Submit your post

Follow Us

BJP ने इंडिया टुडे के पत्रकार को बंगाल हिंसा में मरा बताया, खुद पोस्ट किया- अभी तो ज़िंदा हूं

2 मई को पश्चिम बंगाल चुनाव के नतीजे आए. तृणमूल कांग्रेस ने प्रचंड जीत दर्ज़ की. चुनाव नतीजे आने के साथ बंगाल से हिंसा की रिपोर्ट्स आईं. 5 मई को बीजेपी पश्चिम बंगाल ने अपने फेसबुक और ट्विटर पेज पर 5:28 मिनट का एक वीडियो शेयर किया. इस वीडियो में बीजेपी ने दावा किया कि माणिक मोइत्रा (Manik Moitra) नाम का एक आदमी कूच बिहार जिले के सीतलकुची (Sitalkuchi) में मारा गया. लेकिन बीजेपी के इस वीडियो में माणिक मोइत्रा के लिए जिस आदमी की तस्वीर इस्तेमाल की गई उनका नाम अभ्रो बनर्जी (Abhro Banerjee) है और वह इंडिया टुडे ग्रुप के पत्रकार हैं.

मामला बढ़ने और वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी पश्चिम बंगाल ने अपने पेज से इन वीडियो को हटा लिया है. लेकिन वीडियो हटाए जाने से पहले कई लोगों ने वीडियो देख लिया था. ऐसे में कई लोगों ने इस वीडियो के स्क्रीनशॉट लेकर रख लिए और बीजेपी पर निशाना साधा. लोगों ने कहा कि बीजेपी फेक न्यूज़ फैला रही है, कइयों ने तो यहां तक लिखा कि बीजेपी पश्चिम बंगाल में अशांति फ़ैलाने के लिए ये सब कुछ कर रही है.

BJP इंडिया के सोशल मीडिया पेज पर अब भी मौजूद हैं ये पोस्ट

बीजेपी पश्चिम बंगाल द्वारा डिलीट किए गए फेसबुक पोस्ट और ट्विटर पोस्ट के लिंक देख सकते हैं. BJP इंडिया के फेसबुक और ट्विटर पेज पर भी यह वीडियो शेयर की गई थी जिसे बाद में हटा दिया गया. BJP इंडिया के फेसबुक और ट्विटर आकाईव पोस्ट्स यहां देख सकते हैं.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट मुताबिक़ बीजेपी ने मामले को लेकर सफाई दी है. कहा कि हाइपरलिंक की गलती से ऐसा हुआ है. बीजेपी ने कहा है कि अभ्रो बनर्जी की तस्वीर का इस्तेमाल गलती से हुआ है लेकिन राजनीतिक हिंसा में सीतलकुची में पार्टी कार्यकर्ता माणिक मोइत्रो की मौत हो गई है.

मामले को लेकर अभ्रो बनर्जी क्या कह रहे?

अभ्रो ने बताया है कि 6 मई को थोड़ी देर से उठा तो देखा कि कई कॉल्स आए हुए हैं. फिर उन्हें पता चला कि बीजेपी ने माणिक मोइत्रा की जगह उनकी तस्वीर किसी वीडियो में लगी दी है. अभ्रो हैरान हैं कि वह घटनास्थल के करीब 1300 किलोमीटर दूर हैं और उनको लेकर गलत जानकारी फैलाई गई. बता दें कि अभ्रो बनर्जी मौजूदा वक्त में दिल्ली में हैं और इंडिया टुडे के साथ काम कर रहे हैं. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा-

मैं अभ्रो बनर्जी हूं. सीतलकुची से करीब 1300 किलोमीटर दूर मैं एकदम फिट हूं. बीजेपी आईटी सेल का दावा है कि मैं माणिक मोइत्रा हूं जिसकी सीतलकुची में मौत हो गई. कृपया इन पोस्ट्स पर यकीन नहीं करें. ये फेक हैं. और चिंता न करें. मैं फिर से कह रहा- मैं जिंदा हूं.

पश्चिम बंगाल में हिंसा जारी

BJP और CPI(M) से जुड़े कई नेताओं ने कहा है कि पश्चिम बंगाल चुनाव नतीजे के बाद से उनकी पार्टी के कई ऑफिस तबाह कर दिए गए हैं. कार्यकर्ताओं को टारगेट किया जा रहा, उन्हें मारा जा रहा. उनके घर तोड़े जा रहे. इंडिया टुडे की रिपोर्ट मुताबिक़ चुनाव नतीजे के बाद हुई हिंसा में कम से कम 6 लोगों की मौत हो गई है. BJP का दावा है कि उनके 14 कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है. बीजेपी से जुड़े लोगों ने हिंसा के दौरान महिलाओं के साथ गैंगरेप की बात भी कही थी, जिसे पश्चिम बंगाल पुलिस ने झूठा बताया है.


वीडियो- बंगाल में हुई हिंसा का वीडियो वायरल हुआ तो ममता बनर्जी और BJP अलग-अलग दावे करने लगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

जानिए न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत के हालात पर क्या लिखा है.

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

यूपी जैसे बड़े राज्य में केवल 1 प्लांट ही लगा.