Submit your post

Follow Us

कोलकाता में अमित शाह के रोड शो पर पथराव हो गया

बीजेपी अध्यक्ष 14 मई को कोलकाता में थे. उन्होंने यहां रोड शो किया. शाह के रोड शो के दौरान जमकर हंगामा हुआ. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रोड शो के दौरान पत्थरबाजी हुई. बीजेपी और पुलिस समर्थकों में झड़प हुई. पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया. बीजेपी समर्थकों का टीएमसी और लेफ्ट के कार्यकर्ताओं से झगडा हुआ. कई जगह आगजनी भी की गई. अमित शाह ने हमारे सहयोगी आज तक से फोन पर कहा कि पूरे बवाल के लिए ममता सरकार दोषी है. शाह ने कहा कि वे इसकी शिकायत चुनाव आयोग से करेंगे.

कॉलेज स्ट्रीट पर कलकत्ता यूनिवर्सिटी परिसर से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का काफिला गुजरते ही झड़पें शुरू हो गईं. बिधान सरानी पर एक कॉलेज के छात्रावास से अमित शाह के काफिले पर पथराव किया गया. चश्मदीदों के मुताबिक इसके बाद, बीजेपी समर्थकों ने इमारत की घेराबंदी की और जवाबी हमला किया.

इस घटना के बाद अमित शाह की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

कोलकाता में शाह के रोड शो के दौरान झड़पों के बाद, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा,

“मुझे पता चला है कि भाजपा के कुछ गुंडों ने विद्यासागर कॉलेज में बर्बरता की है. हम इसे आसानी से नहीं जाने देंगे. हम इसका जवाब देंगे. उन्होंने (बीजेपी) कोलकाता में दंगों के लिए बाहरी लोगों को लाया है. मैंने हमारे शिक्षा मंत्री से घटनास्थल पर पहुंचने और दिल्ली के गुंडे नेता के बारे में जांच के लिए कहा है”.

ममता बनर्जी की ओर से बीजेपी और उसके अध्यक्ष की आलोचना के बाद, अमित शाह ने इंडिया टुडे से कहा,

“मेरा रोड शो शांति से आगे बढ़ रहा था, तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हमारे काफिले पर हमला किया. ममता दीदी इन सब के पीछे हैं. बीजेपी हिंसा के लिए जिम्मेदार नहीं है. ममता दीदी हैं. हम बंगाल में 23 से अधिक सीटें जीतेंगे. मुझे विवेकानंद जी के घर जाने की अनुमति नहीं दी गई. मैं वहां जाना चाहता था, उन्हें पुष्पांजलि अर्पित करना चाहता था लेकिन मुझे अनुमति नहीं दी गई. बंगाल में हिंसा कौन कर रहा है? ममता से पूछा जाना चाहिए कि इतनी हिंसा क्यों हुई”.

भाजपा प्रतिनिधिमंडल के नेता रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, अनिल बलूनी, जीवीएल नरसिम्हा राव और अन्य कोलकाता में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर चुनाव आयोग से शिकायत करेंगे.


इंतजार से मिलिए, जो साइकिल पर चलकर साइकिल का ही प्रचार करते हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.