंप कर रही हैं. ख़बर  है कि गल्वान घाटी में चीनी सैनिक दो किलोमीटर और भारतीय सैनिक एक किलोमीटर पीछे हट गए हैं, लेकिन पैंगोंग झील वाली तनातनी अभी बनी हुई. ईटी  ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि फिंगर 4 पर चीन के सैनिक मौजूद हैं, जो कि भारत के कंट्रोल में है. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी कहा है कि LAC पर ‘अच्छी-खासी संख्या’ में चीन के सैनिक मौजूद हैं.

6 जून को भारत-चीन के बीच मिलिट्री की हाई लेवल बातचीत होने जा रही है. दोनों सेनाओं के आला अधिकारी शामिल होंगे. माना जा रहा है कि बातचीत में पैंगोंग लेक विवाद पर फोकस होगा. लद्दाख में ये टकराव करीब एक महीने खिंच चुका है. देखते हैं भारत-चीन सीमा विवाद में पिछले एक महीने की टाइमलाइन :

5 और 6 मई की रात: पैंगोंग झील के पास भारत-चीन सैनिकों में टकराव हुआ. लोहे की रॉड चली. हाथापाई हुई. दोनों ओर के सैनिक चोटिल हुए.

9 मई: नॉर्थ-ईस्ट में सिक्किम के उत्तर में नाकू ला सेक्टर में भारत और चीन के सैनिकों की बीच झड़प हो गई. कुछ सैनिक चोटिल हुए. बाद में बातचीत से मसला सुलझा.

12 मई: LAC के पास चीन के हेलिकॉप्टर देखे गए. भारत की तरफ से सुखोई फाइटर प्लेन भी उड़ते दिखे.

23 मई: आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे हालात का जायजा लेने के लिए लेह के 14 कॉर्प्स हेडक्वार्टर गए.

26 मई: ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की ख़बर के मुताबिक, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सेनाओं को ट्रेनिंग मजबूत करने और युद्ध के लिए तैयार रहने को कहा.

26 मई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एनएसए अजित डोवाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ लद्दाख बॉर्डर मुद्दे पर चर्चा हुई. इससे पहले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को सेना प्रमुखों ने ब्रीफिंग दी थी.

27 मई: अमेरिका के प्रेसिडेंट डॉनल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत-चीन के बीच सीमा विवाद सुलझाने के लिए अमेरिका मध्यस्थता को तैयार है.

28 मई: भारत की तरफ से कहा गया कि हम शांतिप्रिय तरीके से मसले को सुलझाने पर चीन से बात कर रहे हैं.

1 जून: चीन ने कहा कि भारत-चीन बॉर्डर पर हालात स्थिर और कंट्रोल में हैं. एएनआई के मुताबिक, चीन के कुछ फाइटर प्लेन पूर्वी लद्दाख से 30-35 किमी मौजूद थे.

2 जून: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ‘न्यूज़ 18’ को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि पूर्वी लद्दाख में LAC पर चीनी सैनिक अच्छी-खासी संख्या में मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि भारत ने वो किया है, जो ज़रूरी था.

2 जून: डिवीजन कमांडर स्तर पर दोनों सेनाओं के शीर्ष अधिकारियों के बीच बैठक हुई, पर इसका कोई नतीजा नहीं निकला.

चार महीने में 170 बार घुसपैठ की कोशिश

सेना के अधिकारियों का कहना है कि LAC पर अभी जो हालात हैं, वैसे हाल-फिलहाल में नहीं देखे गए. आधिकारिक आंकड़े कहते हैं कि साल 2020 के पहले चार महीनों में चीन ने 170 बार घुसपैठ की. इनमें से 130 मामले लद्दाख के हैं. अगर साल 2019 के पहले चार महीनों के आंकड़े देखें, तो उस समय इस तरह की हरकत 110 बार हुई थी.

लद्दाख में पैंगोंग झील के पास भारत और चीन के सैनिक अक्सर भिड़ते रहते हैं, पर इस बार ये तनाव करीब एक महीने तक खिंच गया. इससे पहले भारत और चीन के बीच 2017 में डोकलाम में भी टकराव देखने को मिला था. यहां पर दोनों देशों के सैनिक 73 दिन तक आमने-सामने थे. दोनों ओर के सैनिक पीछे हटने को तैयार नहीं थे. बाद में कूटनीतिक स्तर पर मामला सुलटाया गया.


लद्दाख के पैंगोंग झील पर चीन के साथ बढ़ते टेंशन पर आर्मी ने ये कहा है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.