Submit your post

Follow Us

ऐसा ट्रेंड किया #postponeupscepfo कि UPSC को एक्शन लेना ही पड़ा

देशभर में कोरोना के संकट के चलते केंद्र और राज्य सरकारें एहतियात बरत कर कदम उठा रही हैं. ऐसे ही कुछ कदम देश भर में स्टूडेंट्स के लिए उठाए गए. CBSE ने 10वीं का बोर्ड एग्जाम रद्द कर दिया और 12वीं बोर्ड की परीक्षा को फिलहाल स्थगित कर दिया है. जहां एक तरफ कई राज्य एक के बाद एक लॉकडाउन की घोषणा कर रहे हैं, वहीं यूपीएससी (UPSC) सोमवार सुबह तक एक बड़े एग्जाम को कराने की कमर कस चुका था. यह एग्जाम है EPFO में इंफोर्समेंट ऑफिसर या अकाउंट्स ऑफिसर के पद के लिए. एक्जाम 9 मई को होने थे और एग्जाम देने वाले स्टूडेंट्स ने इसे टालने की गुहार लगाते हुए #postponeupscepfo जैसे हैशटैग चलाए. इसे हैशटैग का असर कहें या राज्यों में धड़ाधड़ होते लॉकडाइन कि सोमवार शाम को यूपीएससी ने 9 मई को होने वाले एग्जाम को टाल दिया है.

ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा है #postponeupscepfo

UPSC ने ईपीएफओ (EPFO) में इंफोर्समेंट ऑफिसर या अकाउंट्स ऑफिसर के कुल 421 खाली पदों को भरने के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे थे. जिसके एडमिट कार्ड अब जारी कर दिए गए. एग्जाम की तारीख 9 मई रखी गई थी. एडमिट कार्ड 16 अप्रैल से 9 मई, 2021 तक आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड करने का फरमान भी आ गया था. यूपीएससी ईपीएफओ (EPFO) भर्ती परीक्षा 09 मई 2021 को सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक देशभर के विभिन्न सेंटरों पर आयोजित होनी थी. एग्जाम देने वालों को एग्जाम शुरू होने से 1 घंटे पहले टेस्ट सेंटर को रिपोर्ट करने को कहा गया था. कोविड-19 के खतरे को देखते हुए फेस मास्क, पर्सनल हैंड सेनिटाइजर, सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य जरूरी दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी बताया गया.

एक तरफ UPSC एग्जाम कराने की पूरी तैयारी में हैं, ऐसे में एग्जाम देने वाले महामारी के संकट में इसे लेकर उहापोह में थे. कुछ ने ईमेल लिखे कुछ ने यूपीएससी को फोन किए लेकिन सोमवार दोपहर तक कुछ न हुआ. कोई रास्ता न देख सोशल मीडिया पर एग्जाम को टलवाने के लिए मुहिम चल पड़ी. लोग पूछ रहे हैं कि कोरोना की महामारी के बीच कैसे कोई स्टूडेंट अपने सेंटरों पर पहुंचेंगे. अगर कोई बीमार हो गयास तो उसका जिम्मेदार कौन होगा?

वीरेंद्र यादव ने अपने ट्वीट में केंद्रीय मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह को टैग करते हुए लिखा

सर प्लीज यूपीएससी को ईपीएफओ का एग्जाम की तारीखें बदलने के लिए कहें. मैं राजस्थान का रहने वाला हूं और मुझे उत्तर प्रदेश का सेंटर मिला है.

रौशन ने ट्विट किया

सर हमारी दिक्कत को समझिए, आप कुछ दिन बाद भी एग्जाम ले सकते हैं. अगर हमने अपनी सेहत या जिंदगीं गंवा दी, तो यह बड़ी कीमत होगी. इसलिए 9 मई को हेने वाले ईपीएफओ एग्जाम को कृपया आगे बढ़ा दीजिए.

 

काजल सिंह ने ट्वीट किया

यूपीएससी ने भी ईपीएफओ एग्जाम के एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं. सेंटर दूसरे शहरों में हैं. स्टूडेंट्स ऐसे गंभीर हालात में यात्रा करने का रिस्क नहीं ले सकते. कृपया इस एग्जाम को आगे बढ़ाने की कृपा करें.

मामला सिर्फ एग्जाम को आगे बढ़ाने को लेकर नहीं बल्कि लोग अपने सेंटर की दूरी से भी परेशान हैं. ओडिशा में रहने वाली निवेदिता ने यूपीएससी से सेंटर बदलने की फरियाद लगाते हुए ट्वीट किया.

मैं प्रार्थना करती हूं कि मेरा सेंटर संभलपुर से बदल कर कटक कर दिया जाए. मैं भुवनेश्वर में रहती हूं यहां से कोरोना के हालात में 316 किलोमीटर दूर सेंटर पर जाना मुमकिन नहीं है. जब सेंटर बदलने को पहले कहा गया था तब भी मेरा सेंटर नहीं बदला गया. और अब हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं.

 

आशीष श्रीवास्तव ने ट्वीट किया

मेरे पास यूपीएससी के मैनेजमेंट को लेकर कोई शब्द ही नहीं हैं. मैं नहीं समझ पा रहा हूं कि कैसे वो इस महामारी के बीच एडमिट कार्ड रिलीज़ कर सकते हैं. क्या आपलोग इस बात को लेकर गंभीर हैं कि 14-15 लाख लोगों को इस एग्जाम में बैठने के लिए कह रहे हैं.

आखिर टल ही गया एग्जाम

तकरीबन हर बड़ा राज्य कोरोना की मार झेल रहा है. यूपी से लेकर बिहार तक और महाराष्ट्र से लेकर झारखंड तक हर जगह न सिर्फ केस तेजी से बढ़ रहे हैं, बल्कि मौत की खबरें भी आ रही हैं. ऐसे में कई राज्य सख्त लॉकडाउन लाने पर विचार कर रहे हैं. हालातों को देखते हुए UPSC ने भी सोमवार शाम आते-आते 9 मई को होने वाले UPSC EPFO एक्जाम को अगली सूचना तक के लिए टाल दिया है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक यूपीएसी ने यह फैसला कोरोना की वजह से पल-पल बदलते हालातों को देखते हुए लिया है.देर ही सही लेकिन यूपीएससी का यह एग्जाम देने वालों के लिए अच्छी खबर आ ही गई.

वीडियो – पड़ताल: क्या लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला की बेटी बिना UPSC एग्ज़ाम दिए ही IAS बन गईं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.