Submit your post

Follow Us

जब शिवसेना ने दिलीप कुमार से कहा, 'साबित करो कि असली हिंदुस्तानी हो'

साल 1998. पाकिस्तान सरकार ने फैसला किया कि वो एक हिंदुस्तानी एक्टर को अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘निशान-ए-इम्तियाज़’ से नवाज़ेगी. वो एक्टर थे दिलीप कुमार. उस वक्त पाकिस्तान में नवाज़ शरीफ की सरकार थी. दिलीप कुमार पाकिस्तान पहुंचे और सम्मानित हुए. अब तक के इतिहास में वो इकलौते इंडियन एक्टर रहे जिन्हें ‘निशान-ए-इम्तियाज़’ से सम्मानित किया गया. पेशावर में जन्मे दिलीप कुमार इससे पहले पद्म भूषण से भी सम्मानित किए गए थे. साल 1991 में. लेकिन वो पाकिस्तानी सम्मान था, जिसकी वजह से उनका नाम कंट्रोवर्सी के साथ जोड़ा गया.

बवाल शुरू हुआ उनके अवॉर्ड मिलने के ठीक एक साल बाद. 03 मई, 1999 को पाकिस्तानी सेना ने इंडिया के बॉर्डर में घुसपैठ की. दोनों सेनाओं में भीषण युद्ध हुआ. जिसे हम कारगिल युद्ध के नाम से जानते हैं. युद्ध के दौरान पाकिस्तान को लेकर लोगों में भयंकर गुस्सा था. उस समय की नवाज़ शरीफ सरकार ने पहले तो इंडिया से अच्छे संबंध बनाने की बात की. उसके बाद घुसपैठ कर दी. आम नागरिकों से लेकर नेताओं तक, सब पाकिस्तान पर बरस रहे थे. महाराष्ट्र में शिवसेना ने भी खूब बवाल मचाया. दिलीप कुमार पर दबाव बनाया कि वो पाकिस्तानी सम्मान लौटा दें. उस समय इंडिया के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी थे. पॉलिटिक्स गर्माती हुई देख, उनपर भी दबाव बढ़ने लगा. कि वो दिलीप कुमार को सम्मान वापस करने के लिए मनाएं.

Dilip Kumar 4
हिंदुस्तान हो या पाकिस्तान, दिलीप कुमार को हर जगह भरपूर प्यार मिला.

बीजेपी का नाम कंट्रोवर्सी से बचाने के लिए उस समय के पार्टी जनरल सेक्रेटरी नरेंद्र मोदी ने कहा कि दिलीप कुमार को अवॉर्ड लौटाना चाहिए या नहीं, इसका फैसला उनके विवेक पर छोड़ देना चाहिए. जब शिवसेना ने दिलीप कुमार की मंशा पर सवाल उठाए तो वो भी चुप नहीं रहे. जवाब दिया कि वो अपने देश के लिए कुछ भी कुर्बान कर सकते हैं. उस समय पीटीआई से बात करते हुए कहा,

अवॉर्ड क्या है? अपने देश और उसके मान के लिए सब कुछ न्योछावर कर देना चाहिए.

दिलीप कुमार को निराशा भी थी. कि कैसे राजनीति साधने के लिए उनपर गैर-जरुरी दबाव बनाया जा रहा था. इसपर उन्होंने कहा,

इतनी छोटी-सी बात के लिए इतना शोर मचाया जा रहा है. जैसे कोई सर्कस चल रहा हो. हमारे जवान करगिल में शहीद हो रहे हैं. क्या नेता उनके लिए कुछ नहीं कर सकते?

दिलीप कुमार के बयान के बाद भी बवाल कम नहीं हुआ. सिचुएशन काबू में न आती देख उन्होंने प्रधानमंत्री वाजपेयी से सलाह मांगी. इसके बाद वाजपेयी ने कहा कि दिलीप कुमार देश के लिए कुछ भी कुर्बान कर सकते हैं. उस समय टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए दिलीप कुमार की पत्नी सायरा बानो ने भी अपनी नाराज़गी जताई थी. कहा था,

उन्हें कला के क्षेत्र में दिए अपने योगदान के लिए ये अवॉर्ड मिला है. इसका करगिल युद्ध से क्या नाता!

शिवसेना लगातार दबाव बना रही थी. कि दिलीप कुमार कुमार अवॉर्ड वापस कर दें. तभी साबित होगा कि वो असली भारतीय हैं या नहीं. इस पर सायरा बानो ने कहा था,

उन्होंने वाजपेयी जी और राष्ट्रपति जी से बात करने के बाद पाकिस्तानी सम्मान को कुबूल किया. हमनें अपनी ज़िंदगी यहां बिता दी. क्योंकि हम मुस्लिम हैं तो क्या हमें ये साबित करना होगा कि हम इंडियन हैं या नहीं? उन्हें सिर्फ अपने धर्म की वजह से निशाना बनाया जा रहा है.

