Submit your post

Follow Us

जब सचिन ने बाहर बैठे-बैठे विराट को एंडरसन की काट बता दी!

साल 2014 में विराट कोहली का इंग्लैंड दौरा उनके करियर का सबसे खराब रहा. उस दौरे पर जेम्स एंडरसन की गेंदों पर विराट कोहली बुरी तरह से फ्लॉप हुए. वापस आकर उन्होंने सचिन से मदद मांगी. सचिन तेंडुलकर विराट कोहली को एंडरसन से निपटने का फॉर्मूला बताया और फिर अगले दौरे पर विराट ने बेहतरीन वापसी की.

इंडिया टुडे के शो इंस्पिरेशन में सचिन तेंडुलकर ने बताया कि किस तरह से उन्होंने जेम्स एंडरसन की गेंदबाज़ी से निपटने का तरीका बताया. सचिन ने विराट पर कहा,

”सबसे पहले तो मैं इस बात से बहुत खुश हूं कि ये विराट के लिए काम कर गया, मैंने इस बारे में कभी भी किसी को नहीं बताया, मैं इसे ऐसे ही रखना चाहता हूं. मैं इतना ही कहना चाहता हूं कि उन्हें देखना खुशी देने वाला था.”

सुरेश रैना रिटायरमेंट, कैसे टीम इंडिया के लाल बहादुर शास्त्री बन गए रैना: 

सचिन ने बताया कि उन्होंने ब्रायन लारा के साथ भी एंडरसन की स्विंग पर बात की थी. उन्होंने कहा,

”कुछ समय पहले मुझे याद है कि मैं अपने दोस्त ब्रायन लारा के साथ 100 एमबी पर बातचीत कर रहा था. तब हम बहुत सारी चीज़ों पर बात कर रहे थे. जिनमें से एक जिमी एंडरसन की रिवर्स स्विंग गेंदबाज़ी भी थी. क्योंकि उन्हें मैं रिवर्स-स्विंग गेंदबाज़ी के बेहतरीन गेंदबाज़ों में एक मानता हूं. वो नई गेंद के साथ भी कमाल हैं. लेकिन मुझे लगता है रिवर्स से वो अलग तरह की गेंदबाज़ी करते थे.”

सचिन ने एंडरसन की गेंदबाज़ी और बल्लेबाज़ों की गलती पर आगे बताया,

”मैंने कहा कि अगर उसे आउट स्विंग फेंकनी है तो वो गेंद की शाइन को बाहर की तरफ रखेगा. लेकिन बहुत सारे बैट्समैन गेंदबाज़ की रिस्ट पोज़ीशन भी देखते हैं. एक गेंदबाज़ को परखने के लिए कुछ बल्लेबाज़ उसकी रिस्ट देखते हैं, कई बार रिस्ट पोज़ीशन इनस्विंग गेंद की पोज़ीशन में होती है और बल्लेबाज़ उसके लिए तैयार भी होता है, लेकिन जब गेंद आती है तो वो बाहर निकलने लगती है.”

”उस वक्त बल्लेबाज़ दिमाग बना चुका होता है तो उसके लिए गेंद खेलना आसान नहीं रहता. गेंद को खेलने के लिए उसके हाथ आगे बढ़ते भी हैं तो पूरा शरीर उस पोज़ीशन में नहीं आ पाता. मैंने जिमी एंडरसन के बारे में ये ही सोचा कि वो बल्लेबाज़ों के साथ ऐसा ही करते हैं. जिमी एंडरसन की रिवर्स-स्विंग गेंदबाज़ी को लेकर ये मेरा आंकलन था.”

सचिन ने आगे कहा कि ज़िंदगी हो या फिर खेल हमें हमेशा सीखते रहना चाहिए. सचिन ने कहा,

”मैं तो यही कहना चाहूंगा कि ज़िंदगी हो या खेल. मेरे पिता और मेरे कोच आचरेकर सर मुझे हमेशा यही कहते थे कि अगर तुम जिंदगी में बढ़ना चाहते हो तो तुम्हें स्टूडेंट बनना पड़ेगा. मैंने हमेशा उनकी इस बात को सुना और हमेशा चीज़ों को सीखने के लिए तैयार रहा. कभी मुझे लगा कि मुझे अपनी चीज़ों को किसी के साथ शेयर करना चाहिए तो वो भी किया. क्योंकि मुझे लगता है कि सीखना कभी नहीं रुकता. हमें हमेशा खुले दिमाग के साथ चीज़ों को स्वीकार करना चाहिए और फिर विचार करना चाहिए कि ये हमारे लिए काम कर हा है या नहीं.”

सचिन ने बताया कि जब वो टीम में थे तब भी वो इसी सोच के साथ खेलते थे. सचिन ने बताया,

”जब मैं टीम का सबसे जूनियर प्लेयर था, तब भी मैं सीनियर मोस्ट मेंबर्स के पास चला जाता था. और मैं फील्ड पर ही बोल देता था कि मुझे ऐसा लगता है. फिर वो उनपर है कि वो उसके बारे में क्या सोचते हैं, क्योंकि उनके पास अनुभव है, बहुत से मैच खेले हैं. लेकिन मैं टीम का मेंबर हूं इसलिए ये मेरी ज़िम्मेदारी होती थी कि मैं जाकर उनसे अपनी राय साझा करूं. बिल्कुल ऐसा ही मैं अपनी टीम के जूनियर खिलाड़ियों के साथ भी करता था.”


सचिन के गुरुमंत्र से ऑस्ट्रेलिया पर क्या खूब बरसे विराट कोहली:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सामने आया 8 जून का रिया और महेश भट्ट का चैट, रिया ने कहा था, 'आपने मेरे पंखों को आज़ाद किया है'

पढ़िए 8 जून की चैट, जिस दिन रिया सुशांत सिंह के घर से चली गयी थीं.

प्रशांत भूषण ने कही ये बात, तो कोर्ट बोला- हजार अच्छे काम से गुनाह करने का लाइसेंस नहीं मिल जाता

बचाव में उतरे केंद्र की अपील, सजा न देने पर विचार करें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दो-तीन दिन का वक्त

सुशांत पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच का आदेश दिया, महाराष्ट्र के वकील को आपत्ति

कोर्ट ने कहा, सारे काग़ज़ CBI को दे दीजिए.

बिहार : महीनों से बिना सैलरी के पढ़ा रहे हैं गेस्ट टीचर, मांगकर खाने की आ गई नौबत!

इस पर अधिकारियों ने क्या जवाब दिया?

सलमान खान की रेकी करने वाला शार्प शूटर पकड़ा गया

जनवरी में रची गई थी सलमान खान की हत्या की साजिश!

रोहित शर्मा और इन तीन खिलाड़ियों को मिलेगा इस साल का खेल रत्न!

इसमें यंग टेबल टेनिस सेंसेशन का भी नाम शामिल है.

प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक पंडित जसराज नहीं रहे

पिछले कुछ समय से अमेरिका में रह रहे थे.

प. बंगाल: विश्व भारती यूनिवर्सिटी में जबरदस्त हंगामा, उपद्रवियों ने ऐतिहासिक ढांचे भी ढहाए

एक फेमस मेले ग्राउंड के चारों तरफ दीवार खड़ी की जा रही थी.

धोनी के 16 साल के क्रिकेट करियर की 16 अनसुनी बातें

धोनी ने रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है.

धोनी के तुरंत बाद सुरेश रैना ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा

इंस्टाग्राम पोस्ट के ज़रिए रिटायरमेंट की बात बताई.