Submit your post

Follow Us

विराट कोहली की हरकतें मैदान पर स्वीकार करने योग्य नहीं!

भारतीय कप्तान विराट कोहली को दंडित किए जाने की मांग चल रही है. और ये मांग करने वालों में सबसे आगे चल रहे हैं पूर्व भारतीय बल्लेबाज़ गौतम गंभीर. वजह तो आप जानते ही हैं, केप टाउन टेस्ट के विवादित DRS फैसले पर कोहली का बर्ताव. गंभीर का कहना है कि विराट क्रिकेट के मैदान पर अपनी ही चलाते हैं और वही करते हैं जो उनका मन करता है. उनका मानना है कि कोहली ऐसा हमेशा से करते आए हैं. और अब वक़्त आ गया है कि उन्हें ऐसी हरकतों के लिए दंड दिया जाए.

गंभीर मानते हैं कि साउथ अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर के DRS डिसीजन में गलती हो सकती है. लेकिन जिस तरह से कोहली ने उस मुद्दे पर रिएक्ट किया, वो बर्दाश्त के बाहर है. उनका कहना है कि विराट की इन हरकतों पर कोई एक्शन इसलिए नहीं लिया जाता, क्योंकि क्रिकेट जगत में भारत का सिक्का चलता है. भारतीय बोर्ड और कोहली के सामने सब नतमस्तक हो जाते हैं. जिससे वे बिलकुल भी खुश नहीं है और चाहते हैं कि इन चीजों में बदलाव हो. स्टारस्पोर्ट्स से बात करते हुए गंभीर ने कोहली के बारे में कहा,

‘यह विराट का विशिष्ट रूप है. उन्हें कोई छू भी नहीं सकता. वे जैसा बर्ताव करना चाहते हैं, वैसा ही करते हैं. और बाकी क्रिकेट जगत उनके आगे नतमस्तक हो जाता है. क्योंकि क्रिकेट का पावरहाउस इंडिया है. मुझे ये सब कहना बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा लेकिन ये कई सालों से चल रहा है.

मुझे विराट पसंद हैं. उनका खेल और उनके खेलने का तरीका भी मुझे पसंद है. लेकिन समय आ गया है कि एक रेखा खींची जाए और उनसे कहा जाए कि देखिए आपको कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.’

गंभीर का कहना है कि DRS के फैसले में अगर कोई गलती भी हुई है, तो भी विराट का ऐसा रिएक्शन वाजिब नहीं है. अगर उनकी जगह भारतीय टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ होते तो वे ऐसा रिएक्ट नहीं करते. गंभीर ने आगे कहा,

‘अगर कुछ हुआ भी है तो वो एक गलती है. मुझे विश्वास नहीं होता कि वे इस तरह की सोच रखते हैं. एक लम्बे समय से विराट ऐसी हरकतें करके भी बचते रहे हैं जो क्रिकेट के मैदान पर स्वीकार नहीं हैं. पर कोहली तो कोहली हैं. और सच कहूं तो मुझे ये बिलकुल पसंद नहीं.

मैच का निर्णय चाहे जो भी रहे, लेकिन एक टेस्ट कप्तान से आप ये सब उम्मीद नहीं करते. खासकर उससे, जिसने इतने लम्बे समय तक टीम का नेतृत्व किया हो. मुझे लगता है राहुल द्रविड़ उनसे इस बारे में बात करेंगे. क्योंकि जिस तरह के कप्तान द्रविड़ थे, वो ऐसा बिलकुल नहीं करते.’

बता दें कि ये सारा बवाल भारत और साउथ अफ्रीका के बीच हुए तीसरे मैच की आखिरी पारी के 21वें ओवर से शुरू हुआ. भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर एल्गर LBW आउट दिए गए. गेंद एल्गर के घुटने के नीचे लगी थी लेकिन डिसीजन रिव्यु सिस्टम यानी DRS ने दिखाया कि गेंद स्टंप्स के ऊपर से निकल जाती और एल्गर को नॉट आउट दे दिया गया. इस डिसीजन से फ़्रस्ट्रेट होकर कोहली स्टंप माइक के पास गए और मैच के ब्रॉडकास्टर ‘सुपरस्पोर्ट’ पर बॉल ट्रैकिंग में गड़बड़ करने का इल्ज़ाम लगा दिया.


केपटाउन टेस्ट में ऋषभ पंत ने कर दी रिकॉर्ड की बरसात

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

BharatPe के लीगल नोटिस और अशनीर ग्रोवर के 'गाली' वाले ऑडियो पर क्या बोला Kotak?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"