07 जुलाई, 2021 को दिलीप कुमार इस दुनिया से विदा हो गए. दिलीप कुमार इस देश के सेक्युलर कल्चर के प्रतीक थे. जो इस बात से सहमत न हों उन्हें 1993 बॉम्बे दंगों के वक्त का किस्सा पढ़ लेना चाहिए. जब दिलीप कुमार ने बिना ज्यादा सोचे अपने घर के दरवाज़े राहत कार्यों के लिए खोल दिए थे.


वीडियो: दिलीप कुमार के निधन पर PM मोदी समेत अमिताभ, शाहरुख ने दी श्रद्धांजलि

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बाबर पर बनी इस वेब सीरीज़ का ट्रेलर देखकर इसकी नई डायरेक्टर से उम्मीदें बंध गई हैं

बाबर पर बनी इस वेब सीरीज़ का ट्रेलर देखकर इसकी नई डायरेक्टर से उम्मीदें बंध गई हैं

Disney Plus Hotstar की नई वेब सीरीज़ The Empire का ट्रेलर आया.

अनिल देशमुख को फंसा देगा वो काग़ज़, जिसके लिए मुंबई पुलिस ने CBI तक को धमका दिया?

अनिल देशमुख को फंसा देगा वो काग़ज़, जिसके लिए मुंबई पुलिस ने CBI तक को धमका दिया?

क्या ये काग़ज़ CBI के हत्थे लगने से अनिल देशमुख की हालत ख़राब हो जाएगी?

'CID', 'जोधा अकबर' जैसे टीवी शोज़ में काम कर चुके एक्टर को डायबिटीज़ के चलते पैर कटवाना पड़ा

'CID', 'जोधा अकबर' जैसे टीवी शोज़ में काम कर चुके एक्टर को डायबिटीज़ के चलते पैर कटवाना पड़ा

लोकेंद्र सिंह राजावत रणबीर कपूर के साथ 'जग्गा जासूस' में भी नज़र आ चुके हैं.

मुहर्रम को लेकर यूपी पुलिस के 'गोपनीय' सर्कुलर में क्या है, जिस पर मुस्लिम धर्मगुरुओं की सख्त आपत्ति है?

मुहर्रम को लेकर यूपी पुलिस के 'गोपनीय' सर्कुलर में क्या है, जिस पर मुस्लिम धर्मगुरुओं की सख्त आपत्ति है?

यूपी पुलिस का कहना है कि उसके सर्कुलर में कुछ भी नया नहीं है.

7 लाख का इनामी गैंगस्टर काला जठेड़ी यूपी के सहारनपुर से गिरफ्तार

7 लाख का इनामी गैंगस्टर काला जठेड़ी यूपी के सहारनपुर से गिरफ्तार

साथी अनुराधा उर्फ मैडम मिंज भी गिरफ्तार.

संसद में हंगामे का नतीजा, लोकसभा में इन 5 चर्चित विधेयकों को पारित होने में एक घंटा भी नहीं लगा

संसद में हंगामे का नतीजा, लोकसभा में इन 5 चर्चित विधेयकों को पारित होने में एक घंटा भी नहीं लगा

राज्यसभा का हाल भी जान लीजिए.

धनबाद: चोरी के ऑटो से मारी थी जज को टक्कर; हादसा नहीं, हत्या है?

धनबाद: चोरी के ऑटो से मारी थी जज को टक्कर; हादसा नहीं, हत्या है?

CCTV फुटेज ने दिखाई असलियत.

चर्चित हत्याकांड की सुनवाई कर रहे जज की टेम्पो से टक्कर के बाद मौत, वीडियो ने खड़े किए सवाल

चर्चित हत्याकांड की सुनवाई कर रहे जज की टेम्पो से टक्कर के बाद मौत, वीडियो ने खड़े किए सवाल

घटना झारखंड के धनबाद की है.

बिहार के इस IAS से लोगों को इतना प्यार कि ट्रांसफर रोकने के लिए ट्विटर पर मुहिम चला दी

बिहार के इस IAS से लोगों को इतना प्यार कि ट्रांसफर रोकने के लिए ट्विटर पर मुहिम चला दी

अपने पूरे करियर में IAS रंजीत सिंह ने सराहनीय काम किए हैं.

कौन हैं बसवराज बोम्मई, जिन्हें कर्नाटक का नया सीएम बनाया गया है?

कौन हैं बसवराज बोम्मई, जिन्हें कर्नाटक का नया सीएम बनाया गया है?

27 जुलाई को बीजेपी विधायक दल की बैठक में बसवराज बोम्मई के नाम पर मुहर लग गई.