Submit your post

Follow Us

अब पाकिस्तान ने कहा- इंडिया में T20 वर्ल्ड कप खेलने से कभी मना नहीं किया

पाकिस्तान के 2021 T20 वर्ल्ड कप में हिस्सा न लेने की ख़बर पर हंगामा मचा हुआ है. पाकिस्तानी अखबार डॉन ने PCB के CEO वसीम खान का बयान छापा था. इसमें उन्होंने कहा था कि अगर भारत एशिया कप खेलने पाकिस्तान के दौरे पर नहीं आता है, तो पाकिस्तान 2021 के T20 वर्ल्ड कप में अपनी टीम नहीं भेजेगा. इस हंगामे पर वसीम खान का नया बयान आया है. उन्होंने 2021 में पाकिस्तान की टीम के T20 वर्ल्ड कप में हिस्सा न लेने वाली मीडिया रिपोर्ट्स को ग़लत बताया है.

पाकिस्तान को सितंबर 2020 में होने वाले T20 एशिया कप की मेज़बानी मिली है. जबकि भारत 2021 में दूसरी बार T20 वर्ल्ड कप होस्ट करेगा. दोनों देशों के राजनीतिक हालात इतने खराब हैं कि क्रिकेट की संभावना मंद पड़ी हुई है. 2012 के बाद से दोनों देशों ने एक-दूसरे की ज़मीन पर क्रिकेट नहीं खेला है. इंडिया और पाकिस्तान न्यूट्रल मैदान पर ही एक-दूसरे के ख़िलाफ़ खेल रहे हैं. ICC और ACC टूर्नामेंट्स में.

2018 के एशिया कप के फाइनल में इंडिया ने बांग्लादेश को तीन विकेट से हराया था.
2018 के एशिया कप के फाइनल में इंडिया ने बांग्लादेश को तीन विकेट से हराया था.

समाचार एजेंसी PTI की रिपोर्ट के मुताबिक, वसीम खान ने कहा कि एशिया कप के आयोजन की ज़िम्मेदारी एशियन क्रिकेट काउंसिल(ACC) के पास है. उन्होंने कहा,

सवाल ये है कि अगर इंडिया पाकिस्तान के दौरे पर नहीं आती है तो क्या होगा? ऐसी स्थिति में फैसला ACC को लेना होगा. चूंकि पाकिस्तान को मेज़बानी का अधिकार मिला है, हम चाहते हैं कि एशिया कप पाकिस्तान में ही हो. ये ACC की ज़िम्मेदारी है कि वे इंडिया के मैचों को कहां आयोजित करवाना चाहते हैं.

इंडिया के मैचों को न्यूट्रल वेन्यू पर आयोजित करवाने के सवाल पर वसीम खान ने कहा कि फिलहाल इस मुद्दे पर कोई बात नहीं हुई है. वे बोले,

ऐसा किया जा सकता है. अगर एशिया कप के फ़ाइनल में भारत और पाकिस्तान की टीम पहुंचती है, तो ACC ये डिसाइड करने के लिए स्वतंत्र होगी कि फ़ाइनल कहां खेला जाना है. हालांकि फॉर्मेट और शेड्यूल पर अभी कोई चर्चा नहीं की गई है.

हमने ये कभी नहीं कहा कि पाकिस्तान की टीम इंडिया में खेलने के लिए नहीं जाएगी. हमने एशिया कप के मुद्दे पर बात की थी, जिसकी मेज़बानी का अधिकार हमें मिला हुआ है.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के CEO हैं वसीम खान.
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के CEO हैं वसीम खान.

पाकिस्तान 2021 में T20 वर्ल्ड कप खेलने भारत आएगा या नहीं? इस पर वसीम खान ने कहा कि उनकी चिंता का सबसे बड़ा कारण पाकिस्तानी खिलाड़ियों की सुरक्षा और वीजा है. उन्होंने कहा कि T20 वर्ल्ड कप ICC का टूर्नामेंट है. ये कहना बिल्कुल ग़लत होगा कि अगर इंडिया एशिया कप खेलने पाकिस्तान नहीं आई, तो पाकिस्तान वर्ल्ड कप में हिस्सा नहीं लेगा.

2018 में एशिया कप की मेज़बानी का अधिकार भारत को मिला था. लेकिन 10 अप्रैल 2018 को ACC की मीटिंग में ये फैसला लिया गया कि मैच इंडिया की बजाय UAE में खेले जाएंगे. फ़ाइनल में इंडिया ने बांग्लादेश को तीन विकेट से हराया था.

एशिया कप की शुरुआत 1984 में हुई थी. अब तक इस टूर्नामेंट के 14 एडिशन खेले जा चुके हैं. इंडिया ने सबसे अधिक सात बार एशिया कप जीतने का रिकॉर्ड बनाया है. दूसरे नंबर पर श्रीलंका की टीम है. उसने पांच एशिया कप अपने नाम किया है.


वीडियो: शोएब अख्तर के बयान के बाद पाकिस्तान क्रिकेट में लगी आग पर दानिश कनेरिया का वीडियो घी का काम करेगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.