Submit your post

Follow Us

UP सरकार ने टीचरों के लिए बड़ी राहत वाला काम कर दिया है!

उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने विधानसभा चुनाव से एक साल पहले प्रदेश के शिक्षक अभ्यर्थियों पर बड़ा फैसला लिया है. उत्तर प्रदेश टीचर्स एलिजिबिलिटी टेस्ट यानी UPTET के सर्टिफिकेट की वैधता को आजीवन करने का फैसला किया गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इसका आदेश जारी कर दिया गया है और जल्द ही इस संबंध में नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया जाएगा.

UP सरकार के इस नए आदेश के बाद एक बार UPTET क्लियर कर चुके अभ्यर्थियों को बार-बार परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी. हाल ही में प्रदेश में हुए पंचायत चुनावों में शिक्षकों के प्रति असंवेदनशीलता का मुद्दा जमकर उठा था. इसके बाद अब सरकार ने शिक्षकों को राहत देने की दिशा में ये कदम उठाया है.

अभी तक ये व्यवस्था थी कि UPTET सर्टिफिकेट केवल 5 साल के लिए मान्य होता था. अगर 5 साल में उम्‍मीदवार को कहीं भर्ती नहीं मिलती थी तो उसे दोबारा परीक्षा क्‍वालिफाई करनी होती थी. इसी व्‍यवस्‍था में अब सुधार किया गया है, जो कि प्रदेश के लाखों शिक्षक अभ्यर्थियों के लिए राहत की खबर है. हालांकि मुख्‍यमंत्री ने ये जानकारी भी दी है कि DElEd कोर्सेज़ में एडमिशन के लिए पूर्व प्रचलित व्यवस्था ही लागू रखी जाएगी.

CTET की भी वैधता बढ़ी थी

इससे पहले केंद्र सरकार ने CTET सर्टिफिकेट की वैधता भी आजीवन करने का फैसला किया था. बताते चलें कि प्राइमरी और जूनियर स्कूलों यानी कक्षा 1 से 8 तक पढ़ाने के लिए TET पास करना अनिवार्य होता है. पात्रता आजीवन रहने पर अभ्यर्थियों को बार-बार परीक्षा में बैठने से मुक्ति मिलेगी और आवेदन शुल्क भी नहीं देना पड़ेगा. प्रदेश में पहली बार 2011 में यूपी बोर्ड ने TET परीक्षा आयोजित की थी जिसके बाद 2013 से परीक्षा नियामक प्राधिकारी परीक्षाएं आयोजित करा रहे हैं.

राज्य सरकार का ये आदेश आने के बाद तमाम अभ्यर्थियों ने अपने सालों पुराने TET अंकपत्र हासिल करने के लिए दौड़-भाग शुरू कर दी है. जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) में अभ्यर्थी पूछताछ करने के लिए पहुंच रहे हैं.


राम मंदिर ज़मीन घोटाले मामले में सीएम योगी ने खुद ट्रस्ट के पेपर्स की जांच की तो क्या निकलकर आया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

नेमावर हत्याकांड: आरोपी सुरेंद्र चौहान की प्रॉपर्टी पर चली जेसीबी, CBI जांच की मांग उठी

कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा नेता होने के चलते सुरेंद्र चौहान को इस मामले में संरक्षण मिला.

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर धमाका, DGP दिलबाग सिंह बोले-ड्रोन से हुआ हमला

दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

आंदोलन के सात महीने पूरे, किसानों ने देशभर में राज्यपालों को सौंपे ज्ञापन,कुछ जगहों पर झड़प

चंडीगढ़ और पंचकुला में बवाल.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ही नहीं, शशि थरूर का अकाउंट भी लॉक कर दिया था ट्विटर ने

ट्विटर ने क्या वजह बताई?

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

एक्ट्रेस पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा है.

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

नंबर देने के फॉर्मूले से सुप्रीम कोर्ट भी सहमत.

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

चिराग को राजनीति में आने की सलाह किसने दी थी?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

कुछ वक़्त से लगातार हो रहे हैं फ़ेरबदल.

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

क्या यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों को सरकारी प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

कौन हैं रामबाबू हरित और जसवंत सैनी?