Submit your post

Follow Us

ज़मीन के नीचे से आवाज़ आ रही थी, गांववालों ने मिट्टी हटाई, तो सबका माथा चकरा गया!

उत्तर प्रदेश का सिद्धार्थनगर ज़िला. जोगिया कोतवाली के सोनौरा गांव का निपनिया टोला. यहां घर बनाने के लिए मिट्टी की खुदाई का काम चल रहा था. तभी कुछ लोगों ने एक बच्चे के रोने की आवाज़ सुनी. आवाज़ की दिशा पकड़ी. उधर गए, तो एक झाड़ी के पास से आवाज़ आ रही थी. और पास गए, तो आवाज़ मिट्टी के नीचे धंसी थी. एक जीते-जागते बच्चे के साथ. मिट्टी हटाई गई. गांववालों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी. बच्चे को जोगिया अस्पताल पहुंचाया गया. रिपोर्ट के मुताबिक, ये बच्चा तीन दिन पहले ईद के दिन मिला था. वीडियो अब सामने आया है.

गोद लेने को तैयार एक परिवार 

इस बच्चे को गोद लेने के लिए भी एक परिवार तैयार हो गया है. गांव के ही द्वारिका नाम के शख्स की पत्नी लक्ष्मी ने कहा कि उन्हें सूचना मिली कि बच्चा मिट्टी में दबा हुआ था. उसे लेकर आए. हम इस बच्चे को पालेंगे.

फिलहाल बच्चा स्वस्थ है

अस्पताल में बच्चे को साफ करके जांच की गई कि उसे कोई इन्फेक्शन तो नहीं हुआ है. जोगिया के मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर मानवेंद्र पाल ने कहा,

मामले की छानबीन पुलिस करेगी. फिलहाल बच्चा हमारे पास पहुंच गया है. बच्चे की जांच की. अभी वो स्वस्थ है, लेकिन दूध नहीं पी रहा है. हो सकता है मिट्टी में रहने की वजह से मिट्टी अंदर चली गई हो. दूध पिलाने की कोशिश कर रहे हैं. गांव के लोग उसे लेकर आए. कुछ लोग कह रहे हैं कि वो उसे पालना चाहते हैं. लिखित कार्यवाही के तहत बच्चा उन्हें सौंपा जाएगा, जब तक कि कोई विधिक कार्यवाही नहीं होती.

इसे लेकर पुलिस ने केस दर्ज किया है और जांच शुरू कर दी है.


उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में एक महिला को बिजली कनेक्शन लेने पर उसके ही परिवार के लोग पीटने लगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.