Submit your post

Follow Us

खो-खो ने युवराज सिंह को तबाह कर दिया

युवराज सिंह ने 10 जून को इंटरनेशनल क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से रिटायरमेंट ले लिया. युवराज को लेकर इंडियन एक्सप्रेस के नितिन शर्मा ने उनके पापा योगराज सिंह से बातचीत की है. बातचीत में उन्होंने बताया-

ग्रेग चैपल जब इंडियन क्रिकेट टीम के कोच थे उस वक्त अगर युवराज को खो-खो खेलते वक्त घुटने में चोट न लगी होती तो वह शायद वन-डे और टी-20 के सभी रिकॉर्ड्स तोड़ देते. (चैपल का मानना था कि क्रिकेट, इंडियन टीम का नेटिव गेम नहीं है इसलिए प्रैक्टिस सेशन में वह खिलाड़ियों से खो-खो, कबड्डी जैसे खेल खिलाते थे.) मैं चैपल को इसके लिए कभी माफ नहीं कर सकूंगा.

योगराज सिंह
योगराज सिंह (इंडियन एक्सप्रेस)

योगराज ने बताया-

मुझे याद है जब युवराज ने हैदराबाद में नेशनल टूर्नामेंट के एक अंडर-19 मैच में रेस्ट ऑफ इंडिया की ओर से खेलते हुए पंजाब के खिलाफ 180 रन बनाए थे. वह मैच राज सिंह डूंगरपुर देख रहे थे. युवराज उस वक्त 16 साल के थे और डूंगरपुर ने कहा था कि इसे इंडियन टीम में होना चाहिए. मैंने उनसे कहा, मुझे दो साल और दीजिए. इसके बाद युवराज ने साल 2000 में केन्या के खिलाफ डेब्यू मैच खेला.

योगराज ने आगे बताया-

जब उसे कैंसर हुआ तो मैं रोता रहता था. मैं भगवान से कह रहा था कि उसकी जर्नी ऐसे नहीं खत्म हो सकती. मैं कमरे में अकेला रोता रहता था. उसके सामने नहीं रोता था.

पिछले हफ्ते चंडीगढ़ में उसके साथ दो दिन बिताए. जब से युवराज से खेलना शुरू किया उस वक्त से हमने पहली बार कई चीजों पर बात की, जिस पर हमने कभी नहीं बात की थी. वह मुझे समझने की कोशिश कर रहा था. आज जब वह जो है उसे वैसा बनाने के लिए उसने मुझे शुक्रिया कहा. मुझे बहुत ज्यादा गर्व महसूस हुआ है.


वीडियो- वर्ल्ड कप जिताने वाले युवराज को रिटायरमेंट के बाद इस चीज का अफसोस है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?