Submit your post

Follow Us

भारत में कहर ढा रहे कोरोना के ट्रिपल म्यूटेंट वायरस को लेकर WHO भी चिंता में

भारत में जिस तरह से कोरोना महामारी कहर ढा रही है, क्या वह दुनिया के लिए खतरा बन सकती है? भारत में संक्रमण के लिए जिस ट्रिपल म्यूटेंट वायरस को काफी हद तक जिम्मेदार माना जा रहा है, उसे लेकर वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने चिंता जताई है. इसे लेकर सतर्क रहने की हिदायत दी है.

बेहत तेजी से फैलता है ये वैरिएंट

WHO की टेक्निकल हेड मरिया वान केरखोव ने CNBC को बताया कि शुरुआती स्टडी में पाया गया है कि वायरस का B.1.617 वैरिएंट ओरिजनल वायरस से ज्यादा तेजी से फैलता है. क्या ये वैरिएंट वैक्सीन से मिली सुरक्षा को भी कुछ हद तक छका सकता है, इस पर रिसर्च चल रही है. हालांकि वैक्सीन अब भी काफी कारगर है. एजेंसी इस बारे में जल्द ही ज्यादा जानकारी जारी करेगी.

मरिया का कहना है-

हम वायरस के इस वैरिएंट को दुनियाभर के लिए चिंता का विषय मानकर चल रहे हैं. यह हमारे लिए फिलहाल ‘वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट’ बना हुआ है. हमें शुरुआती स्टडी में पता चला है कि इस वैरिएंट की संक्रमण क्षमता काफी ज्यादा है. हम वायरस के इस वैरिएंट के बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने में लगे हुए हैं. इसके लिए हमें ज्यादा सीक्वेंसिंग की जरूरत होगी.

WHO ने पिछले हफ्ते कहा था कि वह दुनियाभर में कोरोना वायरस के 10 वैरिएंट्स पर नजर बनाए हुए हैं. इसमें B.1.617 नाम का वैरिएंट भी शामिल है, जिसने भारत में कहर ढा रखा है. इस वैरिएंट को WHO ने फिलहाल ‘वैरिएंट ऑफ इंटरेस्ट’ की कैटेगिरी में रखा गया है. इस कैटेगिरी का मतलब यह है कि शुरुआती लक्षणों के हिसाब से यह चिंता बढ़ाने वाला है. इसके बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने की जरूरत है. अगर इसे WHO अपनी जांच में ज्यादा घातक पाता है तो ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ की कैटेगिरी में रख सकता है. मतलब इससे पूरी दुनिया के लिए चिंता बढ़ सकती है.

मारिया ने बताया-

मतलब साफ है कि आप घर में हैं और आपके आसपास किसी भी तरह का कोरोना संक्रमण है तो यह आपके लिए चिंता का विषय होना चाहिए. हम कहीं भी हों, हमारे आसपास कोई भी वैरिएंट एक्टिव हो, हमें पूरी तरह से सतर्क रहना है. हर वह कदम उठाना है, जिससे हम बीमार होने से बचें.

बता दें कि WHO किसी भी वायरस को ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ की कैटेगिरी में तभी डालता है, जब उसके तेजी से फैलने, ज्यादा मृत्युदर और वैक्सीन के बेअसर होने के लक्षण देखता है. हालांकि WHO ने 10 मई को फिर से दोहराया कि कोरोना की वैक्सीन अब भी असरदार है. इससे संक्रमण होने के बाद मौत का खतरा कम हो जाता है.

वायरस का ट्रिपल म्यूटेंट वैरिएंट क्या है?

जैसे वक्त के बारे में यह निश्चित है वह बदलेगा जरूर, वैसे ही वायरस के बारे में भी निश्चित है कि वह रूप बदलता है. भारत में एक्टिव कोरोना वायरस के वैरिएंट जिसे B.1.617 का नाम दिया गया, उसमें SARS-CoV-2 के दो म्यूटेंट हैं. मतलब SARS-CoV-2 का जो वायरस था, उसमें अब दो बड़े बदलाव आ गए हैं. इन बदलावों का नाम है E484Q और L452R. E484Q म्यूटेंट ब्रिटेन और साउथ अफ्रीका में पाए गए कोरोना वायरस वैरिएंट्स से मिलते जुलते हैं. इसी तरह से L452R वैरिएंट की वजह से अमेरिका के कैलिफोर्निया में तेजी से वायरस फैला था.

ये दोनों बदलाव दूसरे देशों में पाए गए कोरोना वायरस के वैरिएंट्स में भी पाए गए हैं. लेकिन यह पहली बार भारत में ही हुआ है कि एक ही वैरिएंट में दोनों बदलाव आ गए हों. इस तरह से इसे डबल म्यूटेंट वाला कोरोना वायरस कहा गया. वायरस के कुछ सैंपल में डबल वैरिएंट में हुए बदलाव के अलावा भी बदलाव देखे गए हैं. मतलब ये कि E484Q और L452R के अलावा कुछ और भी देखने को मिला है. इसे ही ट्रिपल वैरिएंट कहा जा रहा है. फिलहाल वैज्ञानिक इस पर ज्यादा जानकारी जुटाने के लिए सीक्वेंसिंग करने में जुटे हैं.


वीडियो – कोरोना के डबल म्यूटेंट से हाहाकार के बीच ट्रिपल म्यूटेंट ने दी दस्तक!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

केंद्रीय मंत्री पद से हटाए जाने के बाद भाजपा छोड़ी थी.

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

कहानी में एक और किरदार सामने आया है, राज फौजदार.

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

पुलिस ने बीकानेर, जयपुर, पाली और उदयपुर से 17 लोगों को गिरफ्तार किया है.

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

दिल्ली पुलिस ने 6 संदिग्धों को गिरफ्तार कर कई दावे किए हैं.

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीर ने ये भी कहा कि कई मुस्लिम अपने पिता को बाबा भी कहते हैं.

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

पूर्व पत्नी ने लगाया रेप के प्रयास का आरोप, AIMIM नेता ने कहा- बेबुनियाद.

75 साल बाद नर्सिंग के पाठ्यक्रम में किए गए बड़े बदलाव हैं क्या?

75 साल बाद नर्सिंग के पाठ्यक्रम में किए गए बड़े बदलाव हैं क्या?

ये बदलाव जनवरी 2022 से लागू होंगे.

पश्चिम बंगाल के पूर्व CM बुद्धदेव भट्टाचार्य की साली बेघर हैं, फुटपाथ पर सोती हैं

पश्चिम बंगाल के पूर्व CM बुद्धदेव भट्टाचार्य की साली बेघर हैं, फुटपाथ पर सोती हैं

इरा बसु वायरोलॉजी में PhD हैं और 30 साल से भी ज्यादा समय तक पढ़ाया है.

'माओवादी' बताकर CRPF ने 8 आदिवासियों का एनकाउंटर किया था, 8 साल बाद ये 'एक भूल' साबित हुई है

'माओवादी' बताकर CRPF ने 8 आदिवासियों का एनकाउंटर किया था, 8 साल बाद ये 'एक भूल' साबित हुई है

यहां तक कि CRPF कान्स्टेबल की मौत भी फ्रेंडली फायर में हुई थी!

अक्षय कुमार की मां का निधन

अक्षय कुमार की मां का निधन

अपने जन्मदिन से सिर्फ एक दिन पहले अक्षय को मिला गहरा सदमा.