Submit your post

Follow Us

बुर्क़ा पहनकर आईं लड़कियों को कॉलेज के प्रिंसिपल ने छड़ी लेकर दौड़ाया

3.60 K
शेयर्स

उत्तर प्रदेश में एक शहर है फ़िरोज़ाबाद. यहां एसआरके (SRK) कॉलेज है. पिछले दिनों यहां एक अजीब घटना हुई. कुछ लड़कियां क्लास अटेंड करने कॉलेज गईं. पर कॉलेज के प्रिंसिपल ने उन्हें अंदर घुसने नहीं दिया. उल्टा छड़ी लेकर उन्हें दौड़ा दिया. जानते हैं क्यों? क्योंकि इन लड़कियों ने बुर्क़ा पहना हुआ था.

क्या है पूरा मामला

एनडीवीवी में छपी ख़बर के मुताबिक, लड़कियों का कहना है कि उन्हें बुर्क़ा सड़क पर उतारकर आने की सलाह दी गई है. जबकि वो पहले भी बुर्क़ा पहनकर क्लास में आती थीं. पर ऐसा कभी नहीं हुआ. लेकिन पिछले दिनों जब वो कॉलेज गईं तो उन्हें अंदर घुसने नहीं दिया गया. उल्टा प्रिंसिपल प्रभासकर राय ने उन्हें छड़ी लेकर दौड़ा दिया.

इस मामले में प्रिंसिपल प्रभासकर राय का कहना है कि कॉलेज का एक ड्रेस कोड है. बुर्क़े पर बैन है. ये नियम काफ़ी पुराना है. कॉलेज में सबको यूनिफॉर्म में आना होता है. उन्होंने बताया कि कुछ दिनों से कॉलेज में एडमिशन चल रहे थे. इसलिए ये रूल सख्ती से फॉलो नहीं किया जा रहा था.

अब एडमिशन का प्रोसेस पूरा हो गया है. इसके बाद कॉलेज प्रबंधन ने फ़ैसला किया है कि 11 सितंबर से बिना यूनिफॉर्म और आईडी कार्ड के कोई भी कॉलेज के अंदर नहीं घुस पाएगा.

लड़कियों का कहना है कि कॉलेज के बाहर पुलिस खड़ी रहती है. जो भी बुर्क़ा पहनकर आती है, उन्हें रोक देती है. उनसे कहा जाता है कि बस स्टैंड जाकर बुर्क़ा उतारें. ये अपने आप में मुसीबत है. उन्हें इतनी भी अनुमति नहीं कि क्लास के अन्दर जाकर उतार सकें. ऐसा पहले नहीं होता था.

बुर्क़ा पहना जाए या नहीं, वो लड़कियों के लिए सही है या नहीं, इस पर एक अलग बहस हो सकती है. लेकिन किसी शैक्षणिक संस्थान के बाहर लड़कियों को छड़ी लेकर दौड़ाया जाए, वो भी सिर्फ इसलिए कि वो लड़कियां बुर्क़ा पहनकर आई थीं, यह बेहद अजीब और शर्मनाक है.


वीडियो

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिग्विजय सिंह बोले, 'मंदिर में भगवा कपड़े पहने हुए लोग रेप कर रहे हैं'

सीएम कमलनाथ की मौजूदगी में साधुओं से मिले.

बीच सुनवाई चीफ जस्टिस बोले- जरूरत पड़ी तो खुद श्रीनगर जाऊंगा

आर्टिकल 370, जम्मू-कश्मीर के हालात पर सुनवाई चल रही थी.

चंद्रयान की लैंडिंग की रात मोदी बेचैनी में क्या-क्या कर रहे थे? पता चल गया

एक-एक मिनट का हिसाब दे दिया है.

आंध्र प्रदेश : 61 सवारियों को लेकर नाव गोदावरी नदी में डूब गयी

क्या था नाव के डूबने का कारण?

छात्राओं के कपड़ों में हाथ डालने और यौन शोषण के आरोपी प्रोफ़ेसर को BHU ने बुला लिया, अब बवाल हो गया

BHU ने कहा, प्रोफेसर के खिलाफ इससे ज्यादा कुछ नहीं कर सकती है यूनिवर्सिटी.

इसरो चेयरमैन को गले लगाकर मोदी क्या फुसफुसाए? पता चल गया

क्या चंद्रयान - 3 मिशन भी आने वाला है?

नासा ने बताया कि इसरो के चंद्रयान से कनेक्शन कहां फंसा हुआ है?

चंद्रयान को बस ये एक काम करना है.

इसरो के चंद्रयान को लेकर नासा ने ये बड़ी खबर दे दी है

चंद्रयान से सम्पर्क कैसे होगा?

राजस्थान में गैंगस्टर को साथियों ने जैसे छुड़ाया, वैसा तो बस साउथ की फिल्मों में होता है

पुलिस को नहीं पता था कि किसे पकड़ा है. जब गैंग ने हमला किया, तब कुछ पुलिसवाले सो रहे थे. कुछ नहा रहे थे.

नयी सरकार में निवेशकों के 12.5 लाख करोड़ रुपए डूब गए

ये नुकसान किस खाते में जाएगा?