Submit your post

Follow Us

यूपी: दलित प्रेमी जोड़े को कालिख पोत चप्पलों की माला पहनाकर गांव में घुमाया

उत्तर प्रदेश में दलित उत्पीड़न की एक और घटना सामने आई है. यहां के बस्ती जिले में नाबालिग युवक-युवती को चेहरे पर कालिख पोत कर गांव भर में घुमाने का फरमाना सुनाया गया. दोनों पीड़ित दलित समुदाय के बताए गए हैं. पुलिस ने इसकी पुष्टि करते हुए करीबी आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार करने का दावा किया है.

पंचायत के आदेश पर अमानवीय व्यवहार

घटना बस्ती जिले के गौर थाना क्षेत्र के एक गांव की बताई गई है. आजतक से जुड़े मजहर आजाद की रिपोर्ट के मुताबिक, गांव की पंचायत ने ही दोनों दलित नाबालिगों के खिलाफ फरमान सुनाया था.

पीड़ित युवक-युवती एक-दूसरे से प्रेम करते हैं. खबर के मुताबिक, गांव वालों ने उन्हें आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था. इसी पर हंगामा हो गया. कपल को गांव की पंचायत के सामने मुजरिम की तरह पेश किया गया. उसने कहा कि युवक-युवती के चेहरे पर कालिख पोती जाए. उन्हें चप्पलों की माला पहनाई जाए और फिर पूरा गांव घुमाकर शर्मसार किया जाए.

पंचायत का फैसला सुनते ही गांव के लोगों ने पीड़ितों का मुंह काला किया और उन्हें चप्पलों की माला पहनाकर गांव भर में घुमाया. किसी गांव वाले ने इसका विरोध नहीं किया. इस घटना की तस्वीर अब सोशल मीडिया पर वायरल है. इसमें दोनों नाबालिग दलित पीड़ित चप्पलों की माला में दिख रहे हैं.

लोगों का गुस्सा फूटा

गांव पंचायत के इस फैसले और उसकी वजह से नाबालिग प्रेमी जोड़े के साथ हुए दुर्व्यवहार पर लोगों की कड़ी प्रतिक्रियाएं आई हैं. ट्विटर पर इस घटना की कड़ी आलोचना देखने को मिली है. सत्यशोधक भारत नाम के ट्विटर अकाउंट से कहा गया,

“ये भारत है. जाति प्रधान देश कहा जाएगा. तालिबानी फरमान इसे ही कहते हैं.”

आशा मीणा ने सवाल करते हुए कहा,

“क्या ये पंचायत हमारे संविधान या कानून से ऊपर है जो इस तरह का अमानवीय व्यवहार कर रही. संविधान सबको सम्मान से जीने का हक देता है. कौन सही कौन गलत, इसका फैसला न्यायालय करेगा.”

एक अन्य ट्विटर हैंडल से कहा गया,

“सजा तो ऐसी पंचायत को होनी चाहिए. किसी को इस तरह सरेआम बेइज्जत करने का अधिकार किसी को नहीं.”

पुलिस ने क्या किया?

घटना की जानकारी मिलने के बाद बस्ती पुलिस हरकत में आई. उसने कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर कम से कम 5 आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है. बस्ती पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से डीएसपी शेषमणि उपाध्याय का एक बयान जारी किया गया है. इसमें वे कह रहे हैं,

“28 सितंबर 2021 की घटना है. गौर थाना क्षेत्र के तहत सिंगही गांव में अनुसूचित जाति की बालिका का गांव के ही एक लड़के से प्रेम संबंध था. वो भी अनुसूचित जाति का है. गांव वालों ने उन्हें देखा. दोनों को कालिख पोत कर, गले में जूते-चप्पलों की माला डाल कर गांव के बाहर सड़क पर घुमाया गया. घटना का संज्ञान होते ही वादी की तहरीर पर 13 नामजद और कई अज्ञात लोगों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में केस दर्ज किया गया है. मौके पर तत्काल गौर पुलिस पहुंची और 5 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया.”

डीएसपी शेषमणि ने बताया कि वे खुद भी मौके पर मौजूद हैं. बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी गई है जो लगातार दबिश दे रही हैं. उन्होंने घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है. साथ ही एहतियातन गांव में पुलिस फोर्स तैनात कर दी है ताकि पीड़ितों के साथ किसी तरह का अन्याय न हो और गांव में शांति बरकरार रहे.


वीडियो- UP के प्राइमरी स्कूल में दलित बच्चों से भेदभाव, हेडमास्टर समेत दो कर्मचारी सस्पेंड

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.