Submit your post

Follow Us

7 समंदर पार रहकर ये शख्स बना हुआ है पाकिस्तान का दुश्मन

98
शेयर्स

भारत में कहीं भी आतंकी हमला होता है. एक टेढ़ी निगाह पाकिस्तान की तरफ हो जाती है. वजहें भी वाजिब हैं. बीते कई आतंकी हमलों में सरहद पार से साजिश रचने के सबूत मिले हैं. पर क्या आप जानते हैं पाकिस्तान को अपने मुल्क में आतंकवाद का सामना आजादी के बाद से ही करना पड़ रहा है. बलूचिस्तान  समस्या को सुलझाने में पाकिस्तान के हुक्मरान 68 साल से नाकाम रहे हैं.

नवाब नवरोज खान की गुरिल्ला वॉर से रखी गई बलूचिस्तान आंदोलन की नींव आज आतंक के नए मुकाम पर है. वक्त बीतने के साथ इसके नेता बदलते रहे हैं. बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी पाकिस्तान की सरकार के लिए बड़ी मुसीबत बनी हुई है.

हम आपको बताते हैं बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी के उस मुखिया के बारे में, जो पाकिस्तान की आंखों में फांस की तरह चुभा हुआ है.
हर्बियार मर्री: बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी के हेड. बलूचिस्तान की आजादी आंदोलन के बड़े नेता खैर बख्श मर्री के बेटे हर्बियार. खैर बख्श मर्री बलूचिस्तान आंदोलन के बड़े नेता थे. उनकी एक आवाज पर पूरा बलूचिस्तान खड़ा हो जाता था. पर पाकिस्तानी हुक्मरानों से मर्री परिवार की ‘दुश्मनी’ पुरानी रही. साल 1978 में जब पाकिस्तान की कमान जनरल मुहम्मद जिया उल हक के हाथों में आई, तब इसका बड़ा असर देखने को मिला. हर्बियार मर्री को अपने परिवार के साथ पाकिस्तान छोड़ अफगानिस्तान बसना पड़ा. काबुल में शुरुआती एजुकेशन के बाद हर्बियार मर्री रूस चले गए. पाकिस्तान की जमीं से दूरी और सियासी जंग की नींव रखी जा चुकी थी.

सालों तक दूसरे मुल्कों में रहने के बाद 1992 को हर्बियार परिवार समेत पाकिस्तान लौट आए. पिता खैर बख्स मर्री की उम्र हो चली थी. लिहाजा राजनीति के गलियारों में बलूच आंदोलन की आवाज उठाने के लिए आगे आए खैर बख्स मर्री के बेटे बलाच मर्री. 1996 में हर्बियार मर्री बलूचिस्तान असेंबली के लिए चुने गए. हर्बियान बलूचिस्तान प्रांत के एजुकेशन मिनिस्टर भी बने. 

1998 में मर्री के परिवार पर जस्टिस नवाज मर्री की हत्या का आरोप लगा. तब से लेकर अब तक हर्बियार का परिवार पाकिस्तान से बाहर रह रहा है. लेकिन सरहदी दूरियां होने की वजह से रंग में भंग करने में हर्बियार मर्री आज भी पाक के दुश्मन बने हुए हैं. हर्बियार ब्रिटेन में रहते हैं. सात समंदर दूर रहकर भी बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी के नेता हर्बियार मर्री बलूचिस्तान की आजादी को लेकर लड़ रहे हैं.

पाकिस्तानी हुक्मरान भारत पर हर्बियार मर्री के साथ करीबी संबंध और बलूच प्रांत में हिंसा फैलाने का आरोप लगाते आए हैं. इमरान खान समेत कई पाकिस्तानी बड़े नेता हर्बियार मर्री से मिल विवाद सुलझाने की कोशिश कर चुके हैं. पर हर्बियार और पाकिस्तानी नेताओं के बीच दूरियां वैसी ही बनी हुई हैं, जैसे हमारे मुल्क में अलगाववादी नेताओं से हमारे हुक्मरानों की..

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
why baloch leader harbiyar marri is big enemy for pakistan

क्या चल रहा है?

क्या केएल राहुल की जगह मयंक अग्रवाल सेमीफाइनल मुकाबले में खेलने वाले थे?

रवि शास्त्री ने बताया, क्या थी स्ट्रैटजी.

मशहूर फिल्म एक्ट्रेस को कैब ड्राइवर ने गाड़ी से खींचकर निकाला और बदसलूकी की

कैब वाले कस्टमर केयर ने पूछा- 'क्या आपका सेक्शुअल हैरसमेंट हुआ है?'

महाराष्ट्र : चुनाव से तीन महीने पहले मुख्य निर्वाचन अधिकारी बदले गए

क्यों और किस वजह से, इसका जवाब नहीं मिल रहा

धोनी को 7वें नंबर पर क्यों भेजा, कोच शास्त्री और कोहली से ये सवाल पूछा जाने वाला है

टीम इंडिया की रिव्यू मीटिंग होने वाली है. लगेगी क्लास.

मिडिल आर्डर के बल्लेबाजों पर क्या बोले कोच रवि शास्त्री?

हार के बाद कोच रवि शास्त्री ने चुप्पी तोड़ी है.

अंतरिक्ष में चंद्रयान भेज रहे ISRO के वैज्ञानिकों की सैलरी सरकार ने कम क्यों कर दी?

15 हज़ार से ज़्यादा वैज्ञानिक और इंजीनियर्स, पहले से 10 हज़ार रुपए कम पाया करेंगे. हर महीने.

कोहली, शास्त्री से पूर्व कप्तान और चीफ सेलेक्टर बेहद नाराज़ हैं

रायडू को दो साल तक वर्ल्डकप के लिए तैयार किया और जब समय आया तो अनदेखी क्यों की?

DGP ने बताया, श्रीदेवी की हत्या हुई थी!

DGP के दोस्त, जो फॉरेंसिक एक्सपर्ट थे, ने इस बात के पक्ष में कुछ तथ्य भी रखे थे.

पायल रोहतगी ने कहा- मुझे हिंदुस्तान में रहने में डर लग रहा है

उधर एजाज़ खान का वीडियो भी आया जो इतना भड़काऊ है कि उन्हें जेल में होना चाहिए.

धोनी बीजेपी जॉइन करने वाले हैं, बीजेपी के बड़े नेता का दावा

ये भी कहा कि कई बार मिल चुका हूं, बातचीत चल रही है.