Submit your post

Follow Us

आगराः पुलिस पिटाई से सफाईकर्मी की मौत के आरोप लगे, पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने नया ट्विस्ट डाल दिया

आगरा (Agra) के जगदीशपुर थाने के मालखाने से 25 लाख रुपए चोरी हो गए. चोरी के आरोप में अरुण वाल्मीकि (Arun Valmiki ) नाम के सफाई कर्मचारी को पुलिस ने अरेस्ट किया. मंगलवार 19 अक्टूबर की रात अरुण की मौत हो गई. परिजनों ने आरोप लगाया कि अरुण की मौत पुलिस की पिटाई से हुई. हालांकि अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अरुण की मौत का कारण कार्डियक अरेस्ट बताया गया है. शरीर पर चोट के भी कई निशान मिले हैं. इधर अरुण की मौत पर सियासी बवाल के बीच कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी और AAP के नेता संजय सिंह उनके परिवार से मिलने आगरा पहुंचे. आइए बताते हैं कि अब तक इस मामले में क्या-क्या हुआ.

पुलिस कस्टडी में हुई थी अरुण की मौत

आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक़, जगदीशपुर थाने के मालखाने से 25 लाख रुपए नगद और 2 पिस्तौल चोरी हुए थे. पुलिस जो सामान ज़ब्त करती है, उसे मालखाने में ही रखती है. पुलिस ने पिछले हफ्ते 24 लाख रुपए और 4 किलो सोना ज़ब्त किया था, जो मालखाने में रख दिया गया था. रविवार 17 अक्टूबर की सुबह मालखाने से चोरी का पता चला. अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज़ किया गया. थाने के एसएचओ समेत 6 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया.

आगरा एसएसपी मुनिराज ने आजतक को बताया कि थाने की CCTV फ़ुटेज के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया. सोमवार 18 अक्टूबर को थाने में सफ़ाई का काम करने वाले अरुण की गिरफ़्तारी हुई. पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में उसने अपना जुर्म भी क़बूल कर लिया. पुलिसकर्मी अरुण को लेकर 19 अक्टूबर को उसके घर पहुंचे. एसएसपी मुनिराज ने बताया कि अरुण के घर से पुलिस को 15 लाख रुपए बरामद हुए. बरामदगी के दौरान अरुण की तबीयत ख़राब हो गई. पुलिस अरुण को अस्पताल ले गई, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में क्या निकला?

अरुण की मौत के बाद परिजनों ने पुलिस पर सवाल उठाए और मारपीट के आरोप लगाए. हंगामे के बीच अरुण का पोस्टमार्टम कराया गया. उसकी रिपोर्ट की जानकारी देते हुए 20 अक्टूबर को आगरा के एसएसपी जी. मुनिराज ने बताया कि NHRC की गाइडलाइंस के मुताबिक डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया गया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण मायोकार्डियल इनफ्रैक्शन या हार्ट अटैक बताया गया है. आगे जांच जारी है. 

आजतक ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि अरुण के पैरों में तीन-चार चोट के निशान भी मिले हैं. लेकिन ये पुराने हैं. ये चोट कैसे लगी थीं, इसका भी पता नहीं चला है. रिपोर्ट के मुताबिक, अरुण से शरीर पर 7 नई चोटें भी मिलीं. ये सभी पैरों और कूल्हे पर हैं. शरीर के ऊपरी हिस्से में कोई चोट नहीं दिखी.

प्रियंका ने लगाए इलेक्टिक शॉक देने के आरोप

पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत पर यूपी की राजनीति गरमा गई. सपा से लेकर कांग्रेस तक ने घटना की निंदा की. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी सफाईकर्मी अरुण के परिजनों से मिलने आगरा के लिए निकलीं, लेकिन उन्हें रास्ते में ही रोक लिया गया. इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प भी हुई. हालांकि कुछ देर बाद प्रियंका को आगरा जाने की इज़ाजत दे दी गई.

