Submit your post

Follow Us

पहले अमित शाह को घर पर भोज दिया, कुछ ही घंटे बाद ममता का राग गाने लगे

बीजेपी इस वक्त अपने बंगाल मिशन पर है. पश्चिम बंगाल में इलेक्शन जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, बीजेपी के बड़े नेताओं का फोकस राज्य की तरफ बढ़ रहा है. रविवार को इसी मिशन पर निकले गृहमंत्री अमित शाह ने परंपरागत बाउल गायक बसुदेव दास के साथ भोज किया. शाह के सामने कुछ गाने भी गाए. लेकिन बुधवार आते-आते अमित शाह के साथ भोज करने वाले बाउल गायक के सुर बदल गए.

टीएमसी नेता की मुलाकात के बाद बदले तेवर

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक, अमित शाह और बाउल गायक की रविवार को मुलाकात के बाद तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने बसुदेव दास बाउल से संपर्क किया. तृणमूल कांग्रेस की तरफ से बीरभूमि जिले के पार्टी प्रमुख अणुब्रत मंडल ने मंगलवार को बाउल गायक से मुलाकात की. इसके बाद बसुदेव दास की तरफ से बीजेपी के बारे में बयान आया. दास ने कहा-

अमित शाह मेरे घर आए थे. उन्होंने भोजन किया, और चले गए. मुझे उनसे बात करने का मौका भी नहीं मिला. उन्होंने मेरी सहायता के बारे में कुछ नहीं कहा. अमित शाह के वापस जाने के बाद भी किसी ने मुझसे संपर्क नहीं किया. मुझे लगा कि मैं गृह मंत्री से अपनी बेटी की उच्च शिक्षा को लेकर कुछ मदद मांगूंगा.

उन्होंने कहा कि वह 29 दिसंबर को होने वाली ममता बनर्जी की रैली में भी परफॉर्म करेंगे.

Sale(707)
रविवार को गृह मंत्री अमित शाह ने बाउल गायक के घर पर भोजन किया था. इस दौरान गायक ने कुछ प्रस्तुतियां भी दीं. 

टीएमसी ने शाह के दौरे को बताया ड्रामा

तृणमूल पार्टी के नेता अणुब्रत मंडल ने कहा कि वह बसुदेव दास की बेटी की पढ़ाई में मदद करेंगे. उन्होंने कहा-

अमित शाह आए और ड्रामा करके चले गए. वह किसी की भलाई को लेकर गंभीर नहीं थे. हम बसुदेव की बेटी की उच्च शिक्षा का सारा खर्च उठाने के लिए तैयार हैं.

बीजेपी ने भी टीएमसी के बयान पर पलटवार किया. बीजेपी ने कहा कि पिछले 10 साल से तृणमूल कांग्रेस को बसुदेव की याद नहीं आई. बीजेपी के नेशनल सेक्रेटरी अनुपम हाजरा ने कहा-

पिछले 10 साल से तृणमूल कांग्रेस को इस परिवार की तरफ देखने की फुर्सत नहीं थी. अब अमित शाह उनके घर पर गए, तब टीएमसी ने मदद का फैसला लिया है. इस हिसाब से बीजेपी ही इस तरह के परिवारों को आगे लाकर पहचान दिलाने और मदद का काम कर रही है.

बीजेपी ऐसा कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहती, जिससे सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस को नर्वस किया जा सके. हाल ही में टीएमसी के कई बड़े नेताओं ने बीजेपी का दामन थाम लिया था. बीजेपी सीएम ममता बनर्जी पर भी तानाशाही का आरोप लगाती रही है. ममता भी खूब पलटवार कर रही हैं.


वीडियो – 23 साल पहले ऐसा क्या हुआ जो सोनिया से दोस्ती के बावजूद ममता बनर्जी को कांग्रेस छोड़नी पड़ी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

हाथरस के मंदिर में रात को 3 लोग आए, 5 बार हाथ जोड़े और वॉशिंग मशीन, दानपेटी उठा ले गए

पुलिस का दावा है कि मामला चोरी का नहीं है

UP की फैक्ट्री में बड़ा हादसा, दो लोगों की मौत हो गई और 15 लोग घायल हैं

अमोनिया गैस लीक होने के चलते हुए हादसा.

कभी कृषि कानूनों की पक्षधर रहीं पार्टियों ने अब यूटर्न क्यों ले लिया है?

जानिए पहले क्या था इन राजनीतिक दलों का स्टैंड

क्या बढ़िया फ्रिज न होने के कारण इंडिया में कोरोना वैक्सीन लगने में और लेट हो सकती है?

कोल्ड चेन का पूरा तिया पांचा यहां समझिए.

साल 2015 के बाद गुजरात, केरल, बंगाल, महाराष्ट्र और बिहार के बच्चों में बढ़ा कुपोषण

सर्वे का दावा, बच्चों की लम्बाई और वज़न ख़तरनाक तरीक़े से घट रहे

क्या कोरोना की नई वैक्सीन लगवाने के बाद लोगों को लकवा मार जा रहा है?

वैक्सीन लगवाने पर कुछ लोगों में एलर्जी की समस्या भी सामने आई है.

किसान आंदोलन के समर्थन में वैज्ञानिक ने केंद्रीय मंत्री के हाथ से अवॉर्ड लेने से मना कर दिया

पत्र में कहा, 'ये मेरी अंतरात्मा के खिलाफ़ है'

350 करोड़ का स्कैम उजागर करने वाले RTI एक्टिविस्ट की मौत पर पुलिस और फ़ैमिली अलग कहानी क्यों बता रहे?

पुलिस ने कहा कि दुर्घटना में मौत हुई, परिवार हत्या का आरोप लगा रहा

एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने कहा, 'ऐसा ही चलता रहा तो कोई भी शिकार बन सकता है'

हैदराबाद के ICFAI लॉ स्कूल में रूल ऑफ लॉ पर लेक्चर दे रहे थे जस्टिस चेलमेश्वर.

कोरोना का ट्रायल वैक्सीन लेने वाले हरियाणा के मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए

कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के दौरान टीका लगाया गया था.