Submit your post

Follow Us

आजमगढ़: मास्क नहीं पहनने पर व्यापारी से मारपीट, परिवार ने कौन सी बात बताई?

आजमगढ़ में मंगलवार, 6 अप्रैल को मास्क न लगाने की वजह से पुलिस ने एक व्यापारी को दुकान से खींचकर पीटा. आरोप है कि पुलिस अपराधियों की तरह व्यापारी को जीप में भरकर थाने ले गई. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हुआ. पुलिस के इस एक्शन के खिलाफ व्यापारियों ने दुकानें बंदकर कोतवाली के बाहर धरना दिया. जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर उन्हें खदेड़ दिया. इस घटना को लेकर यूपी के पूर्व सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी ट्वीट किया,

क्या है मामला?

आज तक से जुड़े राजीव कुमार की रिपोर्ट के मुताबिक,

SDM सदर गौरव कुमार और CO सिटी राजेश तिवारी मंगलवार, 6  अप्रैल को फोर्स के साथ कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन कराने के लिए निकले थे. अधिकारी पुरानी कोतवाली सर्राफा मंडी पहुंचे. यहां सर्राफा कारोबारी आशीष गोयल की दुकान पर SDM और CO ने कुछ ग्राहकों को बिना मास्क के देखा. अधिकारी दुकान में घुस गए. इसी दौरान सर्राफा कारोबारी आशीष गोयल से उनकी किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई. आरोप है कि पुलिस ने व्यापारी के साथ मारपीट की और घसीटते हुए ले गए.

दी लल्लनटॉप ने पीड़ित व्यापारी के परिजनों से फोन पर बात की. पीड़ित व्यापारी के भाई ने बताया,

भाई साहब ने मास्क की जगह गमछा बांध रखा था. उनकी दुकान पर आकर SDM सदर ने फोर्स के साथ मारपीट की. उन्हें घसीटते हुए पुलिस की गाड़ी तक ले गए. इस दौरान जूलरी की दुकान खुली रही. कुछ लूटपाट हो जाता तो उसकी जिम्मेदारी कौन लेता. पुलिस की ओर से कहा गया है कि मास्क न लगाने की वजह से ये कार्रवाई हुई है. मास्क न लगाने की वजह से किसी को मारपीट दें, उसे उठा ले जाएं. उसका सामान लूट लें. ये क्या है? दुकान के अंदर 15 पुलिसवाले घुसे थे और मारपीट की. हमारे पास वीडियो है.

पुलिस प्रशासन ने ऐसा क्यों किया? इसके जवाब में उन्होंने बताया,

क्यों कर रहे हैं नहीं पता. किसी के कहने पर या पैसे लेकर कर रहे हैं, लेकिन उन्होंने जो किया है वो टारगेटेड है. हमारे बाबा का बनवाया हुआ आंख का अस्पताल है. 15 जनवरी को SDM सदर आजमगढ़ गौरव कुमार ने उसे डेमोलिश किया था. कुछ पैसे की डिमांड की थी. जिसे हम लोगों ने नहीं माना था. हालांकि इस मामले में हमने FIR नहीं कराई थी.

उन्होंने बताया कि भाई का मेडिकल हुआ है, उन्हें चोट लगी है. हम चाहते हैं कि SDM को सस्पेंड किया जाए.

इस घटना के बाद व्यापारी कोतवाली पहुंचे और विरोध प्रदर्शन किया. पुलिस का कहना है कि व्यापारियों के साथ कुछ अराजक तत्व भी आ गए थे, जिन्होंने तोड़फोड़ की. उन्हें हटाने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया.

आजमगढ़ के DM राजेश कुमार का कहना है,

मास्क के लिए चेकिंग चल रही थी, अधिकारियों का व्यापारियों से कुछ गतिरोध उत्पन्न हुआ. इसके विरोध में सभी लोग कोतवाली आए थे. बातचीत हो गई है. व्यापारियों ने कई मांगे की थी, लेकिन बातचीत के बाद मामला सेटल हो गया है. व्यापारियों के साथ कुछ अराजक तत्व आ गए थे. उन्होंने तोड़फोड़ करने की कोशिश की है, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी.

वहीं आज़मगढ़ के SP सुधीर सिंह ने भी डीएम साहब जैसा ही कुछ बयान दिया, उन्होंने कहा,

कोविड के जो नियम हैं उसका पालन कराया जा रहा है. वहां एक व्यापारी से विवाद हुआ. इसके बाद व्यापारी कोतवाली परिसर में आ गए थे. उनके साथ कुछ आरजक तत्व भी आ गए. उन्होंने नारेबाजी और हंगामा शुरू किया. व्यापारियों से अच्छे माहौल में बात हुई है. उन्होंने हमें शिकायत की है उनकी शिकायत ली गई है. और व्यापारी का मेडिकल कराया गया है, मामला सेटल हो गया है.

ट्विटर पर कई लोगों ने पुलिस की इस कार्रवाई को बर्बरता बताया है. उनका कहना है कि मास्क नहीं पहनने के लिए जुर्माना लगाया जाना चाहिए, ना कि इस तरह से लोगों को पीटा जाना चाहिए.


मुख्यमंत्री केजरीवाल ने स्कूली विद्यार्थी को बांटे थे मास्क, पर कोरोना से इसका नाता नहीं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अनिल देशमुख का महाराष्ट्र के गृह मंत्री पद से इस्तीफा, जानिए क्या कारण बताया है

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने उन पर गंभीर आरोप लगाए थे.

अमेरिकी संसद पर हमले के बारे में अब तक क्या-क्या पता चला है?

हमले में पुलिसवाले की मौत हो गई, हमलावर मारा गया.

यूपी पुलिस ने जिस हिस्ट्रीशीटर आबिद को गनर दिया है, वो है कौन?

आबिद पर आरोप है कि उसने अतीक के कहने पर अपनी बहन की हत्या करवाई थी.

मनसुख हिरेन मर्डर केस: NIA को मीठी नदी में कौन से अहम सुराग मिले हैं?

आरोपी सचिन वाझे को लेकर नदी पहुंची थी जांच एजेंसी.

फिल्मी अंदाज में अस्पताल से भागने वाला गैंगस्टर कुलदीप फज्जा एनकाउंटर में मारा गया!

पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर फेंक कुलदीप को भगा ले गए थे उसके साथी.

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत को गैरकानूनी दवाइयां देने के मामले में रिया चक्रवर्ती ने केस दर्ज करवाया था.

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

यूपी सरकार के बार-बार कहने पर भी मुख्तार को क्यों नहीं भेज रही थी पंजाब सरकार?

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

EMI टालने की छूट बढ़ाने और पूरा ब्याज माफ करने पर भी कोर्ट ने रुख साफ कर दिया है.

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

पिछले 24 घंटे में नवंबर 2020 के बाद अब सबसे ज़्यादा मामले आए हैं.

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

मनसुख हीरेन की मौत के बाद क्या सब चल रहा है?