Submit your post

Follow Us

अंबानी और अडानी का बायकॉट क्यों कर रहे हैं किसान?

कृषि कानूनों पर सरकार और किसान संगठनों के बीच कई दौर की बातचीत के बाद भी कोई हल नहीं निकल पाया है. गृह मंत्री अमित शाह की एंट्री के बाद सरकार कानूनों में संशोधन के लिए तैयार हो गई. प्रस्ताव प्रदर्शन स्थल पर भेजा गया. लेकिन किसान संगठनों ने कह दिया कि कानून वापस होने तक कोई समझौता नहीं. किसानों ने आंदोलन और तेज़ करने का भी ऐलान कर दिया है. 14 दिसंबर को ‘दिल्ली चलो’ और देशभर में प्रदर्शन का ऐलान किया गया है. किसानों ने 12 दिसंबर को टोल प्लाजा बंद करने की बात कही है. लेकिन किसानों की मांगों में एक बात गौर करने वाली है, वो है रिलायंस और अडानी जैसे कॉरपोरेट्स का बहिष्कार. इसके पीछे क्या वजह है, आइए जानते हैं-

भारतीय किसान यूनियन के नेता जगजीत सिंह दल्लेवाल ने ‘द लल्लनटॉप’ से बातचीत में कहा,

”अंबानी-अडानी के जितने भी प्रोडक्ट्स हैं, उनका हम बहिष्कार करेंगे. हम किसानों और देशवासियों को प्रेरित करेंगे. ये लोग देश को लूटना चाहते हैं.”

किसान नेताओं का कहना है कि किसान रिलायंस जियो के सिम इस्तेमाल नहीं करेंगे. ऐसी तस्वीरें भी आईं, जिसमें किसान जियो के सिम जला रहे हैं. जिनके पास पहले से जियो के सिम हैं, उन्हें दूसरे सर्विस प्रोवाइडर में पोर्ट कराने की अपील की गई है. इसके अलावा रिलायंस के पेट्रोल पंप का बायकॉट करने की बात भी कही गई है.

भारतीय किसान यूनियन के जगजीत सिंह दल्लेवाल. फोटो: The Lallantop
भारतीय किसान यूनियन के जगजीत सिंह दल्लेवाल. फोटो: The Lallantop

लेकिन अडानी-अंबानी निशाने पर क्यों? 

किसानों का शुरू से ही आरोप है कि नए कानून में कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग के नियम से उनकी ज़मीन खतरे में है. ऐसा करके सरकार कॉरपोरेट्स की मदद करना चाहती है. अडानी ग्रुप को लेकर विवाद तब हुआ, जब किसान संगठनों ने आरोप लगाया कि वह अनाज भंडारण के लिए स्टोरेज फैसिलिटी तैयार कर रहा है ताकि अनाज इकट्ठा करके उन्हें ऊंचे दाम पर ओपन मार्केट में बेचा जा सके. सार्वजनिक वितरण (PDS) यानी राशन में बांटने के लिए किसानों से फसलों की खरीद फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (FCI) करता है. किसान संगठनों का ये भी आरोप है कि अनाज की आवाजाही में अडानी ग्रुप की सहायता के लिए एक प्राइवेट रेलवे लाइन का इस्तेमाल किया जा रहा है.

अडानी ग्रुप की तरफ से इन आरोपों का खंडन किया गया है. ट्विटर हैंडल पर जारी बयान में कंपनी ने कहा,

अडानी ग्रुप साल 2005 से FCI के लिए अनाज भंडारणगृह बना रहा है और इन्हें ऑपरेट कर रहा है. ये भंडारणगृह भारत सरकार की तरफ से तय मापदंडों पर बोली के जरिए बनाए जाते हैं. भंडारण की मात्रा और अनाज के दाम तय करने में कंपनी का कोई रोल नहीं है. हम FCI के लिए सिर्फ सर्विस/इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोवाइडर हैं. FCI सार्वजनिक वितरण के लिए अनाज की खरीद और मूवमेंट करता है. किसानों से खरीदा गया अनाज हमारा नहीं होता, इसलिए अनाज के दाम से भी हमारा संबंध नहीं है. इस तरह का भंडारण किसानों के हित में है और वही इसके प्राथमिक लाभार्थी हैं. 

रेलवे लाइन वाले आरोप पर कंपनी ने कहा कि ये प्रोजेक्ट FCI की तरफ से फसल संबंधी प्रोजेक्टों का हिस्सा है, जो कई कंपनियों को दिया गया है. अडानी ग्रुप ने कहा है कि भ्रामक जानकारी फैलाकर एक ज़िम्मेदार कॉर्पोरेट ग्रुप की छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है.

