Submit your post

Follow Us

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या का मामला: उड़ना दल ने कहा- बेअदबी के चलते पीटा था

सिंघु बॉर्डर पर महीनों से कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन चल रहा है. 15 अक्टूबर को यहां हड़कंप मच गया, जब एक शव बरामद हुआ. मृत युवक की उम्र करीब 35 साल बताई जा रही है. उसकी बेरहमी से हत्या की गई है. शव विरोध प्रदर्शन के मुख्य मंच के पास बैरिकेड्स से लटका मिला. संयुक्त किसान मोर्चा का कहना है कि इस हत्या के पीछे निहंग सिख हैं.

सिंघु बॉर्डर पर ऐसा क्या हुआ कि किसी की हत्या तक कर दी गई?

पूरा घटनाक्रम

इंडिया टुडे रिपोर्टर मोहित शर्मा की ख़बर के मुताबिक मृतक की पहचान लखबीर सिंह के रूप में हुई है. ये युवक 3 दिन पहले ही सिंघु बॉर्डर आया था और यहां निहंग कैंप में रह रहा था. बताया जा रहा है कि घटना के दिन लखबीर सिंह सरबलोह ग्रंथ के साथ पाया गया. इस पर एक निहंग ने आपत्ति जताई और उससे कुछ सवाल किए. इसके बाद ही विवाद शुरू हो गया. आरोप है कि इसी के बाद निहंगों ने मिलकर लखबीर सिंह को पकड़ लिया, उसे पीटा, उसकी एक कलाई काट दी. कई वार के बाद जब लखबीर मरणासन्न हालात में आ गया तो उसे मरने के लिए छोड़ दिया गया और उसका शव बैरिकेड से टांग दिया गया.

मृतक लखबीर सिंह को तरन तारन जिले के चीमा खुर्द का रहने वाला बताया जा रहा है. उसके माता-पिता पहले ही मर चुके हैं. लखबीर की शादी हो चुकी थी लेकिन पत्नी अब उसके साथ नहीं रहती थी. तीन बेटियां हैं. तीनों पत्नी के साथ ही रहती थीं.

निहंगों का वीडियो

इस बीच निहंगों का एक वीडियो सामने आया है. इसमें निर्वैर खालसा उडना दल के बलविंदर सिंह नाम के व्यक्ति बता रहे हैं कि

“ये बंदा कुछ दिन पहले यहां आया था. उसने पहले हमारा विश्वास हासिल कर लिया कि मैं यहां रहूंगा और सेवा करूंगा. लेकिन आज रात करीब 3 बजे प्रकाश प्रार्थना के पहले उसने पोथी साहिब का अपमान किया और पवित्र ग्रंथ का रुमाल लेकर बेअदबी करने लगा. इसके बाद वो भागा, लोगों ने उसे दौड़ाकर पकड़ा. फिर सबमें आक्रोश था तो उसे पीटा गया. संगत में सबको रोष था. किसी ने कुछ किया, किसी ने कुछ किया. इतने में उसकी डेथ हो गई. हमारी मर्यादा है जो गुरु के बेअदबी करेगा हम उसका सौदा लगाते हैं. (सौदा लगाते हैं मतलब इसकी पिटाई करनी है)

बलविंदर सिंह ने ये भी कहा कि पिछले कई मामले पंजाब और अन्य स्थानों पर सामने आए हैं, जहां गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी हुई, आरोपी को पकड़कर पुलिस को दिया गया लेकिन पुलिस ने बाद में छोड़ दिया. उन्होंने कहा कि अब ऐसा नहीं होने देंगे और जहां भी ऐसा मामला आया तो उसकी पिटाई की जाएगी. उनसे पूछा गया कि ऐसी भी बातें आ रही हैं कि उस युवक को किसी ने भेजा था तो उन्होंने कहा कि उनके पास अभी वो फोन नहीं है, जिसमें सारी रिकॉर्डिंग हैं. जब वो फोन पास में होगा तो प्रूफ के साथ बताएंगे.

इस मामले में सामने आई FIR कॉपी के मुताबिक IPC की धारा 302 यानी हत्या और धारा 34 यानी कुछ लोगों द्वारा मिलकर एक ही उद्देश्य से किए गए अपराध के संबंध में केस दर्ज किया गया है.


सिंघु बॉर्डर पर किसानों के साथ लंगर खाने के बाद किसने की फायरिंग?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?