Submit your post

Follow Us

शिवसैनिक बनते ही उर्मिला ने कंगना रनौत पर क्या कहा?

हाल ही में उर्मिला मातोंड़कर ने शिवसेना जॉइन कर ली. हालांकि, राजनीति में ये उनका पहला पड़ाव नहीं है. इससे पहले भी वे 2019 का लोकसभा इलेक्शन लड़ चुकी हैं. कांग्रेस की ओर से. उर्मिला के शिवसैनिक बनने की घोषणा एक प्रेस कॉन्फ्रन्स में की गई. इस दौरान उनसे कई सवाल पूछे गए. एक सवाल कंगना रनौत पर भी था. उर्मिला का जवाब तीखा था.

दरअसल, उर्मिला और कंगना के बीच काफी अरसे से तनातनी चल रही है. कंगना ने उर्मिला को ‘सॉफ्ट पॉर्न स्टार’ कह दिया था. उस समय इस बात पर बहुत बवाल हुआ था. अब उर्मिला के शिवसेना में आने पर उनसे ख़ास तौर से कंगना पर प्रतिक्रिया देने को कहा गया.

उर्मिला ने कंगना वाले सवाल पर कहा,

मुझे लगता है कि कंगना के बारे में बहुत कुछ कहा जा चुका है. उनको अब ज्यादा अहमियत देने की जरूरत नहीं है. हर किसी को आलोचना करने का हक और आजादी है, उन्हें भी है. मैं आज ये क्लियर करना चाहूंगी कि मैंने पहले किसी इंटरव्यू में कंगना की बात पर रिस्पॉन्ड नहीं किया.

उर्मिला के पार्टी जॉइन करने का ऑफिशियल अनाउंसमेंट 1 दिसम्बर को हुआ. हालांकि, इससे पहले भी उर्मिला उद्धव सरकार की तारीफ में ट्वीट कर चुकी हैं.

पार्टी जॉइन करने का इवेंट महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे के घर हुआ. इससे पहले कांग्रेस की उम्मीदवार रही उर्मिला इलेक्शन नहीं जीत पाई थी. कॉन्फ्रन्स में उनसे अपनी पुरानी पार्टी पर भी सवाल किये गए. जिसपर उन्होंने कहा,

मुझे कांग्रेस पार्टी छोड़े हुए 14 महीने हो गए, 14 घंटे नहीं. बड़ा फर्क आ जाता है जब लोग पार्टी छोड़ तुरंत दूसरी जॉइन कर लेते हैं. पर मुझे लगता है कि महा विकास अघाडी सरकार ने प्रदेश में बहुत अच्छा काम किया है. उद्धव जी ने राज्य का बहुत अच्छे से ध्यान रखा है.

बता दें कि महाराष्ट्र लेजिस्लेटिव काउन्सिल के लिए 12 नाम दिए गए थे. उर्मिला का नाम उनमें से एक था.


वीडियो: अमिताभ बच्चन उस फिल्म की फोटो शेयर की, जो कभी बन ही नहीं पाई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज लोकुर ने कहा, जबरन धर्मांतरण पर यूपी का क़ानून लोगों की आजादी के खिलाफ़ है

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज लोकुर ने कहा, जबरन धर्मांतरण पर यूपी का क़ानून लोगों की आजादी के खिलाफ़ है

UAPA और दिल्ली दंगों पर जस्टिस लोकुर ने क्या कहा?

वो गेंद स्टंप पर नहीं मारता था, खुद लपक कर स्टंप बिखेर देता था

वो गेंद स्टंप पर नहीं मारता था, खुद लपक कर स्टंप बिखेर देता था

मोहम्मद कैफ़ का आज जन्मदिन है. इस बहाने आज उनकी फील्डिंग के चंद किस्से.

पिता ने चिट्ठी लिखकर गंभीर इल्ज़ाम लगाए तो शेहला राशिद ने क्या कहा?

पिता ने चिट्ठी लिखकर गंभीर इल्ज़ाम लगाए तो शेहला राशिद ने क्या कहा?

चिट्ठी में कहा कि शेहला घर में एंटी-नेशनल काम कर रही हैं.

दिल्ली दंगा : वीडियो सबूत होने के बाद भी पुलिस ने जांच नहीं की, कोर्ट ने दिया FIR का ऑर्डर

दिल्ली दंगा : वीडियो सबूत होने के बाद भी पुलिस ने जांच नहीं की, कोर्ट ने दिया FIR का ऑर्डर

सलीम की शिकायत, 'सुभाष और अशोक ने मेरे घर पर हमला किया'

कृषि बिलों पर वोटिंग के दौरान किसके कहने पर सांसदों के माइक बंद किए गए थे?

कृषि बिलों पर वोटिंग के दौरान किसके कहने पर सांसदों के माइक बंद किए गए थे?

बहुत हंगामा हुआ था, अब कहानी सामने आयी.

देश की आर्थिक सेहत बताने वाले GDP के आंकड़े आ गए हैं. ये डराने वाले हैं और उम्मीद जगाने वाले भी

देश की आर्थिक सेहत बताने वाले GDP के आंकड़े आ गए हैं. ये डराने वाले हैं और उम्मीद जगाने वाले भी

इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के जीडीपी आंकड़े क्या बताते हैं, जान लीजिए

जानिए कितनी ज़बरदस्त तैयारी के साथ दिल्ली आए किसान, 17 पॉइंट का नोट वायरल

जानिए कितनी ज़बरदस्त तैयारी के साथ दिल्ली आए किसान, 17 पॉइंट का नोट वायरल

किसान बोले, जहां रोकेंगे वहीं गांव बसा लेंगे, छह महीने की तैयारी करके आए हैं...

किसान आंदोलन में क्या-क्या हो रहा, सबसे दमदार तस्वीरों में यहां देखिए

किसान आंदोलन में क्या-क्या हो रहा, सबसे दमदार तस्वीरों में यहां देखिए

दिल्ली कूच के लिए कुछ भी करने को तैयार दिख रहे किसान

कांग्रेस के दिग्गज नेता अहमद पटेल का निधन, एक महीने तक कोविड-19 से लंबी जंग लड़ी

कांग्रेस के दिग्गज नेता अहमद पटेल का निधन, एक महीने तक कोविड-19 से लंबी जंग लड़ी

पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने दुख जताया.

कंगना-रंगोली पर सेडिशन केस की सुनवाई करते बॉम्बे हाईकोर्ट ने बहुत ज़रूरी बात कही है

कंगना-रंगोली पर सेडिशन केस की सुनवाई करते बॉम्बे हाईकोर्ट ने बहुत ज़रूरी बात कही है

"क्या हम अपने नागरिकों के साथ ऐसा व्यवहार करेंगे?”