बुधवार 20 अक्टूबर की रात करीब 11 बजे प्रियंका गांधी आगरा पहुंचीं. उन्होंने अरुण वाल्मीकि की पत्नी और मां से मुलाकात की. उसके बाद प्रियंका ने आरोप लगाते हुए कहा कि पत्नी के सामने अरुण को पीटा गया था. अरुण की अपने भाइयों से 2 बजे मुलाकात हुई थी, उस वक्त तक वो ठीक थे. लेकिन 2:30 बजे बताया गया कि उनकी मौत हो गई. प्रियंका ने कहा कि उनसे परिवार वालों ने कहा है कि अरुण को इलेक्टिक शॉक देकर मारा गया है.

Priyanka Gandhi Agra
कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने 20 अक्टूबर की रात को मृतक अरुण के परिवार से घर पर जाकर मुलाकात की.

प्रियंका ने आरोप लगाते हुए कहा,

“पोस्टमॉर्टम के दौरान परिवार का एक भी सदस्य मौजूद नहीं था. रिपोर्ट भी नहीं दी गई है. उनके भाई जिन्हें पढ़ना भी नहीं आता, उन्हें एक तहरीर दिखाई गई. उनसे इस पर साइन करवाए गए. उन्हें ये भी नहीं मालूम कि उसमें क्या लिखा था. इनके घर में तोड़फोड़ हुई है. पलंग तोड़ दिए गए हैं. कपड़े फेंके गए हैं. उनका सारा सामान निकाला हुआ है. अरुण के भाई ने बेटी की शादी के लिए अलमारी में जो रखा था, वो भी लेकर चले गए हैं.”

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सफाईकर्मी अरुण वाल्मीकि की पत्नी और परिवार के लिए 30 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और केस लड़ने के लिए पूरी कानूनी मदद की घोषणा भी है.

AAP और BSP ने कहा, 1 करोड़ मुआवजा मिले

प्रियंका के अलावा आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह भी 20 अक्टूबर की रात आगरा पहुंचे. उन्होंने अरुण के परिवार से मुलाकात के बाद कहा कि,

“यूपी की पुलिस जीवन रक्षा करने के बजाए हत्या करने में जुटी है. योगी आदित्यनाथ की सरकार “मारो और मुआवज़ा दो” की नीति पर चल रही है.

संजय सिंह ने मांग की कि अरुण की मौत के लिए जिम्मेदार पुलिस वालों की बर्खास्तगी हो, कोर्ट की निगरानी में जांच कराई जाए और परिवार को एक करोड़ रुपये मुआवज़ा और सरकारी नौकरी दी जाए. बसपा के नेताओं ने भी घटना की निंदा करते हुए मृतक के परिजनों को 1 करोड़ रुपए का मुआवज़ा और एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की है.


वीडियो – UP चुनाव: आगरा में महंगाई से परेशान मजदूर बोले- ‘इससे भला तो हम जहर खा लें’

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

इससे फेसबुक पर क्या कुछ फर्क पड़ने वाला है?

क्या मोदी सरकार ने अग्नि-5 मिसाइल की क्षमता घटा दी है?

क्या मोदी सरकार ने अग्नि-5 मिसाइल की क्षमता घटा दी है?

कांग्रेस सेवा दल के दावे पर लोग मजे क्यों लेने लगे?

एयर इंडिया को खरीदने वाले टाटा ग्रुप को अब भारत सरकार 302 करोड़ रुपए क्यों देगी?

एयर इंडिया को खरीदने वाले टाटा ग्रुप को अब भारत सरकार 302 करोड़ रुपए क्यों देगी?

एयर इंडिया ने मंत्रालयों और विभागों को उधार टिकट देना भी बंद कर दिया है.

पेगासस मामले पर SC ने बिठाई कमेटी, जानिए किस किस पहलू से होगी जासूसी की जांच

पेगासस मामले पर SC ने बिठाई कमेटी, जानिए किस किस पहलू से होगी जासूसी की जांच

केंद्र के जवाब से असहमत कोर्ट ने कहा, लोगों की विवेकहीन जासूसी मंजूर नहीं.