Submit your post

Follow Us

वर्ल्ड कप 2011 फाइनल: धोनी के मशहूर छक्के पर अब क्या बोले युवराज सिंह?

2 अप्रैल 2011. भारत के लिये एक ऐतिहासिक दिन था. महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में इंडियन टीम ने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में श्रीलंकन टीम को हरा कर इतिहास रच दिया. 28 साल बाद भारतीय टीम दूसरी बार विश्व विजेता बन गई. फाइनल मैच में श्रीलंका ने भारत के सामने 275 रनों का लक्ष्य रखा. जिसे इंडियन टीम ने चार विकेट खोकर हासिल कर वर्ल्ड कप ट्रॉफी अपने नाम कर ली.

फाइनल मैच में सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने शानदार 97 रन बनाए. लेकिन असली मेला लूटा कप्तान धोनी ने. नंबर चार पर बैटिंग करने उतरे धोनी ने 79 गेंदों पर 91 रन की पारी खेल वर्ल्डकप भारत की झोली मे डाल दिया. 49वें ओवर में श्रीलंकन तेज गेंदबाज कुलासेकरा की गेंद को ग्राउन्ड के बाहर भेज धोनी ने भारतीय टीम को चैंपियन बना दिया.

वैसे तो धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कई छक्के लगाए हैं. लेकिन 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में लगाया हुआ उनका ये छक्का आज भी इंडियन क्रिकेट फैंस के दिल में ताजा है. धोनी के साथ दूसरे छोर पर खड़े युवराज सिंह ने इस छक्के को सबसे नज़दीक से देखा था.

इस वर्ल्डकप को जिताने में युवराज सिंह का सबसे अहम योगदान रहा था. 2011 वर्ल्ड कप में चार बार मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड जीतने वाले युवराज ने बल्ले से 362 रन बनाने के साथ गेंदबाजी से 15 विकेट भी हासिल किए थे. इस वर्ल्डकप जीत के 10 वर्ष पूरे हो गए हैं. उन लम्हों को याद करते हुए युवराज सिंह ने द हिन्दू से कहा,

‘भगवान हमेशा मेरे पर मेहरबान रहे हैं. भारत के लिये दो वर्ल्ड कप विनिंग टीम का हिस्सा होना एक बेहतरीन एहसास है. मुझे खुशी है कि मैंने दोनों वर्ल्डकप में टीम के लिये अच्छा प्रदर्शन किया.’

2007 T20 वर्ल्डकप में एक ओवर में छह छक्के मारने वाले युवराज ने आगे कहा,

‘2007 में जब मैंने छह छक्के जड़े तो लोगों का खुशी एक अलग तरह का था. खासकर जो यंग फैंस थे, उन्होंने उसका लुत्फ सबसे ज्यादा उठाया. अभी भी लोग मुझसे कहते है कि उन्हें वो सारे छक्के अभी भी पूरी तरह याद हैं.’

2011 वर्ल्ड कप के बारे में युवराज ने कहा,

‘2011 वर्ल्डकप में भी मैंने ज्यादातर मैचों में योगदान दिया. पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में मैंने बल्ले से रन नहीं बनाए, लेकिन बोलिंग से उनके दो टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों को आउट किया. वहीं फाइनल में भी मैंने दो श्रीलंकन बल्लेबाजों को आउट किया जिनमे से एक संगकारा भी थे.’

धोनी के विनिंग छक्के को याद करते हुए युवराज ने कहा,

‘जीत मायने रखती है. लेकिन किस स्टाइल में मैच जीता गया है वो ज्यादा मायने रखता है. किसी मैच को सिंगल लेकर जीतने और छक्के मारकर जीतने में यही फ़र्क है. धोनी ने अच्छे अंदाज में काम खत्म किया.’

गौरतलब है कि धोनी का ये छक्का 2011 वर्ल्ड कप की सबसे ज्यादा चर्चित चीजों में से एक है. कई क्रिकेटर्स इसे मिलने वाली तवज़्ज़ो से नाखुश रहते हैं. वो वहीं कई लोग इसे ऐतिहासिक मानते हैं.


ये स्टोरी हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहे रितेश ने लिखी है.


IPL 2021 से पहले चेन्नई सुपरकिंग्स को कौन सा बड़ा झटका लग गया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मनसुख हिरेन मर्डर केस: NIA को मीठी नदी में कौन से अहम सुराग मिले हैं?

मनसुख हिरेन मर्डर केस: NIA को मीठी नदी में कौन से अहम सुराग मिले हैं?

आरोपी सचिन वाझे को लेकर नदी पहुंची थी जांच एजेंसी.

फिल्मी अंदाज में अस्पताल से भागने वाला गैंगस्टर कुलदीप फज्जा एनकाउंटर में मारा गया!

फिल्मी अंदाज में अस्पताल से भागने वाला गैंगस्टर कुलदीप फज्जा एनकाउंटर में मारा गया!

पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर फेंक कुलदीप को भगा ले गए थे उसके साथी.

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत को गैरकानूनी दवाइयां देने के मामले में रिया चक्रवर्ती ने केस दर्ज करवाया था.

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

यूपी सरकार के बार-बार कहने पर भी मुख्तार को क्यों नहीं भेज रही थी पंजाब सरकार?

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

EMI टालने की छूट बढ़ाने और पूरा ब्याज माफ करने पर भी कोर्ट ने रुख साफ कर दिया है.

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

पिछले 24 घंटे में नवंबर 2020 के बाद अब सबसे ज़्यादा मामले आए हैं.

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

मनसुख हीरेन की मौत के बाद क्या सब चल रहा है?

क्या अनिल देशमुख कोरोना पीड़ित होते हुए भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे?

क्या अनिल देशमुख कोरोना पीड़ित होते हुए भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे?

इस पर अब विवाद क्यों हो रहा है?

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

उद्धव ठाकरे के मंत्री को घेरने वाले परमबीर सिंह कहीं खुद इस 'लेटर बम' का शिकार न हो जाएं!

इस चिट्ठी में परमबीर सिंह पर अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन के आरोप लगाए गए हैं.

प्रताप भानु मेहता और अरविंद सुब्रमण्यन के इस्तीफे के बाद अशोका यूनिवर्सिटी ने क्या बयान दिया है?

प्रताप भानु मेहता और अरविंद सुब्रमण्यन के इस्तीफे के बाद अशोका यूनिवर्सिटी ने क्या बयान दिया है?

बयान में यूनिवर्सिटी ने माना है कि कुछ संस्थागत चूक हुई है जिसे सुधार लिया जाएगा.