Submit your post

Follow Us

पता चला गया किस वजह से जोहानसबर्ग टेस्ट नहीं खेल रहे हैं विराट!

जोहानसबर्ग टेस्ट शुरू होने से ठीक पहले टीम इंडिया को बड़ा झटका लगा है. कप्तान विराट कोहली( Virat Kohli) दूसरे टेस्ट से बाहर हो गए हैं. कोहली की जगह केएल राहुल टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे हैं. और उन्होंने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है. केएल राहुल ने बताया कि कोहली पीठ में ऐंठन की वजह से जोहानसबर्ग टेस्ट नहीं खेल रहे हैं. कोहली की जगह हनुमा विहारी को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है.

बता दें कि जोहानसबर्ग टेस्ट विराट कोहली के लिए ख़ास था. वह अपना 99वां टेस्ट खेलने के लिए उतरते. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. कोहली के बाहर होने पर राहुल ने कहा,

‘दुर्भाग्यवश, विराट कोहली की पीठ के ऊपरी हिस्से में ऐंठन है. और उम्मीद है कि अगले टेस्ट तक वह पूरी तरह से फिट हो जाएंगे. कोहली की जगह हनुमा विहारी को प्लेइंग इलेवन में लाया गया है. बस यही एक बदलाव है. हर खिलाड़ी का सपना होता है कि वह एक दिन देश की अगुवाई करे.

गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं और चैलेंज के लिए तैयार हूं. जोहानसबर्ग में हम लोगों ने जीत हासिल की है. और उसे दोहराना चाहेंगे. सेंचुरियन में टीम के तौर पर हम लोगों ने बढ़िया प्रदर्शन किया था. और इस मैच को लेकर उत्साहित हूं.’

उधर, साउथ अफ्रीका ने दो बड़े बदलाव किये हैं. क्विंटन डी कॉक के संन्यास के बाद काइल वरेन को टीम में शामिल किया गया है. जबकि वियान मुल्डर की जगह डुवेन ओलिवियर को लाया गया है. जोहानसबर्ग की पिच पेसर्स के लिए मददगार साबित होती है. पिछले कुछ दिनों से बारिश भी हो रही थी. ऐसे में तेज गेंदबाजों को पिच से अतिरिक्त उछाल मिलेंगी.

गौर हो कि जोहानसबर्ग में गेंदबाजों का बोलबाला रहा है. औसतन हर 29 रन के बाद यहां विकेट गिरते हैं. जबकि इकॉनमी रेट 3.06 का है. इसका मतलब ये भी है कि इस पिच पर रन तेजी से बनते हैं लेकिन घबराने वाली बात नहीं है. जोहानसबर्ग में टीम इंडिया का रिकॉर्ड शानदार रहा है. 1992 के बाद भारत ने इस मैदान पर पांच टेस्ट मैच खेले हैं. जिनमें उन्हें दो में जीत मिली है. और तीन टेस्ट ड्रॉ रहे हैं. यानी

भारत की प्लेइंग इलेवन इस प्रकार है :

केएल राहुल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, आर अश्विन, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज 


क्या पवन सहरावत को क़ाबू कर पाएगा पलटन का डिफेंस?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

वो पेरारिवलन, जिसने राजीव गांधी की हत्या में इस्तेमाल जैकेट के लिए बैटरी सप्लाई की थी

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

मामला सुप्रीम कोर्ट क्यों गया?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

ऑफर प्राइस से 8% नीचे लिस्ट हुआ देश का सबसे बड़ा IPO

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.