जियो कृषि ऐप

रिलायंस के विरोध की बात करें तो साल 2017 में मुकेश अंबानी ने कृषि क्षेत्र में निवेश की इच्छा जताई थी. जियो प्लेटफॉर्म की फेसबुक के साथ बड़ी पार्टनरशिप हुई है. दोनों की नज़र देश के छोटे बिजनेस वर्ग पर बताई जाती है. जियोकृषि नाम का एक ऐप है. रिलायंस का कहना है कि ऐप का उद्देश्य खेत से लेकर आपके खाने की प्लेट तक सप्लाई चेन बनाना है. लेकिन किसान संगठन कह रहे हैं कि अंबानी जैसे कारोबारियों को कृषि क्षेत्र में बड़ा मुनाफा दिख रहा है और इन कानूनों से उनको ही फायदा होगा.


सीनियर वकील प्रशांत भूषण ने किसान आंदोलन और सुप्रीम कोर्ट में भ्रष्टाचार पर क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम की सूची में शामिल ये जज देश की पहली महिला CJI हो सकती हैं?

सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम की सूची में शामिल ये जज देश की पहली महिला CJI हो सकती हैं?

CJI एनवी रमना की अध्यक्षता वाले सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने 9 जजों के नाम की सिफारिश की.

अमरीका में बजी फ़ोन की घंटी और अफ़ग़ानिस्तान से 120 भारतीय नागरिक बचकर इंडिया आ गए!

अमरीका में बजी फ़ोन की घंटी और अफ़ग़ानिस्तान से 120 भारतीय नागरिक बचकर इंडिया आ गए!

भारत की धरती पर उतरते ही यात्रियों ने लगाए भारत माता की जय के नारे.

काबुल से निकलने के लिए लगाई जान की बाजी, हवाई जहाज पर लटके लोग आसमान से गिरे!

काबुल से निकलने के लिए लगाई जान की बाजी, हवाई जहाज पर लटके लोग आसमान से गिरे!

वीडियो में देखिए काबुल एयरपोर्ट के रूह कंपाने वाले हालात.

स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से PM मोदी ने किस-किसका शुक्रिया अदा किया?

स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से PM मोदी ने किस-किसका शुक्रिया अदा किया?

100 लाख करोड़ की गतिशक्ति योजना लॉन्च होगी.

शौर्य चक्र से सम्मानित इन 6 जवानों की कहानियां हर किसी को सुननी चाहिए

शौर्य चक्र से सम्मानित इन 6 जवानों की कहानियां हर किसी को सुननी चाहिए

कैप्टन आशुतोष कुमार को मरणोपरांत शौर्य चक्र मिल रहा है.

पेट्रोल के दाम में भारी कटौती हो गई है!

पेट्रोल के दाम में भारी कटौती हो गई है!

कुछ पैसों की नहीं, पूरे 3 रुपये की कटौती हुई है!

तेज प्रताप यादव पत्रकारों को किस बात पर धमका रहे हैं?

तेज प्रताप यादव पत्रकारों को किस बात पर धमका रहे हैं?

पोस्टर वॉर के पीछे की कहानी क्या है?

हरियाणा में कई सरकारी भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक होने का दावा, सवालों के घेरे में HSSC

हरियाणा में कई सरकारी भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक होने का दावा, सवालों के घेरे में HSSC

3 साल बाद हुई कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा को भी पेपर लीक कांड के बाद रद्द कर दिया गया है.

Ujjwala Yojana 2.0: मोदी सरकार की फ्लैगशिप स्कीम में नया क्या है?

Ujjwala Yojana 2.0: मोदी सरकार की फ्लैगशिप स्कीम में नया क्या है?

पीएम मोदी ने मंगलवार को उज्ज्वला योजना के दूसरे संस्करण की शुरुआत की.

दलितों के लिए आपत्तिजनक बातें कहने वाली एक्ट्रेस मीरा के खिलाफ पुलिस ने एक्शन लिया

दलितों के लिए आपत्तिजनक बातें कहने वाली एक्ट्रेस मीरा के खिलाफ पुलिस ने एक्शन लिया

पुलिस ने 7 धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. 'बिग बॉस' का हिस्सा रह चुकी हैं मॉडल कम एक्ट्रेस मीरा मिथुन.