Submit your post

Follow Us

WC फाइनल के टिकट पर भारतीयों का कैसा कब्ज़ा है, ये न्यूज़ीलैंड के नीशम का ट्वीट पढ़ समझ जाएंगे

14 जुलाई को न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड के बीच क्रिकेट वर्ल्ड कप का फाइनल मैच खेला जाएगा. सेमीफाइनल में हारकर टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया अब रेस से बाहर हैं. और इससे सबसे तगड़ा झटका लगा है टीम इंडिया के फैन्स को, जिन्होंने पहले ही फाइनल मैच के टिकट खरीद रखे हैं. अब जब उनकी टीम ही मैच से बाहर हो गई है, तो उनका मैच देखना और न देखना दोनों ही बराबर है.

टीम इंडिया के जिन फैन्स ने फाइनल के टिकट खरीद रखे हैं, अब वो मैच देखने नहीं जा रहे हैं. ट्वीटर से लेकर फेसबुक और इंस्टाग्राम पर वो अपनी भड़ास निकाल रहे हैं. और इसी को देखते हुए न्यूज़ीलैंड की टीम के खिलाड़ी जिम्मी नीशम ने एक ट्वीट किया है. पहले वो ट्वीट देखिए-

जिम्मी नीशम ने इंडियन क्रिकेट फैन्स को संबोधित करते हुए लिखा है-

अगर आपलोग फाइनल मैच देखना नहीं चाहते हैं तो अपने खरीदे हुए टिकट को ऑफिशियल प्लेटफॉर्म के जरिए बेच दीजिए, ताकि जो असली क्रिकेट फैन्स हैं, वो फाइनल मैच देख सकें. मैं जानता हूं कि ये एक ललचाने वाला ऑफर है, जिससे आप पैसे बना सकते हैं, लेकिन पैसों के लिए नहीं, खेल के लिए अपने टिकट क्रिकेट फैन्स को दे दीजिए.

अब नीशम का ये ट्वीट पढ़कर इतना तो समझ में आ ही गया होगा कि इंडिन क्रिकेट फैन्स अपनी टीम को फाइनल में देखने के लिए किस हद तक आश्वस्त थे. उन्होंने इतने टिकट खरीद लिए थे कि दूसरे देश के क्रिकेट फैन्स के लिए कोई मौका ही नहीं था कि वो भी मैच देख सकें. अब नीशम ने अपील की है. कितनी काम आएगी पता नहीं, लेकिन जिन्होंने टिकट खरीदा है, वो अगर उसे लौटाने जाएंगे तो तय है कि उनका दिल एक बार फिर से टूट जाएगा.


इंडियन क्रिकेट टीमके कोच रवि शास्त्री ने बताया, क्या सोच रहे खिलाड़ी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?