Submit your post

Follow Us

कोरोना को हराने के पांच दिन बाद उर्दू शायर आनंद मोहन जुत्शी उर्फ गुलजार देहलवी का निधन

वरिष्ठ उर्दू शायर आनंद मोहन जुत्शी उर्फ गुलजार देहलवी का शुक्रवार, 12 जून को निधन हो गया. वह 93 साल के थे. पांच दिन पहले ही उन्होंने कोरोना को हराया था. उनका निधन नोएडा स्थित उनके आवास पर हुआ. पीटीआई की खबर के मुताबिक, 7 जून को उनकी कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट दोबारा निगेटिव आई थी. इसके बाद उन्हें घर वापस लाया गया था.

उनके बेटे अनूप जुत्शी ने कहा,

7 जून को उनकी कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट दोबारा निगेटिव आई. इसके बाद हम उन्हें घर वापस लाए. शुक्रवार लगभग दोपहर ढाई बजे हमने खाना खाया और उसके बाद उनका निधन हो गया. वह काफी बूढ़े थे और संक्रमण के कारण काफी कमजोर भी हो गए थे. डॉक्टरों का मानना है कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा होगा.

स्वतंत्रता सेनानी और जाने-माने ‘इंकलाबी’ कवि देहलवी को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद 1 जून को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. पुरानी दिल्ली के गली कश्मीरियां में 1926 में जन्मे देहलवी भारत सरकार द्वारा 1975 में प्रकाशित पहली उर्दू विज्ञान पत्रिका ‘साइंस की दुनिया’ के संपादक भी रह चुके हैं.

उर्दू शायरी और साहित्य में उनके योगदान को देखते हुए उन्हें ‘पद्मश्री’ पुरस्कार से नवाजा गया. साल 2009 में उन्हें ‘मीर तकी मीर’ पुरस्कार मिला.

देहलवी के बारे में कहा जाता है कि उन्होंने आजादी के आंदोलन के दौरान कई जलसों में अपनी शायरी से जोश भरा. जवाहरलाल नेहरू भी उनकी शायरी के मुरीद हुआ करते थे. ‘जरूरत है उन नौजवानों की हमको.. जो आगोश में बिजलियों के पले हों, कयामत के सांचे में अक्सर ढले हों,’ उनकी ये शायरी आज भी युवा आंदोलन में जान भरने का काम करती है. देहलवी की कई शायरियां समाज में लगातार बढ़ती संवेदनहीनता और खत्म होती इंसानियत को समर्पित हैं.


UP: बलरामपुर में एक आदमी की संदिग्ध मौत के बाद जो हुआ वो शर्मनाक है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ज्योतिरादित्य सिंधिया की दूसरी कोरोना जांच रिपोर्ट में क्या निकला?

पिछले दिनों सिंधिया और उनकी मां को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था.

WHO ने कोरोना पर राहत देने वाली बात की तो दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने कहा, “अरी मोरी मईया!”

पलटकर WHO से ही सबूत मांग रहे हैं लोग.

ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनकी मां को हुआ कोरोना इंफेक्शन, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

बीते कुछ दिनों से दोनों की तबीयत खराब थी.

बिहार: अमित शाह ने वर्चुअल रैली में तेजस्वी को घेरा, कहा-लालटेन राज से एलईडी युग में आ गए

तेजस्वी यादव ने रैली पर 144 करोड़ खर्च करने का आरोप लगाया.

गर्भवती ने 13 घंटे तक आठ अस्पतालों के चक्कर लगाए, किसी ने भर्ती नहीं किया, मौत हो गई

महिला की मौत के बाद अब जिला प्रशासन जांच की बात कर रहा है.

दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज होगा

दिल्ली के बॉर्डर खोले जाने पर भी हुआ फैसला.

लद्दाख में तनाव: भारत-चीन सेना के कमांडरों की मीटिंग में क्या हुआ, विदेश मंत्रालय ने बताया

6 जून को दोनों देशों के सेना के कमांडरों की मीटिंग करीब 3 घंटे तक चली थी.

पहले से फंसी 69000 शिक्षक भर्ती में अब पता चला, रुमाल से हो रही थी नकल!

शुरू से विवादों में रही 69 हजार शिक्षक भर्ती में जुड़ा एक और विवाद

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.