Submit your post

Follow Us

अंपायर के इस एक्सप्रेशन को 20 सेकेंड गौर से देखिए, ये तब की है जब धोनी रन आउट हुए थे

5
शेयर्स

# यूं होता तो क्या होता (चचा ग़ालिब)-

अगर ऐसा हो जाता, तो ये होता. वैसा हो जाता, तो ये हो होता. धोनी आउट नहीं होते, तो मैच के नतीजे कुछ और होते. बीच में कुछ रन बन गए होते, तो आज भारत सेमीफाइनल में होता…

कुल मिलाकर मैच खत्म होने के बाद लोग सोशल मीडिया पर तमाम तरह की बातें कर रहे हैं. और कहीं न कहीं ये मानवीय प्रवृति है कि नुकसान का आंकलन करते वक्त ऐसी बातें बोल ही देते हैं.

भारत के सेमीफाइनल वाले मैच में हो रही इन तमाम ‘अगर-मगर’ वाली बातों में धोनी का रन आउट सबसे ऊपर है. लोग ‘धोनी के रन आउट’ को मैच का विलेन बता रहे हैं. अगर धोनी रन आउट नहीं होते तो शायद मैच भारत जीत जाता. जब भारत को 10 बॉल में 25 रन चाहिए थे तब धोनी 2 रन के लिए भागे. लेकिन मार्टिन गप्टिल के सीधे थ्रो के कारण वे रन आउट हो गए-

अपने 350वें वनडे मैच में जब धोनी पवेलियन लौटे तब भारत को जीत के लिए 24 रन चाहिए थे. सीधे थ्रो पर धोनी के आउट होने पर पूरा देश शॉक्ड हो गया था. इस निर्णायक मौके पर जिस तरीके से गप्टिल ने थ्रो मारी सभी का मुंह खुला का खुला ही रह गया. चौंकने वालों की लिस्ट में स्क्वायर लेग पर खड़े अंपायर रिचर्ड केटलबरॉ भी थे.

लोग ट्वीट करके पूछने भी लगे कि क्या किसी ने अंपायर का रिएक्शन नोटिस किया. अंपायर रिचर्ड केटलबरॉ का रिएक्शन देखने वाला था. अंपायर का रिएक्शन सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

लोग ट्वीट करके कहने लगे-

धोनी के आउट होने पर अंपायर का रिएक्शन, यहां तक कि वे भी जानते है कि अब भारत नहीं जीत सकता

और हुआ भी कुछ ऐसा ही. धोनी के आउट होने के बाद बाकी के बचे 2 विकेट भी जल्दी गिर गए और टीम इंडिया की 18 रनों से हार हुई.


वीडियो- रवींद्र जडेजा के नाम पर संजय मांजरेकर को लपेट रहे माइकल वॉन मांगने लगे अनब्लॉक की दुआ

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Umpire Richard Kettleborough reaction when Dhoni run out in semifinal against New Zealand

टॉप खबर

एक महीने से छात्र धरने पर हैं, किसी को परवाह नहीं

ये खबर हर स्टूडेंट को पढ़नी चाहिए.

बजट में सरकार ने अमीरों पर बंपर टैक्स लगाया

पेट्रोल-डीज़ल पर एक रुपया अतिरिक्त लेगी सरकार.

राहुल गांधी के पत्र की चार ख़ास बातें, तीसरी वाली में सारे देश की दिलचस्पी है

आज राहुल गांधी ने आखिरकार इस्तीफा दे ही दिया.

आकाश विजयवर्गीय पर मोदी बहुत नाराज़ हुए, उतना ही जितना साध्वी प्रज्ञा पर हुए थे!

"अफ़सोस! दिल से माफ़ नहीं कर पाएंगे."

नुसरत जहां के खिलाफ़ जिस फतवे पर बवाल मचा, वैसा फ़तवा जारी ही नहीं हुआ

निखिल से शादी के बाद सिन्दूर-साड़ी में संसद पहुंची थीं नुसरत

क्या ज़ायरा ने इस्लाम के लिए फ़िल्म लाइन छोड़ दी?

जिन चीज़ों से रील लाइफ में लड़कर सुपर स्टार बनीं, निजी ज़िंदगी में वो लड़ाई ही छोड़ दी है.

मायावती ने गठबंधन क्या तोड़ा, खुद की लुटिया ही डुबो ली है

गठबंधन तोड़कर अखिलेश और माया चवन्नी भर सीटें भी नहीं जीत रहे हैं.

खट्टर सरकार रेपिस्ट बाबा की जेल से छुट्टी का समर्थन कर रही, लेकिन जानिए ऐसा होना संभव क्यूं नहीं

जेल से छुट्टी क्यों चाह रहा है बलात्कारी बाबा राम रहीम?

चमकी बुखार में जिनके बच्चे मरे, उन्होंने विरोध किया तो केस दर्ज हो गया

बिहार में एक दो नहीं पूरे 39 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है.

चमकी बुखार से पीड़ित परिवार से मिलने गए सांसद-विधायक को लोगों ने बंधक बना लिया

उधर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य और केंद्र सरकार को नोटिस भेज दिया है.