Submit your post

Follow Us

अब मेरठ में डॉक्टर से मारपीट, फ्लैट खाली करने को कहा गया

देश में डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले की ख़बरें रुक नहीं रही हैं. उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक डॉक्टर को पीटने का आरोप है. ये हाल तब है जब पीएम मोदी के कहने पर ‘कोरोना वॉरियर्स’ के ‘सम्मान’ में थाली पीटी गई थी. डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ का सम्मान करने की अपील पीएम मोदी ने की थी.

एनडीटीवीकी रिपोर्ट के मुताबिक, डॉक्टर का नाम प्रशांत भटनागर है. शास्त्रीनगर के सेक्टर-6 में किराए के फ्लैट में रहते हैं. मेडिकल कॉलेज में कोरोना को लेकर ड्यूटी लगी है. उनकी कॉलोनी वालों को शक है कि वो कहीं कोरोना का संक्रमण ना ले आएं. उनके मां-बाप तक से अभद्रता की गई. जब वो बीच-बचाव करने आए तो उनके साथ हाथापाई की गई. उनके हाथ में फ्रैक्चर हुआ है.

डॉक्टर ने कहा,

परिवार के साथ फ्लैट खाली करने का भी दबाव डाला जा रहा है. लगातार यहां कोरोना वॉरियर्स आ रहे हैं, इसलिए उनमें भ्रम फैल गया कि उनमें कोरोना ना फैल जाए. पहले कोई दिक्कत यहां नहीं हुई है. मकान मालिक रहते नहीं हैं. किराया भी समय पर दिया जाता है. मेरे साथ जो हुआ वो किसी भी डॉक्टर के साथ ना हो.

डॉक्टर ने नौचंदी थाने में शिकायत दर्ज कराई है. उन्होंने युद्धवीर सिंह यादव और जुगल किशोर साहनी पर मारपीट का आरोप लगाया है. आरोप है कि पहले भी उन्हें अलग-अलग तरीके से प्रताड़ित किया जा रहा था.

डॉक्टरों से लगातार बदसलूकी

डॉक्टर के ख़िलाफ़ भेदभाव और मारपीट की घटनाएं लगातार हो रही हैं. कभी सोसायटी में उनका बायकॉट होता है तो कभी मरीजों को देखने गए डॉक्टरों पर हमला होता है. हाल ही में गुजरात के सूरत में एक डॉक्टर से पड़ोसियों की बदसलूकी का मामला आया. वहीं, यूपी के  मुरादाबाद के नवाबगंज इलाके में कोरोना मरीजों को लेने गई डॉक्टरों की टीम पर हमला हुआ. आसपास के लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी. मेडिकल टीम को बचाने पहुंची पुलिस पर भी पत्थर फेंके गए. मुरादाबाद पुलिस ने 17 लोगों को गिरफ़्तार किया था. वहीं, पिछले दिनों मध्य प्रदेश के इंदौर में टाटपट्टी बाखल से भी ऐसी घटना सामने आई थी.

कोरोना ट्रैकर:


डिफेंस कॉलोनी के जिस गार्ड पर कोरोना फैलाने का आरोप लगा था, उसकी रिपोर्ट में क्या सामने आया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा-

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह नहीं रहे, पीएम मोदी ने कहा- "बातें याद रहेंगी"

जसवंत सिंह अटल सरकार के कद्दावर मंत्रियों में से थे.

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

IPL2020 के जरिए टीम इंडिया में आएगा फाजिल्का का ये लड़का?

सबकी उम्मीदें शुभमन गिल से लगी है.

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

आप दीपिका और रकुल प्रीत में उलझे रहे और राजस्थान में इतना बड़ा कांड हो गया!

दो दिन से बवाल चल रहा है.

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?